पूर्व विधायक छत्रुराम व शंकर चौधरी समेत अन्य की भाजपा में वापसी तय

रांची,29मई । प्रदेश भारतीय जनता पार्टी ने अब संगठनात्मक मजबूती की दिशा में आवश्यक पहल करने का निर्णय लिया है। इस क्रम में पार्टी छोड़ चुके पुराने नेताओं की वापसी की भी रणनीति बनायी गयी है।
पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने बताया कि पूर्व विधायक छत्र्ाुराम महतो और शंकर चौधरी की भाजपा में वापसी तय है। इन दोनों पूर्व विधायकों की इच्छा पर केंद्रीय नेतृत्व द्वारा भी सहमति जता दी गयी है और एक तिथि का निर्धारण कर इन नेताओं को वापस पार्टी में शामिल कर लिया जाएगा। बताया गया है कि शंकर चौधरी के भाजपा में वापस लौटने की घोषणा के बाद आज रामगढ़ में भी दर्जनों ऑजसू कार्यकर्त्ता भाजपा में शामिल हो गए। वहीं छत्र्ाुराम महतो को पिछले दिनों ही भाजपा में वापस शामिल हो जाना था, लेकिन भाजपा नेताओं की व्यवस्तता के कारण छत्र्ाुराम महतो का पार्टी में वापस होने का कार्यक्रम टल गया। फिलहाल शंकर चौधरी का बाबूलाल मरांडी के नेतृत्व वाले झारखंड विकास मोर्चा से मोह भंग हो चुका है। वहीं पिछली बार टिकट नहीं मिलने से नाराज होकर झारखंड मुक्ति मोर्चा में शामिल हो जाने वाले छत्र्ाुराम महतो भी अब झामुमो को अलविदा कहने का मन बना चुके है।
भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष दीपक प्रकाश ने बताया कि एक लंबे समय के बाद सांगठनिक ढांचे को दुरुस्त करने का प्रयास अब शुरु हो चुका है। उन्होंने बताया कि संगठन को मजबूत करने की चल रही कवायद का असर कुछ दिनों में दिखने लगेगा। उन्होंने जानकारी दी कि राज्य में 25में से 21 जिलों में संगठन चुनाव की प्रक्रिया पूरी कर ली गयी है और अब शेष बचे चार जिलों में भी यह प्रक्रिया पूरी कर ली जाएगी। दीपक प्रकाश ने कहा कि पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष नितिन गडकरी के दिशा-निर्देश पर संगठन को सु॰ढ़ करने के लिए कार्यकर्त्ताओं को गांव-गांव जाने का निर्देश दिया गया है। यही कारण है कि पिछले दिनों जब गडकरी रांची आएं थे, तो राज्य के सभी जिलों-प्रखंडों से कार्यकर्त्ताओं का हुजूम देखने को मिला था। उन्होंने दावा किया आने वाले कुछ दिनों में संगठन का स्वरुप पूरी तरह से बदला-बदला नजर आएगा।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *