एसीबी में कार्यरत जवानों को 1जनवरी से 25प्रतिशत प्रोत्साहन राशि मिलेगीःसीएम

 स्थापना दिवस के मौके पर पुलिसकर्मियों व पदाधिकारियों को मेडल देकर किया सम्मानित

रांची,14नवंबर। मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा है कि भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) में कार्यरत सभी पदाधिकारियों-कर्मचारियों को भी एक जनवरी 2018 से 25 प्रतिशत प्रोत्साहन राशि मिलेगी। इस पर राज्य सरकार प्रति वर्ष 3 करोड़ की राशि खर्च करेगी। उन्होंने बताया कि राज्य में 15 नए पुलिस अनुमंडल, 6 साइबर थाने, 3 ट्रैफिक थाना, 14नए थाने और दो ओपी को स्वीकृति दी गयी है। मुख्यमंत्री आज रांची के जैप-1 ग्राउंड में पुलिस परेड समारोह को संबोधित कर रहे थे। इस मौके पर वीरता और उत्कृष्ट कार्य के लिए पुलिस अधिकारियों और कर्मियों को मेडल प्रदान किया गया।
मुख्यमंत्री ने कहा कि हम डिजिटल युग में जी रहे है, साइबर क्राइम थानों को बेहतर तरीके से चलायं, नई तकनीक सिखाने के लिए समय-समय पर जवानों को प्रशिक्षण दिया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि झारखंड पुलिस पर सभी को गर्व है, पुलिस इस विश्वास को कायम रखें, इसे बढ़ाने का काम करें। उन्होंने कहा कि पुलिसबल के पास मूलभूत आधार संरचना की कमी नहीं होनी चाहिए। राज्य के पुलिसकर्मियों के लिए आज 25नवनिर्मित पुलिस भवनों का भी उदघाटन किया गया है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि झारखंड को अपराध मुक्त राज्य बनाना है, जो सफेदपोश समाज में मुखौटा पहनकर लोगों को लूटते है, उनका खात्मा करना चाहिए। उन्होंने कहा कि झारखंड पुलिस के जवान त्योहारों पर अपने परिवार से दूर रहते हैं, इसलिए राज्य सरकार की तरफ से पुलिस कल्याण के लिए 1 महीने का अतिरिक्त वेतन मिलेगा। सरकार स्मार्ट थाना बना रही है, इसलिए जवान भी स्मार्ट बनें, पुलिस अधीक्षक अपने जवानों को स्मार्ट बनने के नुस्खे दें। इस मौके पर उन्होंने झारखंड पुलिस के वीर जवानों को सलाम करते हुए कहा कि राज्य की रक्षा के लिए जिन बहादुर जवानों ने अपने प्राणों की आहुति दी है, उन शहीदों के परिवारों की देखभाल की जिम्मेवारी राज्य सरकार की है, शहीदों के परिवार को कोई असुविधा नहीं होगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि झारखंड पुलिस ट्रैफिक को लेकर जागरुकता फैला रही है, उनका यह कदम सराहनीय है,इससे अनुशासन दिखेगा और अपराध में भी कमी आएगी। पुलिस अपनी ड्यूटी इस तरह करें कि वे मिसान बनें, पुलिस को संविधान में एक अलग ताकत दी है, कड़ी मेहनत कर अपने दायित्वों का निवर्हन करें।
समारोह के मौके पर 99 पुलिस पदाधिकारियों और कर्मियों को पदक और मेडल देकर सम्मानित किया गया। उन्हें यह सम्मान बेहतर कार्य के लिए दिया गया। इनमें 51 पुलिस अधिकारियों को पदक और 37 कर्मियों को मेडल दिया जाएगा। इनमें तीन पुलिस कर्मियों को विशिष्ट सेवा के लिए झारखंड राज्यपाल पदक और 31 पुलिस कर्मियों को वीरता के लिए झारखंड मुख्यमंत्री पदक सम्मान दिया जाएगा। वहीं 24 पुलिस पदाधिकारियों और कर्मियों को उनकी सराहनीय सेवा के लिए झारखंड पुलिस पदक से सम्मानित किया जाएगा।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *