मैनहर्ट मामले में निगरानी में शिकायत दर्ज करें

रांची,१३सितंबर । झारखंड उच्च न्यायालय ने राजधानी रांची में सिवरेज-ड्रेनेज की व्यवस्था करने को लेकर परामर्शी नियुक्त करने के मामले में गड़बड ी के आरोप में भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष और पूर्व उपमुखयमंत्री रघुवर दास के खिलाफ दायर एक जनहित याचिका की सुनवाई के दौरान याचिकाकर्त्ता को निगरानी के महानिदेशक से मिलकर शिकायत दर्ज करने का निर्देश दिया है।
उच्च न्यायालय के मुखय न्यायाधीश न्यायमूर्ति भगवती प्रसाद और न्यायमूर्ति एनएन तिवारी की खंडपीठ ने मो. ताहिर द्वारा दायर याचिका परसुनवाई करते हुए याचिकाकर्त्ता को यह निर्देश दिया कि वे इस मामले में निगरानी के महानिदेशक से मिले और अपनी शिकायत दर्ज कराए और निगरानी के महानिदेशक तथ्यों के आधार पर कानून सम्मत कार्रवाई करें।
बताया गया है कि याचिकाकर्त्ता की ओर से कहा गया है कि मैनहर्ट को परामर्शी नियुक्त करने के मामले में रघुवर दास ने तत्कालीन नगर विकास रहते हुए इस टेंडर को देने में नियम-प्रक्रिया की अनदेखी की थी और निजी स्वार्थ के लिए मैनहर्ट को २१.४०करोड रुपए का भुगतान कर परामर्शी नियुक्त किया गया था। बताया गया है कि इसके पहले इसी काम के लिए ओआरजी मार्ग व एक अन्य कंपनी को ६.५करोड रुपए के भुगतान पर परामर्शी नियुक्त किया गया था,लेकिन बाद में रघुवर दास के कारण मैनहर्ट को परामर्शी नियुक्त कर दिया गया।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *