पुलिस मुठभेड़ के बाद तीन नक्सलियों का शव बरामद

 

दिनेश गोप को भी गोली लगने की खबर
रांची,24सितंबर। झारखंड के सिमडेगा जिले के बानो थाना क्षेत्र में प्रतिबंधित नक्सली संगठन पीपुल्स लिबरेशन फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएलएफआई) के पांच नक्सलियों के मारे जाने की खबर है, हालांकि अभी तक मारे गये तीन नक्सलिय के ही शव की बरामदगी हो पायी है।
बानो थाना क्षेत्र के गिरदा ओपी अंतर्गत केरकेट्टा जंगल में पुलिस और नक्सलियों के बीच हुए मुठभेड़ के बाद घटनास्थल से एक एके-47रायफल, कारबाईन और एक मशीनगन समेत भारी मात्रा में विस्फोटक और अन्य सामान बरामद किये गये है। रांची प्रक्षेत्र के डीआईजी एवी होमकर और सिमडेगा के पुलिस अधीक्षक राजीव रंजन के नेतृत्व में चलाये गये अभियान में पांच से छह नक्सलियों के पुलिस गोली से मारे जाने की बात कही जा रही है, हालांकि अभी तक तीन नक्सलियों के शव को ही घटनास्थल से बरामद किया जा सका है। इलाके में सर्च ऑपरेशन अभी जारी है।
पुलिस अधीक्षक ने बताया कि मारे गये तीन उग्रवादियों के शव मार्टिन, आकाश और राधा के होने की संभावना है। उन्होंने बताया कि पीएलएफआई सुप्रीमो दिनेश गोप को भी गोली लगने की संभावना है। क्षेत्र में पुलिस और सीआरपीएफ के जवान लगातार छापामारी अभियान चलाया जा रहा है। चारों तरफ से एरिया को सील कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि क्षेत्र में अब भी कई नक्सलियों के होने की सूचना मौजूद होने की सूचना है, इन्हें जल्दी ही पकड़ लिया जाएगा या मार गिराया जाएगा।सूत्रों से घटना के संबंध में मिली जानकारी के अनुसार पुलिस और सीआरपीएफ जवान बानो थाना क्षेत्र में सर्च ऑपरेशन में निकले थे, इसी दौरान सुरक्षाबलों का सामना पीएलएफआई नक्सलियों से हो गया। नक्सलियों द्वारा पुलिस और सीआरपीएफ जवानों को देखकर फायरिंग शुरु कर दी, मोर्चा संभालते हुए जवानों ने भी जवाबी फायरिंग की। इस फायरिंग में पांच से छह नक्सलियों को गोली लगने की बात कही जा रही है और मारे गये नक्सलियों के शव की तलाश के लिए इलाके में व्यापक छापेमारी अभियान चलायी जा रही है। दोनों ओर से करीब ढ़ाई सौ से तीन सौ राउंड फायरिंग होने की खबर है। मुठभेड़ की सूचना मिलते ही सिमडेगा के पुलिस अधीक्षक राजीव रंजन और अन्य जवान मौके पर पहुंचे तथा अभियान में शामिल जवानों को सहायता पहुंचायी। इलाके में सर्च ऑपरेशन लगातार जारी है।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *