प्रखंड स्तर पर महिला कोषांग का गठन होगाःसीएम

राज्य महिला आयोग की तर्ज पर कोषांग गठित होगा
2रांची,12मार्च। मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि राज्य स्तर पर गठित राज्य महिला आयोग की तर्ज पर प्रखण्ड स्तर पर महिला कोषांग का गठन किया जाएगा ताकि उनकी समस्याओं का निदान स्थानीय स्तर पर ही सम्भव हो सके। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में कार्य करने वाले औद्य्नोगिक कम्पनियों, सी0सी0एल0, बी0सी0एल0 एवं अन्य के मुनाफे का 2 प्रतिशत सी0एस0आर0 के तहत खर्च किए जाते हैं, इस राशि को राज्य सरकार महिलाओं के विकास संबंधित योजनाओं के लिए खर्च करेगी। उन्होंने कहा राज्य सरकार द्वारा स्वच्छ भारत कार्यक्रम के तहत राज्य के समस्त गांवो में शौचालय बनाने का निर्णय लिया गया है। शौचालय निर्माण के लिए प्रति शौचालय 12000 रुपये की राशि उपलब्ध करायी जायेगी। उन्होंने कहा सभी विधायकों को अपने विधानसभा क्षेत्र में शौचालय निर्माण के लिए 50 लाख रुपये आवंटित किए जायेंगे। महिलाएं इस दिशा में अत्यधिक कठिनाई झेलती है। वे स्वयं शौचालय निर्माण के स्थल का चयन करें और स्वच्छ भारत मिशन में सहयोग दें। उन्होंने कहा कि महिलाएं संस्कृति एवं समाजिक परंपरा का मुख्य आधार हैं। राज्य के विकास में महिलाओं की अहम भूमिका है। उन्हें समाज में शिक्षा का अलख जगाना होगा तभी समाज उन्नत होगा और राज्य विकसित होगा।मुख्यमंत्री ने उपरोक्त बातें आज स्थानीय धुर्वा स्थित गोलचक्कर मैदान में राज्य स्तरीय अर्न्तराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में उपस्थित जनसमूह को सम्बोधित करते हुए कही।
मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम स्थल पर पहुंची आदिवासी बहनों से कहा कि वे अपने गांवों के विकास कार्यो में अपनी सहभागिता दें। तभी सुदुरवर्ती क्षेत्रों का परिदृश्य बदलेगा। इस मौके पर झारखण्ड समाख्या सोसाईटी के महिलाओं द्वारा आयोजित कार्यक्रम में “संघर्षशील महिलाओं की जीवन गाथा“ नामक पुस्तिका का विमोचन किया गया। इस अवसर शिक्षा मंत्री नीरा यादव, शिक्षा सचिव अराधना पटनायक समेत 15 जिलों से आई झारखण्ड महिला सामाख्या सोसाईटी की महिलाएं उपस्थित थी।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *