1175 को नियुक्ति पत्र व 3325.15करोड़ की परिसंपत्तियों का वितरण

रांची,15नवंबर। झारखंड स्थापना दिवस के मौके पर आज रांची के मोरहाबादी मैदान में आयेजित मुख्य समारोह में राष्ट्रपति ने 1175 को नियुक्ति पत्र और करीब 3325.15करोड़ की परिसंपत्तियों के वितरण योजना की भी शुरुआत की।
समारोह में स्वास्थ्य विभाग के 516 विशेषज्ञ चिकित्सकों, 326 प्लस टू शिक्षकों, 263 प्रखंड समन्वयक, विश्वविद्य्नालयों के 24नवनियुक्त प्राचार्य और अनुकंपा पर पुलिस विभाग में नियुक्त 10 आरक्षियों को नियुक्ति पत्र प्रदान किया गया। इस मौके पर सांकेजिक तौर पर चाईबासा के गुमड़ापीढ़ के मानकी दलपत देवगम, करलाजोरी के मुंडा गोविंद पूर्ति, देवघर के जमुना पंचायत की ग्राम प्रधान जियामुनी चौड़े व रातू रोड की शिक्षक नीलक्षी वाजपेयी को टैब प्रदान किया गया। वहीं विश्वविद्य्नालय प्रिंसिपल इरकॉन जॉन खलखो, आयुष चिकित्सक डॉ. उरोज जरीन, प्लस टू शिक्षक आशीष कुमार रवि और आरक्षी नीलम देवी को नियुक्ति पत्र मिला। इस मौके पर उज्जवला योजना के तहत पूनम एक्का नामकुम को सिलेंडर व गैस चूल्हा, रांची के बगदा की कुलेश्वर महतो को मृदा स्वास्थ्य कार्ड, चिनारो की हीरा उर्रान को 90प्रतिशत अनुदान पर दुधारु गाय, रांची की मुन्नी सोरेन को मुद्रा लोन के तहत 9.60लाख, जाजपुर नगड़ी की निलम देवी को क्रेडिट लिंकेज के तहत 1.5लख का चेक, चाईबासा मनोहरपुर के गुलशन लोहार को प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान के लिए लैपटॉप, रांची के कांके बाढ़ू के बैद्य्ननाथ महली को प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण क्षेत्र तथा हरमू की पिंकी मिंज को प्रधानमंत्री आवास शहरी क्षेत्र के तहत मकान उपलब्ध कराया गया है।
इस अवसर पर 3324.15करोड़ रुपये की परिसंपत्तियों का भी वितरण किया गया। जिसके तहत 3.08लाख परिवारों को प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत गैस चूल्हा एवं कनेक्शन, 1.26लाख लाभुकों को मुद्रा योजना के तहत राशि का वितरण, 1.25लाख किसानों को मृदा स्वास्थ्य कार्ड, 54 हजार परिवारों को प्रधानमंत्री आवास योजना, 35 हजार लाभुकों को आजीविका मिशन अंतर्गत सखी मंडल को बैंक ऋण का वितरण, 29019परिवारों को फसल बीमा राशि का वितरण, 24936परिवारों को प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मकान, 10हजार को पंपसेट का वितरण किया गया, 7711 मानकी मुंंडा, ग्राम प्रधान व ई-विद्य्नावाहिनी योजना के तहत शिक्षकों को टैब का वितरण और 254 लाभुकों को 90 प्रतिशत अनुदान पर महिलाओं को दुधारु मवेशी का वितरण किया गया।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *