आर्थिक नाकेबंदी के दौरान 125 स्थानों पर घेराबंदी की बनायी गयी रणनीति

11 व 12 जून को झाविमो के आर्थिक नाकेबंदी को सफल बनाने को लेकर बैठक
2रांची,2जून। झारखंड विकास मोर्चा ने स्थानीयता, पिछड़ों को आरक्षण समेत अन्य मुद्दों को लेकेर आहूत 11 और 12 जून को आर्थिक नाकेबंदी की घोषणा की है और आर्थिक नाकेबंदी को सफल बनाने को लेकर आज पार्टी की केंद्रीय कार्यसमिति की बैठक हुई।
झाविमो प्रमुख बाबूलाल मरांडी की अध्यक्षता में रांची में हुई बैठक में 11 व 12 जून को आर्थिक नाकेबंदी को लेकर राज्यभर से आए पार्टी पदाधिकारियों को आंदोलन को सफल बनाने के लिए टास्क दिया गया है। इस पर चर्चा करते हुए जेवीएम नेता प्रदीप यादव ने कहा कि आंदोलन में राज्यभर से दस लाख लोग शामिल होंगे। उन्होंने दावा किया कि आर्थिक नाकेबंदी के दौरान एक छटाक खनिज संपदा राज्य से बाहर नहीं दिया जाएगा। स्थानीय नीति के नाम पर राज्य सरकार ने लोगों को ठगा है जिसे बर्दास्त नहीं किया जाएगा।
प्रदीप यादव ने बताया कि आर्थिक नाकेबंदी के दौरान राज्य भर के 125 स्थानों पर घेराबंदी की जाएगी और इसके लिए पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को जिम्मेवारी सौंपी गयी है, उनके नेतृत्व में झाविमो कार्यकर्त्ता नाकेबंदी को सफल बनाएंगे। उन्होंने यह भी साफ किया कि आर्थिक नाकेबंदी के दौरान यात्री वाहनों और आम लोगों को कोई कठिनाई नहीं होगी, सिर्फ माल वाहक वाहनों को रोका जाएगा। उन्होंने इस दो दिनों के दौरान राज्य में खनन कार्य से जुड़े लोगों से भी सहयोग की अपील करते हुए कहा कि वे इन दो दिनों में अपने वाहनों को बाहर नहीं भेजें। प्रदीप यादव ने यह भी कहा कि आर्थिक नाकेबंदी को लेकर विपक्ष के अन्य दलों के अलावा भाजपा विधायकों व नेताओं से भी सहयोग का आग्रह किया जाएगा, क्योंकि इन मुद्दों को लेकर भाजपा के भी कई विधायक उनका समर्थन करते है।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *