बच्चा चोरी के अफवाह के पीछे राज्य विरोधी शक्तियांःसीएम

2500 सहायक पुलिस की बहाली की प्रक्रिया अगस्त तक होगी पूरी
रांची,31मई। मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि विकास विरोधी शक्तियां राज्य में कानून-व्यवस्था को भंग करने के प्रयास में लगी हुई हैं। बच्चा चोरी के अफवाह आदि घटनाओं के पीछे राज्य विरोधी शक्तियां काम कर रहीं हैं। हमारे निर्दोष नागरिक मारे जा रहे हैं। इसे कतई बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। ऐसे तत्वों पर कड़ी कार्रवाई करें। कितना भी बड़ा चेहरा हो, कार्रवाई करने से न हिचकें। उन्होंने कहा कि राज्य में अमन-शांति कायम रखने के लिए सरकार हर संभव काम करेगी। अमन-शांति भंग होने की स्थिति में गरीब व्यक्ति सबसे ज्यादा प्रभावित होता है। वे आज झारखंड मंत्रालय में गृह, कारा व आपदा प्रबंधन विभाग के कार्यों की समीक्षा के दौरान अधिकारियों को निर्देश दे रहे थे।
मुख्यमंत्री ने कहा कि केंद्रीय औद्य्नोगिक सुरक्षा बल की तर्ज पर राज्य औद्य्नोगिक सुरक्षा बल का गठन किया गया है। इसमें राज्य के ज्यादा से ज्यादा युवक-युवतियों को भर्ती किया जायेगा। इससे राज्य के औद्य्नोगिक इकाईयों को न केवल सुरक्षा मिलेगी, बेरोजगार युवक-युवतियों को भी रोजगार मिल सकेगा। उन्होंने कहा कि स्मार्ट थानों में स्मार्ट पुलिस भी रहे, इसे सुनिश्चित करें। लोगों से बात करने, ऑनलाइन एफ0आइ0आर0 आदि के तौर तरीकों का प्रशिक्षण दिलाया जाये। अनुकंपा के मामलों का निपटारा जल्द करने का भी निदेश मुख्यमंत्री ने दिया। उन्होंने निर्देश दिया कि किसी प्रकार की सूचना मिलने पर निश्चित अवधि में पुलिस वाहन स्थल पर पहुंच जाये, इसे सुनिश्चित करें साथ ही जिम्मेदारी भी तय करें। राज्य में होनेवाले ऑर्गेनाइज क्राइम पर नियंत्रण के लिए चार्जशीट दायर करने के काम में तेजी लाये। सजा दिलाने की दर बढ़े, इस पर ठोस काम करें। अनुसंधान में तेजी रखे। उन्होंने डी0आइ0जी0 और एस0पी0 की भी जिम्मेदारी तय करने का निर्देश दिया। एस0पी0 रोजाना तीन-चार थाना विजीट करें, इसे निर्धारित करें और इसकी रिपोर्ट मंगायें।
बैठक में अधिकारियों ने मुख्यमंत्री को जानकारी दी कि राज्य में 2500 सहायक पुलिस की बहाली की प्रक्रिया अगस्त तक पूरी कर ली जायेगी। इस वर्ष रांची में सी0सी0टी0वी0 लगा दी जायेगी। जमशेदपुर और देवघर में भी सी0सी0टी0वी0 सर्विलांस के लिए डी0पी0आर0 तैयार किया जा रहा है। डायल 100 से जुलाई तक सभी जिलों को जोड़ दिया जायेगा। इसके साथ ही हाइवे पेट्रोलिंग व जिला कंट्रोल वाहन को इससे जोड़ा जायेगा। साथ ही राज्य में आपदा प्रबंधन के लिए स्टेट डिजास्टर रिलिफ फोर्स के गठन के लिए प्रक्रिया चल रही है।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *