भाजयुमो कार्यकर्त्ताओं ने स्वामी अग्निवेश के साथ मारपीट की

सीएम ने गृह सचिव को जांच का आदेश दिया, हिरासत में लिये गये कई कार्यकर्त्ता
रांची,17जुलाई। झारखंड के पाकुड़ जिले में मंगलवार को भारतीय जनता युवा मोर्चा (भाजयुमो) कार्यकर्त्ताओं ने प्रख्यातसामाजिक कार्यकर्त्ता स्वामी अग्निवेश के साथ मारपीट की। भाजयुमो कार्यकर्त्ताओं ने जूते-चप्पल, लात-घूंसे से स्वामी अग्निवेश के साथ जमकर मारपीट की गयी और उनके खिलाफ जमकर नारेबाजी की। मुख्यमंत्री रघुवर दास ने मामले जांच के आदेश दिये है। वहीं स्थानीय पुलिस ने इस मामले में त्वरित कार्रवाई करते हुए कई भाजयुमो के कई आरोपी कार्यकर्त्ताओं को हिरासत में ले लिया है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार स्वामी अग्निवेश पाकुड़ जिले के लिट्टीपाड़ा में अखिल भारतीय आदिम जनजाति विकास समिति के 195वें वर्षगांठ में हिस्सा लेने पहुंचे थे। वर्षगांठ में हिस्सा लेने के पहले स्वामी अग्निवेश ने पाकुड़ के एक होटल मुस्कान में प्रेस वार्ता की। प्रेस वार्ता के बाद जैसे ही वह लिट्टीपाड़ा जाने के लिए बाहर निकले, वहां मौजूद भाजयुमो कार्यकर्त्ताओं की भीड़ ने उन्हें घेर लिया और उनके ख ालाफ नारेबाजी शुरु कर दी। कुछ कार्यकर्त्ताओं ने काला झंडा भी दिखाया। फिर आक्रोशित कार्यकर्त्ताओं ने स्वमी अग्निवेश की चप्पल-जूते, लात-घूंसे से पिटाई शुरु कर दी। बाद में दामिन के कार्यकर्त्ताओं के बीच-बचाव से स्वामी अग्निवेश को बचाया जा सके। हमले की जानकारी मिलते ही एसडीपीओ समेत अन्य वरीय पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे और स्वामी अग्निवेश को भीड़ से निकाल कर अस्पताल पहुंचाया।
स्वामी की पिटाई करने वाले भाजयुमो कार्यकर्त्ताओं ने आरोप लगाया कि वे ईसाई मिशनरियों के इशारे पर आदिवासियों को भड़काने आये हैं, जबकि से छत्तीसगढ़ में नक्सलियों के खिलाफ अभियान चलाने वाले जवानों के खिलाफ बयान देते है, वहीं पाकिस्तान के इशारे पर काम कर रहे है। पुलिस ने इस मामले में कई आरोपियों को हिरासत में ले लिया है और उनसे पूछताछ की जा रही है।
इधर, मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा है कि पाकुड़ में स्वामी अग्निवेश के साथ हुई मारपीट की जांच होगी। उन्होंने गृह सचिव को जांच के आदेश दिये है। संतालपरगना प्रमंडल के आयुक्त और डीआईजी मामले की जांच करेंगे।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *