शराब की बोतल पर अंकित कीमत से अधिक वसूलने पर होगी कड़ी कार्रवाई-सत्येंद्र सिंह

अब शराब बंदोबस्ती के लिए ऑनलाइन आवेदन, सभी बोतल पर लगेंगे ई.ए.एल स्टीकर चिपकाना अनिवार्य
रांची,5फरवरी। राज्य के उत्पाद एवं मद्य निषेध विभाग के सचिव सत्येंद्र सिंह ने शराब की बोतल पर अंकित कीमत से अधिक वसूलने वाले दुकानदारों पर कड़ी कार्रवाई करने की बात कही है। उन्होंने बताया कि चालू वित्तीय वर्ष में जनवरी महीने तक राजस्व लक्ष्य 1200 करोड़ रूपये के विरूद्ध 671.45 करोड़ रूपये की वसूली की जा चुकी है और अगले दो महीने में निर्धारित लक्ष्य को पूरा कर लिया जाएगा।
उन्होंने बताया कि अवैध शराब की बिक्री पर अंकुश लगाने के लिए विभाग की ओर से 1919 में बनी नियमावली में संशोधन किया गया है, जिसके तहत दंड और सजा के प्रावधान में बढ़ोत्तरी की गयी है। इसके अलावा अवैध शराब बिक्री पर अंकुश लगाने के लिए जिले के उपायुक्त की अध्यक्षता में टास्क फोर्स का भी गठन किया गया है और प्रत्येक शुक्रवार को विभाग की ओर से वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से इसकी समीक्षा की जाती है। उन्होंने यह भी जानकारी दी कि इस वर्ष से खुदरा उत्पाद दुकानों की बंदोबस्ती के आवेदन ऑनलाइन प्राप्त किये जाएंगे। उन्होंने बताया कि दिसंबर 2015 तक 8390 अभियोग दर्ज किये गये हैं, जिसमें 137 व्यक्तियों को जेल भेजा गया है और संधान शुल्क के रूप में 1.38करोड़ रूपये की राशि वसूली गयी।
विभागीय सचिव ने बताया कि अवैध शराब एवं चौर्य व्यापार पर प्रभावकारी नियंत्रण के लिए नई नीति के तहत एक विशेष प्रकार का स्टीकर (ई.ए.एल) बोतलों पर चिकराया जाएगा और 1 फरवरी से इसे अनिवार्य कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि झारखंड राज्य बिवरेज कॉरपोरेशन लि. से विभाग को चालू वर्ष में अब तक 66 करोड़ राजस्व की प्राप्ति हुई है और इस वर्ष उत्पाद भवन बनाने के लिए 36.98 करोड़ खर्च किया जा रहा है। इसके अलावा विभाग में निरीक्षक उत्पाद के 8 पद, अवर निरीक्षक उत्पाद के 55, सहायक अवर निरीक्षक उत्पाद के 47, उत्पाद सिपाही के 436 एवं उत्पाद लिपिक के 17 पदों पर नियुक्ति के लिए झारखंड लोक सेवा आयोग और राज्य कर्मचारी चयन आयोग की ओर से आवश्यक प्रक्रिया पूरी की जा रही है और नियुक्ति प्रक्रिया अंतिम चरण में है। उन्होंने बताया कि मदिरा के विनिर्माण, वितरण एवं थोक बिक्री से संबंधित सभी अनुज्ञप्ति प्राप्त प्रतिष्ठानों में सतत अनुश्रवण एवं पर्यवेक्षण के लिए निमित्त सीसीटीवी का लगाया जाना अनिवार्य कर दिया गया है और अगले चरण में दुकानों में भी सीसीटीवी कैमरे की व्यवस्था की जाएगी।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *