झाप्रसे के अधिकारियों का आंदोलन समाप्त

सीएस व कार्मिक सचिव के साथ हुई वार्ता के बाद लिया फैसला
रांची,17नवंबर। हजारीबाग जिले के बरकट्ठा प्रखंड के अंचल पदाधिकारी मनोज तिवारी की गिरफ्तारी के विरोध में आंदोलनरत राज्य प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों ने अपने सामूहिक अवकाश को आज समाप्त करने का निर्णय लिया है।
झारखंड प्रशासनिक सेवा संघ की ओर से जारी विज्ञप्ति में बताया गया है कि संघ के प्रतिनिधियों और मुख्य सचिव राजबाला वर्मा और प्रधान सचिव निधि खरे के बीच हुई वार्ता के क्रम तत्काल निर्गत आदेश सेवा शर्त व प्रोन्नति के संबंध में समर्पित ज्ञापन पर त्वरित कार्रवाई और एसीबी के ट्रैपिंग के लिए एसओपी निर्माण की कार्रवाई प्रारंभ करने के आश्वासन के बाद यह निर्णय लिया गया। संघ की ओर से पूर्व में 16 से 20 नवंबर तक आहूत आकस्मिक अवकाश को आज समाप्त कर दिया गया है और सभी पदाधिकारी कल 18 नवंबर को अपने कार्यालय में योगदान देंगे।
गौरतलब है कि झासा की कल रांची में हुई बैठक में प्रखंड से लेकर सचिवालय स्तर तक के राज्य प्रशासनिक सेवा के पदाधिकारियों ने 16 से 20 नवंबर तक सामूहिक अवकाश पर जाने का निर्णय लिया था। जिसके कारण कई आज दूसरे दिन भी झासा के सदस्य अवकाश पर रहे, जिसके कारण कई जिलों में सरकारी कामकाज पर असर पड़ा। हालांकि झारखंड प्रशासनिक सेवा के कुछ अधिकारियों ने इस आंदोलन से खुद को अलग रखा था।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *