जनता दरबार में समस्याओं के समाधान से सार्थकता बढ़ी-चंद्रप्रकाश

सीएम सचिवालय में जनता दरबार आयोजित
4रांची,25नवंबर। राज्य के जलसंसाधन और पेयजल स्वच्छता मंत्री चंदप्रकाश चौधरी ने कहा है कि जनता दरबार के माध्यम से लोगों की समस्याओं का समाधान होने से इसकी सार्थकता बढ़ी है और राज्य सरकार भी जनआकांक्षाओं पर खरा उतरने का हरसंभव प्रयास कर रही है। वे आज राजधानी रांची के मुख्यमंत्री सचिवालय में आयोजित जनता दरबार को संबोधित कर रहे थे। इस मौके पर श्रम, नियोजन राज पालिवार भी मौजूद थे। जनता दरबार में राजधानी रांची के अलावा राज्य भर के विभिन्न जिलों से 35 से अधिक फरियादी पहुंचे थे।
जनता दरबार में अधिकांश मामले पारिवारिक विवाद, भूमि विवाद, जमीन अतिक्रमण, पेंशन भुगतान में विलंब, पेयजल समस्या, डीप बोरिंग कराने और धीमी पुलिसिया कार्रवाई के मामले आये। रांची के हरमू निवासी सत्यनारायण पांडेय ने पेंशन भुगतान के लिए एनओसी देने में अनावश्यक विलंब का मामला रखा, वहीं लेस्लीगंज से आये विकास कुमार, मधुडीह के सुधीर कुमार, खूंटी के दिगबंर सिंह, किशुन कुमार, रांची ऐदलहातु के वायलट कच्छप, कौशल्या देवी, शीला देवी समेत अन्य फरियादियों ने अपनी-अपनी समस्याओं को सरकार के समक्ष रखा।
पलामू से आये विमल कुमार सिंह ने पेयजल समस्या से अवगत कराया, वहीं बुंडू के राजेश कुमार शर्मा ने बताया कि उनसे नकद राशि लूट ली गयी, इस संबंध में प्राथमिकी भी दर्ज करायी गयी है, लेकिन समुचित कार्रवाई नहीं की जा रही है। मंत्री चंद्रप्रकाश चौधरी ने इस संबंध में पुलिस अधीक्षक से बात की और त्वरित कार्रवाई का निर्देश दिया। जनता दरबार में मौजूद मंत्र्ाियों ने विकास से संबंधित समस्याओं के लिए संबंधित जिलों के उपायुक्तों से और विधि-व्यवस्था से जुड़े प्रश्नों पर संबंधित जिलों के पुलिस अधीक्षक से दूरभाष पर बात कर आवश्यक दिशा-निर्देश दिया। जनता दरबार में शारीरिक चुनौती झेल रहे तोरपा के दिगंबर सिंह ने अपने घर की मरम्मत के लिए मदद की गुहार लगायी। उन्होंने बताया कि उन्हें इंदिरा आवास पहले ही मिला है, लेकिन वह जर्जर हो चुका है। इस पर मंत्रीद्वय ने कहा कि वे व्यक्तिगत रुप से उनकी मदद करें। सरकार की ओर से मदद का कोई प्रावधान तो नहीं है, लेकिन मानवीय आधार पर दोनों मंत्र्ाियों ने श्री दिगंबर सिंह को सहयोग का आश्वासन दिया। खलारी निवासी विकास कुमार ने अपने पिता की उग्रवादियों द्वारा हत्या कर किये जाने की जानकारी दी। उन्होंने अनुकंपा पर नियोजन की मांग की। इस पर उपस्थित मंत्रीगण ने गृह सचिव से फोन पर बात की। मंत्री श्री चौधरी ने गृह सचिव से इस मामले की शीघ्र जांच कर भुक्तभोगी को नियमानुसार नियोजित करने के विषय में निर्णय लेने को कहा।
रांची के लोअर बाजार निवासी राजेश शर्मा के साथ 4.11.2015 को हुई लूट का मामला भी आया। राजेश शर्मा ने बताया कि उनसे बड़ी रकम लूट ली गयी थी, लेकिन अभी तक न तो अपराधी पकड़े गये हैं और न ही उन्हें अब तक की जांच से संतोष है। इस पर आरक्षी अधीक्षक को मामले की गंभीरता से जांच कर अपराधियों की धर-पकड़ का आदेश दिया गया। जनता दरबार में भूमि विवाद, फिरौती, पारिवारिक विवाद, रोजगार, छात्रवृत्ति आदि से जुड़ी कुल 35 शिकायतें आयीं। सभी पर संज्ञान लेते हुए संबंधित विभागों को मामला अग्रसारित किया गया है। मंत्रीगण ने कहा कि इन सभी मामलों का निष्पादन एक निश्चित समय सीमा के भीतर हो जाना चाहिए।जनता दरबार मंत्री चंद्रप्रकाश चौधरी एवं श्रम, नियोजन, प्रशिक्षण तथा कौशल विकास मंत्री श्री राज पालिवार ने आम लोगों की शिकायतों-समस्याओं को सुनकर उनके समाधान की दिशा में उचित कार्रवाई का निर्देश संबंधित विभागों के अधिकारियों को दिया। जनता दरबार में कई मामलों का तत्काल समाधान भी किया गया।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *