ईटखोरी में दुनिया का सबसे बड़ा बौद्ध स्तूप बनेगाःमुख्यमंत्री

ईटखोरी महोत्सव का किया उदघाटन
रांची,19फरवरी। झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा है कि चतरा जिले के ईटखोरी में दुनिया का सबसे बड़ा बौद्ध स्तूप बनाया जाएगा, यह स्थल हिंदू, बौद्ध और जैन धर्म के लिए संगम का काम करेगा। उन्होंने कहा कि ईटखोरी महोत्सव को देश ही नहीं, बल्कि पूरी दुनिया का महोत्सव बनाया जाएगा, इसके लिए सरकार काम कर रही है। वे सोमवार को चतरा में इटखोरी महोत्सव के उद्घाटन के बाद लोगों को संबोधित कर रहे थे।
मुख्यमंत्री ने कहा कि क्षेत्र के विकास के लिए मार्च तक मास्टर प्लान तैयार कर लिया जाएगा। जुलाई तक इसका डीपीआर हो जाएगा। अगले वर्ष जब इटखोरी महोत्सव का आयोजन होगा, तब कार्य धरातल पर दिखने लगेंगे। इसके लिए इसके लिए 600 करोड रुपए की राशि खर्च की जाएगी।
रघुवर दास ने कहा कि झारखंड में सांस्कृतिक पर्यटन की काफी संभावना है। हमारे यहां विश्व प्रसिद्ध धार्मिक स्थल हैं। इन्हें विकसित किया जा रहा है। इन स्थानों पर यात्रियों के लिए सुविधाओं का विस्तार किया जा रहा है ताकि देश दुनिया से लोग यहां अपने परिवार के साथ आकर दर्शन कर सकें। इससे न केवल रोजगार के अवसर पैदा होंगे बल्कि काफी मात्रा में विदेशी मुद्रा भी देश को प्राप्त होगी।
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार विकास के लिए चार क्षेत्रों में विशेष तौर पर कार्य कर रही है। पहला क्षेत्र है कृषि। इसमें तीन प्रक्षेत्र है जिस पर काम हो रहा है। इस में कृषि, पशुपालन और बागवानी को बढ़ावा दिया जा रहा है। इसी प्रकार उद्य्नोग को भी राज्य में बढ़ावा दिया जा रहा है। सेवा के क्षेत्र में भी काफी संभावनाएं है। चौथा क्षेत्र है पर्यटन। इस क्षेत्र पर सरकार के काफी जोर है। विभिन्न पर्यटन स्थलों को जोड़कर सर्किट के रुप में विकसित किया जा रहा है ताकि श्रद्धालु एक साथ 3-4 स्थलों पर घूमकर यात्रा का आनंद ले सके। उन्होंने कहा कि चतरा की पहचान पहले उग्रवाद प्रभावित क्षेत्र में आती थी। लेकिन यहां की जनता और पुलिस प्रशासन ने जिस मुस्तैदी से काम किया है, उससे यह क्षेत्र उग्रवाद मुक्त हो गया है। मेरी भटके हुए युवाओं से अपील है कि वे मुख्यधारा में आए, झारखंड सरकार ऐसे बच्चों की मदद के लिए पूरी तरह से तैयार है। मां भद्रकाली से मैंने आशीर्वाद मांगा है कि हमारा राज्य जो काफी समृद्धिशाली है, यहां के लोग भी समृद्धशाली बने। हमारा लक्ष्य है कि 2022 तक को भी गरीब बेघर, बेदवा, बेशिक्षा, बेरोजगार ना रहे। हर बी पी एल परिवार को रोजगार से जोड़ने के लिए काम किया जा रहा है। गांव की महिलाओं को ज्यादा से ज्यादा काम से जोड़ा जा रहा है। झारखंड से बिचौलियों को भगाना है, इसके लिए सरकार मुख्यमंत्री उद्य्नमी बोर्ड के मदद से गांव के लोगों को जोड़ रही है।
इससे पहले मुख्यमंत्री ने प्राचीन मंदिर मां भद्रकाली की आराधना की और महादेव के भी पूजा अर्चना की। कार्यक्रम के दौरान चतरा सांसद सुनील सिंह, विधायक जय प्रकाश भोक्ता, पर्यटन सचिव मनीष रंजन, विभिन्न मठों के बौद्ध धर्म गुरु, जैन धर्म गुरु समेत अन्य प्रमुख लोग उपस्थित थे।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *