सत्ता और जनता के बीच संगठन समन्वय का कार्य करेगाःडॉ रवीन्द्र

50 लाख सदस्य बनाना लक्ष्य
4रांची,19जनवरी।भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष डॉ रवीन्द्र राय ने कहा कि सत्ता और जनता के बीच  संगठन समन्वय का  कार्य करेगा।भाजपा संगठन ने सक्रिय भूमिका निभाने का निर्णय लिया है। इसका खाका कार्यसमिति की बैठक में तैयार कर लिया गया है। रवींद्र राय सोमवार को भाजपा कार्यालय के सामने कावेरी सभागार में भाजपा प्रदेश कार्यसमिति की बैठक के बाद आयोजित संवाददाता सम्मेलन में बोल रहे थे। उन्होंने कार्यसमिति की बैठक में लिये गये निर्णयों की जानकारी देते हुए बताया कि अगले दो महीने में 50 लाख सदस्य बनाने के साथ स्थायी6 राजनीति की जड़ को मजबूत करेंगे। 32 हजार मतदान केन्द्रो पर दो सौ सदस्य बनाने का लक्ष्य रखा गया है।
बैठक में चुनाव के पूर्व और बाद की स्थितियों की समीक्षा की गयी है। पिछले दो वर्षो में कार्यकर्ताओं ने जो अथक कार्य और प्रयास कर जनता के विश्वास को जितने का प्रयास किया है, कार्यसमिति ने उन हजारों कार्यकर्ताओं के प्रति आभार व्यक्त किया है। साथ ही जो नयी जिम्मेवारी मिली है उसके प्रति सर्तक रहने की बात भी कही गयी है। उन्होंने कहा कि चुनाव के दौरान सामाजिक विभेद पैदा करने की कोशिश की गयी थी, लेकिन जनता उन षडयंत्रों को खत्म कर मजबूत सरकार बनाने का काम किया है। जनता के इस निर्णय की सरहना की गयी है। सांसद रवींद्र राय ने कहा कि मौजूदा समय में कई दल अपनी-अपनी राजनीतिक दुकानदारी बंद होता देख राजनीतिक रोटी सेकने का प्रयास करेंगे। इससे हमे सर्तक रहने की ज६रत है, इसका ऐलान किया गया है।

निर्दलीयों का दबाव कम होना शुश संकेत
राज्य की राजनीति में निर्दलीयों का दबाव खत्म तो नहीं, लेकिन कम ज६र हुआ है। इसी प्रकार जो अलग झारखण्ड राज्य की मांग पर यह कहते थे कि अलग राज्य उनकी लाश पर बनेगा,उस दल का सफाया ही हो गया। यह राज्य के लिय शुभ संकेत है। उन्होंने बताया कि अगले दो महीने में 50 लाख सदस्य बनाने के साथ स्थायी राजनीति की जड़ को मजबूत करेंगे। 32 हजार मतदान केन्द्रो पर दो सौ सदस्य बनाने का लक्ष्य रखा गया है। उन्होंने कहा कि बैठक में पूर्व मुख्यमंत्री अर्जुन मुंडा का संबोधन हुआ है। राज्य को आगे ले जाने पर विश्वास व्यक्त किया गया है। वहीं मुख्यमंत्री रघुवर दास ने सत्ता सेवा का अचूक साधन बने, इसका विश्वास कार्यकर्ता को दिया है। कार्यसमिति की बैठक में जनता पर चर्चा हुई है।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *