संपूर्ण विपक्ष का 25 को झारखंड बंद की घोषणा

रांची,23नवंबर। सीएनटी-एसपीटी संशोधन एक्ट पारित होने के विरोध में विपक्षी दलों ने 25 नवंबर को एकदिवसीय झारखंड बंद का ऐलान किया है। झामुमो के कार्यकारी अध्यक्ष और नेता प्रतिपक्ष हेमंत सोरेन के आवास पर आज विपक्षी दलों की संयुक्त बैठक में इस आशय का निर्णय लिया गया।
हेमंत सोरेन ने आज के दिन को झारखंड के लिए काला दिन करार देते हुए कहा कि जिस तरह से जनभावना को ठेस पहुंचाने का प्रयास किया गया है,उसके खिलाफ 25 नवंबर को झारखंड बंद का निर्णय लिया गया है। उन्होंने कहा कि सभी दल मिलकर झारखंड बंद का आह्नान करते है, इसमें झाविमो, कांग्रेस, राजद, जदयू, झामुमो, वाम दल समेत अन्य संगठन के लोग शमिल होंगे। उन्होंने 2 दिसंबर को झारखंड आदिवासी संघर्ष मोर्चा द्वारा आहूत झारखंड बंद को वापस लेने का आग्रह करते हुए कहा कि अब यह मुद्दा पूरे राज्य का विषय बन गया है और सभी को एक प्लेटफार्म पर आकर संघर्ष करने की जरुरत है। उन्होंने कहा कि बंद से आवश्यक सेवाओं को मुक्त रखा जाएगा। उन्होंने कहा कि इस दौरान विपक्षी दल अपने-अपने कार्यक्रम को जारी रखेंगे, झामुमो की ओर से भी अभी इसके विरोध में धरना और पुतला दहन का कार्यक्रम चलाया जा रहा है, यह चलता रहेगा।
इस मौके पर झाविमो प्रमुख और पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी तथा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सुखदेव भगत के अलावा राजद, जदयू व वामदल के नेता मौजूद थे।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *