गुमला, जामताड़ा, इटकी,चाईबासा व साहेबगंज में नर्सिंग कॉलेज-सीएम

रामगढ़ जिले के बरकाकाना में मैन्युफैक्चरिंग, कैटरिंग एवं हाउसकीपिंग से संबंधित प्रशिक्षण केंद्र स्थापित किया जाएगा 
रांची,24दिसंबर। मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि राज्य के युवा सकारात्मक सोच के साथ अपने सपनों को साकार करें। सरकार सदैव उनके साथ है। वर्ष 2018 में राज्य में एक लाख अकुशल, बेरोजगार युवाओं को कौशल विकास का प्रशिक्षण देकर स्वरोजगार से जोड़ा जाएगा। जल्द ही गुमला, जामताड़ा, इटकी, चा बासा एवं साहेबगंज में नर्सिंग कौशल कॉलेज की स्थापना की जाएगी। रामगढ़ जिले के बरकाकाना में मैन्युफैक्चरिंग, कैटरिंग एवं हाउसकीपिंग से संबंधित प्रशिक्षण केंद्र स्थापित किया जाएगा। राज्य के 18 हजार वैसे बच्चे जिनके सर पर माता-पिता का साया नही है, उन बेसहारा बच्चों को सरकार कौशल प्रशिक्षण देकर स्वरोजगार से जोड़ने का काम करेगी। उक्त बातें मुख्यमंत्री ने आज झारखण्ड सरकार के कल्याण विभाग द्वारा एसपीवी प्रेझा फाउंडेशन द्वारा संचालनीय नवनिर्मित नर्सिंग कौशल कॉलेज चान्हों, रांची के उद्घाटन समारोह को संबोधित करते हुए कही।
मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि यह नर्सिंग कौशल कॉलेज राज्य का पहला हा टेक कॉलेज है। 120 सिटों वाली इस कॉलेज की स्थापना से स्वास्थ्य सेक्टर से संबंधित पढ़ा करने वाली छात्राओं को पूरा लाभ मिलेगा। राज्य सरकार के द्वारा निश्चित समय-सीमा के अन्तर्गत इस कॉलेज का निर्माण कराया गया है, जो प्रशंसनीय है। मुख्यमंत्री ने कहा कि स्वास्थ्य सेक्टर में रोजगार की काफी संभावनाएं हैं। प्लस टू पूरा होने के बाद ही स्कूलों में कैंपस सलेक्शन कर छात्राओं को प्रशिक्षण दें। स्वास्थ्य सेक्टर के अलावा अन्य सेक्टरों में भी सरकार रोजगार सृजन करने का प्रतिबद्ध प्रयास कर रही है। वर्ष 2022 तक नया झारखण्ड का निर्माण करना है। माननीय प्रधानमंत्री का सपना हर श्हाथ को हुनर हर हाथ को कामश् को राज्य सरकार पूरा करेगी।
मुख्यमंत्री ने प्रेझा फाउंडेशन के अध्यक्ष मुथ्थुरमण की प्रशंसा करते हुए कहा कि प्रेझा फाउंडेशन राज्य के युवा वर्ग के लिए अच्छा कार्य कर रही है। श्री मुथ्थुरमण राज्य के विकास में अपनी महत्वपूर्ण भागीदारी निभा रहे हैं। ऐसे अनुभवी लोग सरकार के साथ जुड़कर सेवा भाव से कार्य करेंगे तो वो दिन दूर नही जब झारखण्ड विकसित राज्य की श्रेणी में अव्वल स्थान पर होगा।
मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि युवा संघर्ष से घबरायें नहीं सिर्फ मानदारी एवं .ढ़ च्छाशक्ति से अपने कौशल को निखारें और रोजगार से जुड़ें। राज्य सरकार द्वारा कौशल विकास से संबंधित क प्रकार के प्रशिक्षण कार्यक्रम चलायी ज रही है। जिस क्षेत्र में आपकी रुचि हो आप उसी क्षेत्र में प्रशिक्षण पा सकेंगे। युवा वर्ग सरकार की योजनाओं से जुड़ें। युवा शक्ति ही राष्ट्र की शक्ति है।
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए भारत सरकार के जनजातीय मामले के मंत्री- सह-सांसद लोहरदगा सुदर्शन भगत ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास के नेतृत्व में राज्य तेजी से विकास कर रहा है। योजनाएं ससमय धरातल पर उतर रही हैं। चान्हों स्थित नवनिर्मित नर्सिंग कौशल कॉलेज का बनना राज्य के लिए गौरव की बात है। केन्द्र एवं राज्य सरकार ने कौशल विकास के क्षेत्र में शुरुआत से ही क महत्वपूर्ण कार्य किये हैं। सरकार बेरोजगार युवाओं को हुनरमंद करने का काम कर रही है। राज्य के सभी जिलों में गुरुकुल के माध्यम से युवाओं को प्रशिक्षित किया जा रहा है। चान्हों स्थित नवनिर्मित नर्सिंग कौशल कॉलेज के शुरु होने से स्वास्थ्य के क्षेत्र में बड़ी क्रान्ति आयेगी। आने वाले समय में उन्नत एएनएम, नर्स एवं स्वास्थ्य कर्मी निकलकर आयेंगे और रोजगार से जुड़ेंगे। गरीबी उन्मूलन की दिशा में यह कॉलेज सार्थक साबित होगा। राज्य सरकार सही मायनों में प्रधानमंत्री जी के सपने को साकार कर रही है।
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कल्याण मंत्री डॉ0 लु स मराण्डी ने कहा कि आज का दिन राज्य के लिए ऐतिहासिक है। स्वास्थ्य क्षेत्र में रोजगार के लिए यह नर्सिंग कौशल कॉलेज मिल का पत्थर साबित होगा। इस कॉलेज के शुभारंभ होने से क्षेत्र की बच्चियों में नया उर्जा का संचार हुआ है। आज के समय में पढ़ा के साथ-साथ हुनरमंद होना भी आवश्यक है। मुख्यमंत्री के नेतृत्व में कल्याण विभाग और संबंधित अधिकारियों के अथक प्रयास से यह कार्य संभव हुआ है। प्रेझा फाउंडेशन भी बधा का पात्र है। हम सभी को पूरा विश्वास है कि प्रेझा फाउंडेशन इस कॉलेज का सफल संचालन करेगी। राज्य के सभी प्रमण्डल में नर्सिंग कौशल कॉलेज की स्थापना हो इस हेतु राज्य सरकार प्रयासरत है। कल्याण विभाग द्वारा राज्य के 18 जिलों में गुरुकुल प्रशिक्षण केन्द्र की स्थापना की ग है। अन्य बचे जिलों में भी जल्द स्थापना होगी।
मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कार्यक्रम का दीप जलाकर विधिवत उद्घाटन किया। कल्याण गुरुकुल की सफलता पर एक पुस्तक का भी विमोचन किया गया।
कार्यक्रम में मंत्री स्वास्थ्य चिकित्सा शिक्षा एवं परिवार कल्याण श्री रामचन्द्र चन्द्रवंशी, राज्य अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष कमाल खान, स्थानीय विधायक गंगोत्री कुजूर, कांके विधायक जीतुचरण राम, खिजरी विधायक राम कुमार पाहन, मुख्य सचिव राजबाला वर्मा, विकास आयुक्त अमित खरे, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य सचिव सुधीर त्रिपाठी, कल्याण सचिव श्रीमती हिमानी पाण्डेय, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव सुनील कुमार वर्णवाल, परिवहन सचिव राहुल शर्मा सहित संबंधित विभाग के अन्य अधिकारी एवं बड़ी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *