युवा दिवस पर मानव शृंखला

पाँच हजार छात्र एवं युवा जुटे, 10000 वर्ग फीट का तिरंगा झंडा
रांची,12जनवरी।  पूर्व उप मुख्यमंत्री सुदेश कुमार महतो ने सिल्ली में युवा दिवस पर आयोजित एक विहंगम कार्यक्रम में विवेकानंद के जीवन को सामने रखते हुए हजारों युवाओं में जोश भर दिया। उन्होंने कहा कि स्वामी विवेकानंद का जीवन और व्यक्तित्व यह सीख देता है कि अगर हम एकाग्रचित होकर तन और मन से प्रण कर लें, तो कोई भी लक्ष्य और मंजिल प्रण के सामने छोटा पड़ जाता है। संघर्ष जितना बड़ा होगा, सफलता भी शानदार होगी। इससे पहले उन्होंने स्वामी जी के चित्र पर फूल माला चढ़ाकर भावपूर्ण श्रद्धांजलि दी।
इसी मौके पर पांच हजार स्कूली छात्र एवं युवाओं ने मानव श्रृखंला के शक्ल में दस हजार वर्ग फीट का तिरंगा बनाकर स्वामी जी को अनूठी श्रद्धांजलि दी। इसे देखकर हजारों लोग भावविभोर हो गए।
श्री महतो ने युवाओं को स्वामी जी के व्यक्तित्व का अनुसरण करने पर जोर दिया। उनके वचन, कर्म और प्रतिबद्धता की बारीकी से चर्चा की।
उन्होंने कहा कि विचार को पकड़ना, उसे अपना जीवन बना लेना, उसी के बारे में सोचना, उसी के सपने देखना सफल होने का तरीका है और यही सफलता का सूत्र है। श्री महतो ने जोर देकर कहा कि परिस्थतियां बदल रही है, जीने-आगे बढ़ने के तौर तरीके बदल रहे हैं, लेकिन निष्ठा और निडरता को सामने रखे बिना अदभुत काम करना कठिन हो सकता। निडर हुए बिना जीवन का आनंद नहीं लिया जा सकता है।
उन्होंने कहा कि युवा ही मजबूत राष्ट्र के निर्माण के अहम भागीदार हो सकते हैं। युवा स्वामी जी के विचार-व्यक्तित्व को आत्मसात करें, जीने का मकसद बदल जाएगा।
झारखंड, बिहार, बंगाल, उड़ीसा समेत पूरे भारत में ऐसा आयोजन पहली बार किया गया है। गूँज परिवार एवं आजसू परिवार ने यह कार्यक्रम आयोजित कर पूरे देश में रिकॉर्ड बनाया है ।
कार्यक्रम में सिल्ली एवं आस-पास क्षेत्रो के कई स्कूल और कॉलेज के छात्र-युवाओं ने भाग लिया।
कार्यक्रम में भाग लेने वाले छात्रों ने कहा कि यह आयोजन हमारे लिए लिए गर्व की बात है। छात्रों ने बताया कि इस बड़े आयोजन का हिस्सा बनकर हम सबों को गौरव की अनुभूति हो रही है।
गत वर्ष भी युवा दिवस के अवसर पर सिल्ली में लोगों ने मानव श्रृंखला से स्वामी विवेकानन्द के कथन“उठो, जागो और तब तक मत रुको जब तक लक्ष्य की प्राप्ति न हो जाए“ लिखकर एक कीर्तिमान बनाया था।
Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *