स्वास्थ्य सेवा में मिल का पत्थर साबित होगा ‘ई-हॉस्पिटल‘ : निधि खरे

रांची, 16 मई । ई-हॉस्पिटल इंप्लिमेंटेषन समीक्षात्मक बैठक की अध्यक्षता करते हुए स्वास्थ्य विभाग की प्रधान सचिव निधि खरे ने झारखंड में जल्द से जल्द ‘ई-हॉस्पिटल‘ शुरू करने का निर्देष दिया है। प्रधान सचिव निधि खरे ने कहा कि ऑनलाइन रजिस्ट्रेषन सिस्टम (ओआरएस) सेवा की जानकारी दूर दराज के ग्रामीणों तक पहुंचाने के लिए अधिक से अधिक आईईसी क्रियाकलाप आयोजित किये जायें। उन्होंने कहा कि प्रचार प्रसार के माध्यम से लोग यह जान सकेंगे कि घर पर बैठकर मोबाइल या कंप्युटर के माध्यम से कोई मारीज चिकित्सक से परामर्ष के लिए अप्वाइंटमेंट ले सकता है। प्रधान सचिव कार्यालय कक्ष में आयोजित बैठक में रिम्स के निदेषक डॉ आर के श्रीवास्तव ने प्रधान सचिव को जानकारी दी कि रिम्स में ई हॉस्पिटल सेवा शुरू करने के लिए 17 कंप्युटर खरीदे गये हैं। उन्होंने बताया कि नेषनल इनफारमेटिव सिस्टम (एनआईसी) द्वारा सूचीबद्ध एजेंसी कार्य संचालन के लिए डाटा इंट्री ऑपरेटर की नियुक्ति करेगी। समीक्षा बैठक में प्रधान सचिव निधि खरे को जानकारी दी गयी कि ऑनलाइन रजिस्ट्रेषन सिस्टम (ओआरएस) रिम्स के अलावा एमजीएम जमष्ेदपुर, पीएमसीएच धनबाद और जिला अस्पताल रांची में व्यवस्थित तरीके से शुरू किया जायेगा। बैठक में प्रधान सचिव को जानकारी दी गयी कि प्रचार प्रसार की जानकारी के अभाव में गुमला जिला में लोग ओआरएस स्वास्थ्य सुविधा का ज्यादा लाभ नहीं उठा पा रहे हैं। श्रीमती निधि खरे ने कहा कि ऑनलाइन रजिस्ट्रेषन सिस्टम का ज्यादा से ज्यादा प्रचार प्रसार किया जाये। इस समीक्षा बैठक में एनआईसी के एसआईओ शाहिद अहमद के अलावा एनएचएम के निदेषक वित्त नरसिंह खलखो और एनएचएम के सिस्टम एनलिस्ट अवनिन्द्र कुमार उपस्थित थे।
‘ई हॉस्पिटल‘ सेवा.
ई हॉस्पिटल सेवा स्वास्थ्य सुविधा देने वाला एक कम्प्युटर एप्लिकेषन है। जो एक अस्पताल के सभी क्रियाकलापों के संचालन में सहायता करता है पूरे देष में 224 ई हास्पिटल संचालित किये जा रहे हैं। ये सभी हास्पिटल क्लाउड सर्वर से जुड़े होते हैं। यानी इन इन अस्पतालों में जो भी सेवाये दी जा रही हैं उसका डाटा एक जगह एकत्र हो जाता है। ई हॉस्पिटल के अंतगर्त किसी अस्पताल के लिए लैब सेवायें, अस्पताल के मानव संसाधन का डाटा तथा अस्पताल के मेडिकल रिकार्ड का प्रबंधन करना बहुत सरल हो जाता है।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *