जमीन खरीद-बिक्री में फर्जीवाड़ा पर लगा अंकुशःबाउरी

रांची,10जुलाई।राज्य के राजस्व, निबंधन एवं भूमि सुधार मंत्री बाउरी ने कहा है कि सूबे में जमीन की खरीद-बिक्री में फर्जीवाड़ा पर अंकुश लगाने के लिए सरकार की ओर से कई कदम उठये गये है। उन्होंने बताया कि भूमि व संपत्ति के विक्रय विलेखों के निबंधन के लिए अब आधार नंबर और पैन कार्ड अनिवार्य कर दिया गया है। इसके अलावा सभी अंचलों को डिजिटाईजेशन के कार्य को पूरा किया जा रहा है, ऑनलाइन म्यूटेशन और लगान की व्यवस्था की गयी है। बिहार से करीब 75हजार नक्शे प्राप्त हो चुके है और प्रिटिंग प्रेस की स्थापना की कार्रवाई की जा रही है। बाउरी आज रांची में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।
उन्होंने बताया कि टाना भगत को मुख्य धारा में लाने एवं उनके सर्वांगीण विकास के लिए टाना भगत विकास प्राधिकार का गठन किया गया है जसके तहत वर्तमान वित्तीय वर्ष में 10 करोड़ रुपये की राशि का बजट उपबंध किया गया है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने महिलाओं के पक्ष में निष्पादित पचास लाख रुपये मूल्य तक की भूमि संपत्ति के विक्रय विलेखों पर (मात्र एक दस्तावेज में) 1 रुपये टोकन राशि के रुप में मुद्रांक शुल्क लेकर एवं निबंधन शुल्क में पूर्ण विमुक्ति दी गयी है। यह सुविधा सिर्फ झारखण्ड में उपलब्ध है। उन्होंने कहा कि अब मानकी को 3000 रुपये, मुण्डा/ग्राम प्रधान को 2000 रुपये एवं डाकुवा को 1000 रुपये प्रतिमाह का सम्मान राशि दिया जायेगा । उन्होंने कहा कि राज्य के विकास के लिए विभाग ने देवघर हवा अड्डा विस्तारीकरण परियोजना के तहत 437.70 एकड़ रैयती भूमि, 101.93 एकड़ सरकारी भूमि एवं 43.09 एकड़ गोचर भूमि हस्तातरित कर दी गयी है। साहेबगंज में बनने वाले गंगा पुल परियोजना के लिए 34.21 एकड़ सरकारी भूमि एवं 103.73 एकड़ रैयती भूमि को अधिग्रहित कर हस्तांतरण का कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि राज्य में मेडिकल कॉलेज की स्थापना हेतु विभाग ने हजारीबाग, दुमका और पलामू में 25-25 एकड़ भूमि उपलब्ध करवा दी है।
श्री बाउरी ने कहा कि राजस्व प्रशासन के सु॰ढ़ीकरण एवं जनसुविधाओं के ॰ष्टिकोण से झारखण्ड राज्य के अन्तर्गत 20 नए अंचलों का सृजन एवं इनके लिए आवश्यक पदों का सृजन किया गया है। रांची जिलान्तर्गत कांके अंचल में सम्मलित कुल पांच पंचायत- कमड़े, सुंडील, सिमलियो, फुटकलटोली एवं चटकपुर पंचायत में स्थित कुल 11 राजस्व गांव ॰ कमड़े, दहीसोत, संडील, धन सोसो, नवासोसो, सिमलिया, फुटकलटोली, पिर्रा तिलता, झिरी एवं चटकपुर गांव को हल्का संख्या – 5 के रुप में रातू अंचल में सम्मलित किया गया है।

बड़ा तालाब में स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा सितंबर तक
युवा गतिविधि योजना के तहत रांची के बड़ा तालाब के मध्य में 16 करोड़ की लागत से स्वामी विवेकानन्द की 33 फीट प्रतिमा एवं पुल निर्माण का कार्य प्रक्रियाधीन है, जिसे सितम्बर 2017 तक पूर्ण कर लिया जायेगा। झारखण्ड के उभरते हुए खेल प्रतिभाओं को अन्तरराष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिताओं को ध्यान में रखते हुए उच्च कोटि का प्रशिक्षण उपलब्ध कराने के लिए रांची में सेंटर ऑफ एक्सलेन्स की रुपरेखा तैयार कर ली गयी है।

 

आड्रे हाउस में लगायी जायेगी गांधी की प्रतिमा
राज्य में कला- संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए राज्य के प्रत्येक जिला मुख्यालय में ’’सुबह- सवेरे कार्यक्रम“ का सप्ताहिक आयोजन किया जाना है। वर्तमान में राज्य के नौ जिलों में इसका संचालन किया जा रहा है आने वाले वर्षों में अन्य जिलों में भी इसे शुरु किया जायेगा। झारखण्ड कला मंदिर होटवार रांची में गायन, वादन एवं नृत्य के 11 विधाओं का प्रशिक्षण प्रत्येक शनिवार एवं रविवार को दी जाती है।

 

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *