राष्ट्रपति चुनाव को लेकर विस में डाले गये वोट

रांची,17जुलाई ।राष्ट्रपति चुनाव के लिए आज झारखंड विधानसभा सचिवालय में बनाये गये मतदान केंद्र में पुख्ता सुरक्षा इंतजाम के बीच वोट डाले गये। विधानसभा स्थित मतदान केंद्र में सबसे पहले नगर विकास मंत्री सीपी सिंह ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। वहीं एनडीए के सभी विधायक एक साथ मतदान करने पहुंचे थे और कतारबद्ध होकर मतदान किया। इसके साथ ही यूपीए खेमे के विधायकों ने भी अपने मताधिकार का प्रयोग किया। दोपहर एक बजे तक पक्ष-विपक्ष के सभी 81 सदस्यों द्वारा अपने मताधिकार का प्रयोग कर लिया गया।
मुख्यमंत्री रघुवर दास ने वोट डालने के बाद विधानसभा में पत्रकारियों से बातचीत में कहा कि एनडीए प्रत्याशी रामनाथ कोविंद की जीत 200 फीसदी तय है। उन्होंने कहा कि एनडीए और अन्य सहयोगी दलों के विधायकों ने रामनाथ कोविंद के पक्ष के मतदान किया। उन्होंने दावा किया कि आशा से अधिक वोट एनडीए प्रत्याशी को मिलेंगे और गैर एनडीए से भी रामनाथ कोविंद समर्थन मिलेगा। यूपीए विधायकों की मतदान के बाद विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष हेमंत सोरेन के कमरे में अनौपचारिक बैठक हुई।

बैलेट बॉक्स को कल दिल्ली ले जाया जाएगा
उत्तर प्रदेश के लखनऊ विधानसभा में विस्फोटक मिलने की खबर के बाद से विधानसभा में आज सुरक्षा व्यवस्था अधिक चौकस नजर आयी। मतदान केंद्र पर पेन और मोबाइल ले जाने की अनुमति नहीं थी। बैलेट पेपर छोड़ कर अन्य सभी जगहों पर वीडियो रिकॉर्डिंग की व्यवस्था की गयी थी। चुनाव आयोग के अधिकारी और सहायक निर्वाची पदाधिकारी सीलबंद बैलेट बॉक्स को कड़ी सुरक्षा के बीच लेकर कल दिल्ली जाएंगे ।एनडीए प्रत्याशी के पोलिंग एजेंट सीपी सिंह ने बताया कि दोपहर तक सभी 81 विधायकों द्वारा अपने मताधिकार का प्रयोग कर लिया गया और शाम पांच बजे मतपेटी को सील कर स्ट्रांग रूम में रख दिया जाएगा और फिर कल एयर इंडिया के विमान से निर्वाची पदाधिकारी और सहायक निर्वाची पदाधिकारी नई दिल्ली ले जाएंगे।

चार सदस्य जेल से मतदान करने पहुंचे, कोर्ट ऑर्डर दिखा कर किया मतदान
विभिन्न मामलों में जेल में बंद चार विधायक संजीव सिंह, निर्मला देवी, एनोस एक्का और प्रदीप यादव भी आज राष्ट्रपति चुनाव के लिए मतदान करने विधानसभा परिसर में बनाये गये मतदान केंद्र पहुंचे और कोर्ट ऑर्डर दिखाकर मतदान किया। धनबाद के पूर्व डिप्टी मेयर और अपने चचेरे भाई की हत्या मामले में रांची के होटवार जेल में बंद झरिया के भाजपा विधायक संजीव सिंह को मतदान के लिए खासी मशक्कत करनी पड़ी। निर्वाचन पदाधिकारी ने वोटिंग से पहले विधायक से कोर्ट ऑर्डर दिखाने को कहा। इस पर एनडीए के पोलिंग एजेंट सीपी सिंह ने आपत्ति भी दिखाई। पर बाद में विधायक संजीव सिंह ने कोर्ट ऑर्डर दिखाया। कोर्ट से ऑर्डर लेकर ही विधायक एनोस एक्का ने भी राष्ट्रपति चुनाव के लिए अपने मताधिकार का प्रयोग किया। झारखंड पार्टी विधायक एनोस एक्का सोमवार को व्हील चेयर पर बैठ कर विधान सभा परिसर पहुंचे और मतदान किया। एनोस एक्का पारा शिक्षक मनोज कुमार की हत्या मामले में न्यायिक हिरासत में जेल में बंद हैं। गोड्डा में अडाणी पावर प्लांट के विरोध के दौरान दर्ज तीन अलग-अलग मामलों में जेल में बंद झारखंड विकास मोर्चा विधायक प्रदीप यादव ने भी मतदान किया, वहीं सबसे अंतिम में कांग्रेस की निर्मला देवी ने मतदान किया। निर्मला देवी एनटीपीसी कोल परियोजना के विरोध के दौरान सरकारी कामकाज में बाधा समेत अन्य मामलों में जेल में बंद है।

एनडीए को 81 में से 50-51विधायकों का मत मिलने की उम्मीद
राष्ट्रपति चुनाव के लिए झारखंड विधानसभा के 81 निर्वाचित विधायकों में से 50-51 विधायकों का मत मिलने की उम्मीद है। इसमें एनडीए के 47 विधायकों के अलावा नवजवान संघर्ष मोर्चा के भानु प्रताप शाही व जय भारत समानता पार्टी की गीता कोड़ा ने भी एनडीए को समर्थन देने की घोषणा की थी। जबकि झारखंड पार्टी के एनोस एक्का और बसपा के कुशवाहा शिवपूजन मेहता द्वारा भी एनडीए प्रत्याशी को वोट दिये जाने की चर्चा है। हालांकि इस संबंध में जब एनोस एक्का से पूछा गया, तो उन्होंने मतदान को लेकर कुछ भी बताने से इंकार किया। वहीं यूपीए फोल्डर में झामुमो के 19, कांग्रेस के 7, झाविमो के 2, भाकपा-माले और मासस के एक-एक विधायक शामिल है। मतदान को लेकर विधानसभा परिसर में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किये गये थे और इस दौरान विधानसभा परिसर में किसी भी अनाधिकृत व्यक्ति के प्रवेश पर रोक लगा दी गयी थी।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *