तीन जिले नक्सल से मुक्त,2018 में उग्रवाद मुक्त झारखंड बनेगाःसीएम

जमशेदपुर, 19अप्रैल। मुख्यमंत्री रघुवर ने सोनारी एयरपोर्ट पर पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि उग्रवाद मुक्त झारखंड बनाने के लिए केंद्रीय पुलिस बल के जवान तथा राज्य पुलिस बल के जवान पूरी प्रतिबद्धता के साथ लगे हुए हैं. परिणाम स्वरुप पुलिस के जवानों को लगातार कामयाबी मिल रही है. देश के 44 उग्रवाद प्रभावित क्षेत्रों में से राज्य के 3 जिले उग्रवाद से मुक्त कराए जा चुके हैं. राज्य सरकार तथा झारखंड पुलिस का लक्ष्य है 2018 में उग्रवाद मुक्त झारखंड बनाना. राज्य के अमन, चैन और शांति के लिए जवान पूरे जज्बे के साथ अपनी जान की बाजी लगाने से भी पीछे नहीं हट रहे हैं इसके लिए मुख्यमंत्री ने उनका हृदय से आभार व्यक्त किया. मुख्यमंत्री ने कहा कि उग्रवाद मुक्त और अपराध मुक्त झारखंड बनाने की दिशा में सरकार काम कर रही है. राज्य अपराध से मुक्त होगा तो विकास गांव-गांव तक और एक-एक जन तक पहुंचा सकेंगे. जनता की सुरक्षा सरकार की प्राथमिकता है. सुरक्षा से ही विकास के नए आयाम खुलेंगे.
लीज बंदोबस्ती के संदर्भ में मुख्यमंत्री ने कहा कि पूर्वी सिंहभूम इस दिशा में मॉडल के रुप में कार्य करेगा. यहां पर मिलने वाली सफलता अन्य जगह पर प्रेरणा के रुप में कार्य करेगी. उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन और सरकार लोगों की हर समस्या के निराकरण के लिए तत्क्षण तत्पर है. 01/01/85 से जिनके पास निवास संबंधी कागजात है वह सरकार की लीज बंदोबस्ती की योजना से लाभान्वित हो सकते हैं.
मुख्यमंत्री ने कहा कि मोमेंटम झारखंड से ना केवल निवेश में अभूतपूर्व वृद्धि हु है ,देश और दुनिया में झारखंड की विश्वसनीय निवेश स्थल के रुप में एक अनूठी छवि बनी है. राज्य के सवा तीन करोड़ लोग झारखंडवासी होने पर गौरव का अनुभव कर सकते हैं. राज्य के अकूत प्राकृतिक संसाधनों में मूल्य संवर्धन (वैल्यू एडिशन) के माध्यम से इसका लाभ जनता तक भी पहुंचाने की दिशा में सरकार काम कर रही है.

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *