अस्पीरेशनल जिलों के उपायुक्त से रुबरु होंगे प्रधानमंत्री- मुख्यमंत्री

ग्रिड सबस्टेशन व संचरण लाईन का किया लोकार्पण
सिमडेगा,23मई। मुख्यमंत्री रघुवर दास ने बताया कि राज्य के पिछड़े जिलों की सुध लेने देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी झारखण्ड आ रहें हैं ताकि सिमडेगा, पाकुड़, गुमला, चाईबासा जैसे पिछड़े जिलों (अस्पीरेशनल जिलों) में विकास को गति दिया जा सके। 25 मई को प्रधानमंत्री ऐसे जिलों के उपायुक्त से बात कर इस बात से अवगत होंगे कि इन जिलों के विकास को लेकर आपकी क्या योजना है, कितना कार्य हुआ है। अगर ऐसी सोच आजादी के बाद से देश का मुखिया की होती तो आज भारत विश्व का समृद्धशाली देश होता। वे सिमडेगा के वीरु में नवनिर्मित 132/33 केवी ग्रिड सब स्टेशन, सिमडेगा, 132 केवी मनोहरपुर-सिमडेगा संचरण एवं 132 केवी चा बासा मनोहरपुर लाइन के लोकार्पण समारोह में बोल रहें थे। श्री दास ने कहा कि ऐसे जिलों में विकास योजनाओं को धरातल पर उतारने हेतु केंद्र सरकार 50 करोड़ की राशि उपलब्ध कराती है। उक्त राशि का प्रावधान बजट से अलग कर किया जाता है। यही नहीं राज्य सरकार इस बात का ध्यान रख रही कि जिलों के पिछड़े प्रखंड, पिछड़े पंचायत और पिछड़े गांव को प्राथमिकता दी जाए। ऐसे केंद्र और राज्य सरकार कार्य कर रही है क्योंकि सरकार का मानना है कि जब गांवों विकास होगा तभी देश और राज्य का वास्तविक विकास होगा।
रघुवर दास ने बताया कि किसान, गरीब और शहर के छोटे दुकानदारों को राज्य सरकार बिजली में सब्सिडी देगी।
राज्य में को भी चोरी की बिजली का उपयोग न करें। मानदारी से बिजली बिल का भुगतान करें। सरकार आपको सुविधा देगी। आज भी राज्य के 15 लाख से ज्यादा उपभोक्ता बिजली बिल का भुगतान नहीं करते हैं। यह परिपाटी ठीक नहीं। अपने हिस्से की मानदारी का निर्वहन हमसब को करना चाहिए। जल्द अटल विद्य्नुतीकरण और तिलका मांझी विद्य्नुतीकरण योजना का धरातल पर उतारा जाएगा। किसान, घरेलू और उद्य्नोग के बिजली उपयोग हेतु अलग लग फीडर बनाया जाएगा। श्री दास ने कहा कि 2018 तक हर घर तक बिजली पहुँचाने का लक्ष्य निर्धारित है, जिसपर कार्य हो रहा है। राज्य के 247 सुदूरवर्ती गांव तक सोलर के जरिए बिजली पहुंचा दी ग है। क्योंकि विकसित झारखण्ड का सपना बिजली के बिना पूरा जर पाना संभव नहीं है। सिमडेगा में बने इस सब स्टेशन के निर्माण में समय लगा इसका मुझे खेद है लेकिन इस बात की खुशी भी है कि सुव्यवस्थित बिजली उपलब्ध कराने में यह स्टेशन कारगर साबित होगा।
मुख्यमंत्री ने कहा कि आप सोच बदलें गांव, शहर और राज्य की तस्वीर बदलते समय नहीं लगेगा। शासन आपको हर संभव सहायता करने को तैयार है। गांव के समुचित विकास के लिए भारत सरकार ने आदिवासी विकास समिति और ग्राम विकास समिति का गठन किया है जो गांव जो ग्रामीणों के सहयोग से गांव की योजनाओं का निर्माण कर उसे स्वरुप प्रदान करेंगे। गांव में बसने वाले गरीबों को उनका हक उनके काम की योजनाओं के लिए इन समितियों का गठन किया गया है। अब बारी आपकी है। अपने गांव का विकास आप स्वयं करें। आपके साथ आपकी सहमति से योजनाओं को अमली जामा पहनाया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि गांव के मुखिया इन समितियों को अपना भरपूर सहयोग दें और गांव व गरीब के आर्थिक उन्नयन और समृद्धि में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करें।
रघुवर दास ने कहा कि सिमडेगा की महिलाओं ने पूरे देश में जिला का नाम रोशन किया है। रानी मिस्त्री का दर्जा प्राप्त कर स्वच्छता अभियान को न स्फूर्ति सिमडेगा में प्रदान की है। राज्य सरकार का यह प्रयास है कि 2 अक्टूबर 2018 तक हम स्वच्छ झारखंड का निर्माण करें। श्रीदास ने कहा कि आजादी के बाद शौचालय, आवास, स्वच्छता को लेकर किसी ने नहीं सोचा लेकिन प्रधानमंत्री जी ने इस ओर ध्यान दिया है और परिस्थितियों बदल रही हैं। हम सब भी प्रधानमंत्री जी के आहवाहन को आंदोलन का रुप दें और स्वच्छ झारखंड की परिकल्पना को यथार्थ में बदलने हेतु सहयोग करें।
सिमडेगा विधायक श्रीमती विमला प्रधान ने कहा कि धन्यवाद मुख्यमंत्री जी वर्षों पुराना सपना आज पूरा हुआ। आप के प्रयास से अब सिमडेगा रोशन होगा । सुव्यवस्थित बिजली की आपूर्ति सुनिश्चित हु । सिमडेगा समेत राज्य के लोग सौभाग्य योजना का लाभ लें। सरकार इस दिशा में पूर्व से कार्य कर रही है। महिला सशक्तिकरण और उनके स्वालंबन हेतु राज्य सरकार प्रयासरत है। सखी मंडल के माध्यम से महिलाओं को सम्मान, उनका स्वाभिमान दिया जा रहा है। स्वच्छता अभियान में भी सिमडेगा बेहतर कर रहा है, और इस बेहतरी में महिलाओं की भागीदारी महत्वपूर्ण है।
ऊर्जा सचिव श्री नितिन मदन कुलकर्णी ने कहा कि सब स्टेशन के निर्माण से पूर्व कामडारा से सिमडेगा में विद्य्नुत आपूर्ति होती थी जिससे परेशानियों का सामना करना पड़ता था। लेकिन अब स्थितियों में बदलाव हुआ है। दीनदयाल विद्य्नुतीकरण योजना के तहत 7 सबस्टेशन का निर्माण हो रहा है। जल्द बानो में सब स्टेशन का निर्माण होगा। सिमडेगा के 83 हजार घरों तक बिजली पहुंचा वडी ग है। सौभाग्य योजना का लाभ ग्रामीण लें। योजना निःशुल्क है।
इसे पूर्व मुख्यमंत्री ने विधिवत पूजा अर्चना कर पावर सब स्टेशन का शुभारंभ किया। विगत अप्रैल माह में गोटियादामर में शादी समारोह में शामिल होकर बंगरु लौट रहे 9 लोगों की मौत सड़क दुर्घटना में हो गई थी। उनके परिजनों को मुख्यमंत्री ने तरह हटाएं ने 1 -1 लाख का चेक सौंपा।) कार्यक्रम में उपयुक्त सिमडेगा जटा शंकर चौधरी, निदेशक ऊर्जा संचरण समेत अन्य लोग उपस्थित थे।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *