सड़क निर्माण से जुड़े कामों में समांजस्य स्थापित करेंःसीएम

रांची,15जून। मुख्यमंत्री रघुवर दास ने निर्देश दिया कि सड़क निर्माण से जुड़े कामों में तेजी लाने के लिए सभी विभाग एक दूसरे से समांजस्य स्थापित कर काम करें।’
’मुख्यमंत्री ने कहा कि झारखंड में नेशनल हाइवे के द्वारा चल रहे प्रोजेक्ट से जुड़े मामले संबंधित विभागों को भेज दें। 28 जून को फिर से बैठक की जायेगी। इसमें वन, बिजली, राजस्व, माइंस आदि संबंधित विभाग के अधिकारी, संबंधित जिले के उपायुक्त, डीएफओ समेत नेशनल हाइवे अथोरिटी के अधिकारी भी रहेंगे। एक-एक प्रोजेक्ट पर तत्काल निर्णय लिया जायेगा। विभाग के अधिकारी पूरी तैयारी के साथ पहुंचे। सरकार समस्या नहीं समाधान चाहती है, ताकि आम लोगों के हित में काम हो सके। झारखंड में इन सड़कों के बनने से राज्य की स्थिति बदल जायेगी।’ बैठक में बताया गया कि ’साहेबगंज में गंगा ब्रिज के निर्माण का काम बरसात के बाद शुरु हो जायेगा।’ इसी प्रकार ’रातू रोड में बननेवाले तीन लेन एलिवेटेड रोड के लिए जुला मध्य में शिलान्यास किया जा सकेगा।’ राज्य में छह नयी सड़कों (546 किमी) के निर्माण का काम भी जल्द शुरु किया जा सकेगा।’ इनसे जुड़ी प्रक्रियाएं अंतिम चरण में है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि ’कुछ लोग विकास कार्य को अवरुद्ध करना चाहते हैं। ऐसे लोगों के खिलाफ सरकार सख्ती से पेश आयेगी।’ चाहे वे बाहरी तत्व हो या विभागों के अधिकारी। सरकार की नीति और नीयत साफ है। हमारा एक मात्र लक्ष्य है ’झारखंड के गांव-गांव को अच्छी गुणवत्तावाली सड़कों से जोड़ना।’ इस काम में सरकार को गड़बड़ी बर्दाश्त नहीं करेगी। अच्छी सड़कें बनने के साथ ही गांव में खुशहाली आ जायेगी। गांव के लोग अपने काम को फैला सकेंगे। इस बैठक में राज्य के मुख्य सचिव सुधीर त्रिपाठी, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव डा सुनील कुमार वर्णवाल, पथ निर्माण विभाग के सचिव श्री के के सोन तथा प्रधान मुख्य वन संरक्षक संजय कुमार उपस्थित थे।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *