महिला सशक्तीकरण की मौन क्रांति की शुरुआत-सीएम

बजट पूर्व संगोष्ठी में लिया हिस्सा
चतरा,7दिसंबर। मुख्यमंत्री  रघुवर दास ने कहा कि तीन सालों में झारखण्ड बदलता दिख रहा है । यह स्थिर व स्थायी सरकार के कारण संभव हो सका है। सरकार की मंशा है कि सरकार की सभी योजनाएं जनता के अनुरुप जन भागीदारी के माध्यम से ही बनाई जाए। वे आज चतरा के ग्रामीण विकास अभिकरण के प्रशिक्षण भवन में आयोजित बजट पूर्व संगोष्ठी कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे।
मुख्यमंत्री ने कहा कि झारखण्ड गाँवों का राज्य हैं, राज्य के विकास के लिए सरकार ने ग्रामीणों की सहभागिता से योजनाएं बनाने का अहम कदम उठाया हैं। उन्होने कहा कि समृद्ध झारखण्ड राज्य में तमाम तरह की विसंगतियाँ है, राज्य के विकास में गरीबी, अशिक्षा, अज्ञानता, डायन विसाही बाधक है। आप सभी अपने-अपने गांवों में जाकर लोगों को बदलाव के लिए प्रेरित करें, तभी समृद्ध व स्वावलंबी झारखण्ड बनेगा। उन्होने कहा कि बजट सिर्फ आय-व्यय का लेखा-जोखा नहीं होता बल्कि इससे विकास की दिशा तय होती है। हमारी सोच हैं कि आगामी बजट लोगों की आकांक्षाओं व सोच के अनुरुप बने । सरकार में जन सहभागिता बढ़ाने के उद्देश्य से प्रमण्डल के दुरस्थ जिलों में जाकर बजट पूर्व संगोष्ठी में लोगों की राय ली जा रही है। उन्होने कहा कि  घर-घर, गाँव- गाँव, गली-गली में विकास की गंगोत्री बहा कर हम झारखण्ड को दुनिया के विकसित राज्यों की श्रेणी में लाएंगे। हमारे राज्य में खनिज संपदाओं की कोई कमी नहीं है। इसी के मदद्ेनजर सरकार, कृषि, उद्य्नोग, सहकारिता, पर्यटन आदि क्षेत्रों का विकास कर लोगों की बेरोजगारी दूर कर रही है।
Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *