मान्यता व परंपराओं के अनुरुप सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया गयाःसीएम

 नेता प्रतिपक्ष ने असंवैधानिक करार दिया
रांची,17मई। कर्नाटक में भाजपा को सरकार बनाने के लिए राज्यपाल द्वारा आमंत्रित किये जाने और इस महीने के अंत तक सदन में बहुमत साबित करने के निर्देश पर राज्य में विभिन्न राजनीतिक दलों ने मिलीजुली प्रतिक्रिया व्यक्त की है। मुख्यमंत्री रघुवर दास ने इसे संविधानसम्मत बताते हुए कहा है कि राज्यपाल ने सबसे बड़े दल को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया जो निर्धारित मान्यताओं और परम्पराओं के अनुरुप है। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया है कि अन्य दलों के विधायक भी कर्नाटक में जनादेश का सम्मान करेंगे। दूसरी ओर झारखंड विधानसभा में विपक्ष के नेता हेमंत सोरेन ने इस फैसले को घोर असंवैधानिक और नैतिकता से परे बताया है। श्री सोरेन ने कहा है कि कांग्रेस और जनता दल सेक्यूलर द्वारा पर्याप्त बहुमत का प्रमाण दिये जाने के बावजूद राज्यपाल द्वारा एस येदुरप्पा को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया जाना पूरी तरह से अला ेकतांत्रिक है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डाक्टर अजय कुमार ने कर्नाटक में राज्यपाल के फैसले और राजनीतिक स्थिति पर आक्रोश व्यक्त करते हुए कहा है कि भाजपा लोकतंत्र को कमजोर करने का लगातार प्रयास कर रही है। उन्होंने आरोप लगाया कि कर्नाटक में होर्स ट्रैडिंग को बढावा देने के लिए सत्तारुढ़ दल सभी हटकंडे अपना रहा है। झारखंड विकास मोर्चा, राष्ट्रीय जनता दल और विभिन्न वामपंथी दलों ने भी कर्नाटक की राजनीतिक घटनाक ्रम पर क्षोभ व्यक्त किया है। झाविमो के अध्यक्ष बाबूलाल मरांडी ने आज जामताड़ा में एक समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा सत्ता प्राप्त करने के लिए गैर लोकतांत्रिक तरीके अपना रही है। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि अगले वर्ष होने वाले लोकसभा चुनाव में जनता भाजपा को शिकस्त देगी।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *