डिजिटाईज्ड लैंड रिकार्ड की त्रुटियों के निराकरण के लिए शिविर शुरु

15 दिसंबर तक चलेगा अभियान, एक दिन में होगा त्रुटियों का निराकरण
रांची,30नवंबर। राजस्व निबंधन एवं भूमि सुधार विभाग के निदेशक राजीव रंजन ने कहा है कि राज्य भर में डीआईएलआरएमपी योजनान्तर्गत डिजिटाईज्ड लैंड रिकार्ड में त्रुटियों के निराकरण के लिए विभिन्न प्रखंडों में कैंप के आयोजन प्रारंभ किया जा चुका है। उन्होंने कहा कि डिजिटाईज्ड लैंड रिकॉर्ड वाले अंचलों के दस्तावेजों में मिल रही त्रुटियों की शिकायत को दूर करने के लिये विभाग द्वारा त्रुटि सुधार अभियान चलाया गया है, जो आज से दो सप्ताह तक चलेगा।
विभागीय स्तर पर निर्देश दिया गया कि प्रत्येक अंचल मुख्यालय में शिविर का आयोजन किया जायेगा जिसमें राजस्व कर्मचारी एवं अंचल के अन्य कर्मियों की सहायता ली जा रही है। डाटा संबंधी त्रुटियों के संबंध में जनता की आ रही शिकायतों को संबंधित हल्का कर्मचारी द्वारा प्राप्त किया जायेगा तथा कर्मचारी अपने पास उपलब्ध भौतिक भू-दस्तावेजों से मिलान कर अंचलाधिकारी को तुरंत सौंपेंगे तथा अंचलाधिकरी अपने लॉगिन पासवर्ड के माध्यम से त्रुटियों में सुधार करेंगे।
विभाग ने अंचलाधिकारियों को निर्देश दिया है कि रैयत व नागरिक अंचल कार्यालय में अपनी शिकायत आवेदन के माध्यम से देंगे और आवेदन में त्रृटियों की स्पष्टता के साथ जिक्र करेंगे। साथ ही हल्कावार आवेदन लेने के लिये डेस्क स्थापित करेंगे तथा प्रत्येक डेस्क पर अंचल कार्यालय का कोई सहायक/लिपिक बैठे रहेंगे। आवेदन प्राप्त होने के बाद हल्का कर्मचारी त्रृब्टियों का मिलान करेंगे तथा अंचलाधिकारी को प्रेषित करेंगे। साथ ही अंचलाधिकारी हल्का कर्मचारी से प्राप्त दस्तावेजों में संशोधन की प्रक्रिया अपने लॉग इन पासवर्ड से कर सकेंगें। शिविर की सफलता के लिये उपायुक्त व अपर समाहर्ता अपने स्तर से प्रत्येक दिन अनुश्रवण सुनिश्चित करेंगे।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *