6 के बाद रखी जायेगी निलाम्बर- पिताम्बर यूनिवर्सिटी भवन की आधारशिला – मुख्यमंत्री

लातेहार में प्रमंडल स्तरीय बजट पूर्व संगोष्ठी में सरकार की मंशा से लोगों को अवगत कराया
लातेहार,1दिंसबर। मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि सरकार चाहती है कि 2017-18 का बजट जनता का बजट बने, जनता के अनुरुप और राज्य के विकास हेतु बने। इसी के तहत बजट पूर्व संगोष्ठी का आयोजन किया जा रहा है। इस संगोष्ठी के जरिये राज्य सरकार ग्रामीण झारखण्ड के विकास में ग्रामीण जनता की सोच को जानना चाहती है। आपके विचारों को समाहित करते हुए बजट में परिलक्षित किया जायेगा क्योंकि केंद्र सरकार और राज्य सरकार का मुख्य लक्ष्य है गरीब, किसान और गांव। राज्य की जनता में विकास की भूख जगी है और सभी समस्याओं का निदान मात्र विकास है। वे आज लातेहार स्थित पुलिस लाइन में आयोजित प्रमंडल स्तरीय बजट पूर्व संगोष्ठी में बोल रहे थे।
मुख्यमंत्री ने कहा कि गरीब के हित में जब भी कानून में सरलीकरण के लिए राज्य सरकार पक्षधर है, क्योंकि समाज के अंतिम व्यक्ति तक लाभ पहुंचाना और उनके चेहरे पर मुस्कुराहट लाना राज्य सरकार की प्राथमिकता है और कानून गरीब के विकास में बाधक नहीं होना चाहिए। पलामू में 6 दिसंबर के बाद नीलाम्बर- पिताम्बर यूनिवर्सिटी भवन की स्थापना हेतु आधारशिला रखी जायेगी। दो साल के अंदर राज्य के सभी जिलों में नर्सिंग कॉलेज की स्थापना की जायेगी। राज्य सरकार गरीबी रेखा से नीचे जीवन बसर करने वालों को 4 लाख रुपए मुर्गी पालन एवं अंडा उत्पादन हेतु प्रेरित करना है। उन्हें अंडा बेचने हेतु बाजार भी राज्य सरकार उपलब्ध करायेगी। बजट में इस योजना को क्रियान्वित करने के लिए उपबंध किया जा रहा है। राज्य सरकार को गरीबी रेखा से नीचे जीवन बसर कर रहे लोगों की संख्या घटानी है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य के किसानों को कृषि हेतु उपकरण अब कृषि उपकरण बैंक से प्राप्त होगा। किसी भी किसान को व्यक्तिगत तौर पर उपकरण राज्य सरकार उपलब्ध नहीं करायेगी। इस बैंक का संचालन गांव के युवक और युवतियां करेंगी जिससे रोजगार का श्रृजन भी होगा। सखी मंडल की महिलाओं को झारक्राफट से जोड़ कर कंबल, चादर, साड़ी समेत अन्य वस्तुओं के निर्माण हेतु प्रशिक्षण दिया जायेगा क्योंकि आधी आबादी के सहयोग के बगैर राज्य के विकास की परिकल्पना व्यर्थ है। मुख्यमंत्री ने कहा कि आजादी के 70 वर्ष बाद भी विकास को हम तरस रहें हैं क्यांकि आजादी के बाद सिर्फ बड़े उद्य्नोगों की स्थापना हुई। अन्य क्षेत्रों को दरकिनार किया गया। लेकिन राज्य सरकार ऐसा नहीं करेगी उद्य्नोग के साथ साथ पर्यटन व अन्य रोजगार उन्मुखी उद्य्नोगों को बढ़ावा दिया जायेगा। इससे हम राज्य के समग्र विकास की रेखा खींच सकेंगे। राज्य में निर्यात पॉलिशी का निर्माण होगा ताकि यहां से विदेश जानेवाले उत्पादों का सही मूल्य किसानों को प्राप्त हो सके। श्री दास ने कहा कि राजनीतिक दल जनता को गुमराह करने का कार्य नहीं करें। झारखण्ड के विकास हेतु सभी को कदम से कदम मिला कर चलने की जरुरत है। सरकार की शक्ति और जनशक्ति अगर मिलकर कार्य करेगी तो राज्य के तीव्र विकास को कोई नहीं रोक सकता।
मुख्यमंत्री ने पलामू प्रमंडल के लोगों में सुरक्षा का भाव उत्पन्न करने के लिए तीनों जिलों के उपायुक्त और पुलिस अधीक्षक को बधाई दी और कहा कि वे इसी तरह कार्य करते हुए लोगों को भयमुक्त वातावरण उपलब्ध कराये।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *