डेंगू-चिकनगुनिया को लेकर दिशा-निर्देश जारी

रांची,17सितंबर। दिल्ली समेत देश के अन्य हिस्सों में डेंगू व चिकनगुनिया से हो रही निरंतर मौत के बाद राज्य के अलग-अलग जिलों में इन बीमारियों से लोगों के पीड़ित होने की सूचना मिल रही है। इसे देखते हुए स्वास्थ्य विभाग की ओर से सभी सिविल सर्जनों को अलर्ट जारी करते हुए विशेष दिशा-निर्देश जारी किये गये है।
राजधानी रांची स्थित राजेंद्र आयुर्विज्ञान संस्थान, रिम्स में गिरिडीह व कोडरमा समेत अन्य जिलों से चार डेंगू मरीजों को भर्त्ती कराया गया है। इससे पहले चतरा जिले के दो सगे भाईयों को भी डेंगू होने के बाद रिम्स में भर्त्ती कराया गया है।बताया गया है कि रिम्स में इस साल 74 डेंगू पीड़ित मरीज पहुंच चुके है, जबकि जमशेदपुर के एमजीएम व धनबाद के पीएमसीएच समेत अन्य निजी अस्पतालों में भी डेंगू तथा चिकनगुनिया के शिकार लोगां का इलाज चल रहा है।
रिम्स के वरिष्ठ चिकित्सक डॉ. जे.जे. मित्रा ने डेंगू और सभी मच्छर जनित रोगां की रोकथाम के लिए मच्छर पनपने वाली जगह पर दवा छिड़काव के साथ कई अन्य सलाह लोगों को दी है। उन्होंने बताया कि तेज बुखार के साथ बदन दर्द और तीसरे दिन शरीर पर चकते निशान दिखने पर डेंगू का खतरा, तेज बुखार के साथ जोड़ों में दर्द होने पर चिकनगुनिया के लक्षण होते है। उन्हांने बताया कि डेंगू के बढ़ते मामले को देखते लोगों को सावधानी बरतनी चाहिए और अपने घर के आसपास की साफ-सफाई पर विशेष ध्यान देना चाहिए।
स्वास्थ्य विभाग के संयुक्त सचिव ने भी वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से पिछले दिनों सभी सिविल सर्जनों से डेंगू व चिकनगुनिया तथा मलेरिया से निपटने के लिए की गयी तैयारियों का जायजा लिया और आवश्यक दिशा-निर्देश दिया।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *