गोमिया में 54 व सिल्ली के 44 बूथों को प्रभावित करने की कोशिशःसुप्रियो  

रांची,21मई। झारखंड मुक्ति मोर्चा के केंद्रीय महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य ने कहा कि सत्तारुढ़ भाजपा गठबंधन पर गोमिया के 54 बूथ और सिल्ली के 44 बूथां पर सरकारी मशीनरी के सहयोग से प्रभाव डालने की कोशिश हो रहा है।
सुप्रियो भट्टाचार्य ने आज रांची में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में कहा कि  कंबल घोटाला और टैबलेट घोटाला मामले में सरकार श्वेत पत्र जारी करे । उन्होंने दावा किया कि लाख कोशिशों के बावजूद गोमिया और सिल्ली की जनता लिट्टीपाड़ा वाला नतीजा देगी । उन्होंने बताया कि आयोग को पत्र लिखकर गोमिया और सिल्ली विधानसभा उपचुनाव में सरकारी राशि के दुरुपयोग का आरोप लगाते हुए निर्वाचन आयोग से कार्रवा  की भी मांग की है।
उन्होंने कहा कि पार्टी को प्रधानमंत्री के दौरे या किसी कार्यक्रम पर आपत्ति नहीं है, लेकिन प्रधानमंत्री कार्यालय को यह संज्ञान में लेना चाहिए कि लिट्टीपाड़ा विधानसभा उपचुनाव के दौरान जिस तरह से छला गया था,उसकी पुनरावृति न हो।    उन्होंने आरोप लगाया कि साहेबगंज में पीएम के ट्रिप के नामपर हुए अनाप-शनाप खर्च की तरह धनबाद में भी उनकी यात्रा के नामपर वैसी ही तैयारी की जा रही है।
राज्य में हुए कम्बल घोटाले की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि घोटाले की बात सामने आते ही झारक्राफ्ट की सीईओ रेणु गोपीनाथ पन्निकर का अचानक इस्तीफा हो जाता है। ऐसे में सीएम को कुछ बातों को स्पष्ट करना चाहिए कि पन्निकर की सीईओ के पद पर किस प्रकार नियुक्ति हुई । उसकी क्या प्रक्रिया अपना  गयी। उसपर श्वेत पात्र जारी करें।
इसके अलावे यह भी खुलासा करें कि रेणु जो जमशेदपुर की रहनेवाली बतायी  गयी थी क्या आज के दिन में वो जमशेदपुर में हैं या कहीं और? इस घोटाले में जांच को लेकर मंत्री सरयू राय ने भी टिप्पणी की थी। उन्होंने कहा कि यह चारा घोटाले की तरह है। इसकी जांच सीबीआई  से होनी चाहिए। एंटी करप्शन ब्यूरो अक्षम है अभी तक एक महीने में को  नतीजा नहीं निकला।
Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *