जिप अध्यक्ष-उपाध्यक्ष केखिलाफ अविश्वास प्रस्ताव निरस्त

रांची,30नवंबर। रांची जिला परिषद के अध्यक्ष सुकरा मुंडा और उपाध्यक्ष पार्वती देवी के खिलाफ लाया गया अविश्वास प्रस्ताव आज कोरम पूरा नहीं होने केकारण निरस्त कर दिया गया। अब उनदोनों के खिलाफ नियम के मुताबिक एक साल तक अविश्वास प्रस्ताव नहीं लाया जा सकता है।
उपायुक्त सह पीठासीन पदाधिकारी मनोज कुमार की अध्यक्षता में आज जिला परिषद भवन में हुई विशेष बैठक में 61 में से सिर्फ 30 सदस्य ही पहुंचे, जबकि अविश्वास प्रस्ताव के लिए बैठक में 46 सदस्यों की उपस्थिति जरूरी थी। कोरम अधूरा होने की वजह से काफी देर तक इंतजार करने के बाद भी जब अन्य सदस्य नहीं पहुंचे, तो अविश्वास प्रस्ताव को निरस्त कर दिया गया। प्रशासन की इस कार्यवाही पर सदस्यों नेकुछ सदस्यों ने हंगामा किया और आरोप लगाया कि डरा-धमका कर सदस्योंको आज की बैठक में आने से रोका गया। हालांकि उपायुक्त ने बताया कि इस बैठक की सूचना सात दिन पहले ही प्रखंड कार्यालय की ओर सेसदस्यों को दे दी गयी थी और उसकी रिसीविंग भी उनके पास है।
गौरतलब है कि 18 नवंबर को जिला परिषद अध्यक्ष और उपाध्यक्ष के लिए अविश्वास प्रस्ताव लाया गया था और 25 सदस्यों ने लिखित रूप से उप विकास आयुक्त सह मुख्य कार्यपालक पदाधिकारी को ज्ञापन सौंपा था, लेकिन आज कोरम पूरा नहीं होने केकारण वोटिंग नहीं करायी गयी, कोरम पूरा होने केबाद ही वोटिंग का प्रावधान है।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *