बजट सत्र को लेकर पक्ष-विपक्ष ने शुरु की तैयारी

रांची,14जनवरी। झारखंड विधानसभा का बजट-सत्र आगामी 17 जनवरी से शुरु हो रहा है। सात फरवरी तक चलने वाले इस सत्र के दौरान कुल 15 बैठकें होंगी। सत्र के पहले दिन सत्रह जनवरी को राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू सदस्यों को संबोधित करेंगी। निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार वर्ष 2017-18 का बजट 23 जनवरी को प्रस्तुत किया जाएगा। इस बीच सत्र को सुचारु तरीके से चलाने क े लिए राज्य के संसदीय कार्य मंत्री सरयू राय ने विधानसभा अध्यक्ष से आवश्यक पहल करने का अनुरोध किया है। सभाध्यक्ष को लिखे पत्र में श्री राय ने कहा है कि बजट सत्र से पूर्व वे मुख्यमंत्री और विपक्ष के नेता से विचार-विमर्श कर सकते हैं ताकि बजट सत्र को समुचित तरीके से चलाया जा सके। संसदीय कार्यमंत्री ने प्रमुख दलों के नेताओं के साथ भी आम सहमति के लिए बैठक बुलाए जाने का आग्रह किया है।
उधर प्रमुख विपक्षी दल झारखंड मुक्ति मोर्चा ने संकेत दिया है कि उनकी पार्टी अन्य दलों के साथ मिलकर सीएनटी-एसपीटी कानून में संशोधन जैसे ज्वलंत मुद्दे को सदन में उठाना चाहेगी। पार्टी के वरिष्ठ नेता और विधायक स्टीफन मरांडी ने कहा कि पार्टी अपनी रणनीति तय करने के लिए शीघ्र ही विधायक दल की बैठक बुलाएगी।
उधर कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि सत्तारुढ़ गठबंधन की ओर से बजट सत्र के बेहतर संचालन के लिए कोई पहल नहीं की गयी है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष और विधायक सुखदेव भगत ने कहा कि उनकी पार्टी सदन की कार्यवाही सामान्यतौर पर जारी रखने के पक्ष में है। श्री भगत ने संकेत दिया कि सीएनटी-एसपीटी कानून में संशोधन और राज्य में गिरती कानून व्यवस्था की स्थिति जैसे मुद्दों को पार्टी सदन में उठाना चाहेगी।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *