स्वास्थ्य क्षेत्र में मूलभूत परिवर्त्तन आएगा, सदियां याद रखेगी-जेपी नड्डा

रांची,,23सितंबर। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जे.पी. नड्डा ने कहा कि देशभर में आज से शुरू होने वाली आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना से स्वास्थ्य के क्षेत्र में मूलभत परिवर्त्तन आएगा और आने वाले दशक ही नहीं, बल्कि सदी तक लोग इसे याद रखेंगे।
जेपी नड्डा ने आयुष्मान भारत योजना की शुरुआत होने पर आज के दिन को ऐतिहासिक बताते हुए कहा कि इसकी चर्चा आज देशभर में नहीं, बल्कि विदेशों में भी हो रही है। भारत ने स्वास्थ्य के क्षेत्र में लंबी छलांग लगायी है। स्वास्थ्य से संबंधित दुनिया की सबसे बड़ी पत्रिका ने भी आयुष्मान भारत योजना की सराहना की है और कहा है कि आने वाले समय में यह योजना मील का पत्थर साबित होगी। करोड़ों लोगों तक स्वास्थ्य सुविधा पहुंचेगी। उन्होंने कहा कि नेशनल हेल्थ एजेंसी और स्वास्थ्य मंत्रालय ने मिलकर छह-सात महीने में आईटी आधारित इस योजना को अमलीजामा पहनाया। उन्होंने इसे डिजिटल इंडिया का सबसे बड़ा रूप बताते हुए कहा कि पूरी तरह से पेपरलेस, कैशलेस और पोर्टबिल्टी आधारित होगी। योजना का लाभ पहुंचने के लिए प्रधानमंत्री के पत्र को एएनएम के माध्यम से गांव-गांव पहुंचाया जा रहा है। अंगूठे की इंट्री से गोल्डन कार्ड लोगों को मिल जाएगा और आपातकालीन स्थिति में गोल्डन कार्ड नहीं रहने पर भी अंगूठा लगाकर तुरंत ई-कार्ड बना दिया जाएगा और लाभार्थी को अपने इलाज पर एक पैसा खर्च नहीं करना होगा, डिस्चार्ज होने पर संस्थान को पैसा हस्तांतरित कर दिया जाएगा।
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि चार वर्षां में सरकारी क्षेत्र में देशभर में 98 मेडिकल कॉलेज खुले, इससे झारखंड भी पीछे नहीं है, तीन मेडिकल कॉलेज पलामू, दुमका और हजारीबाग में पहले ही स्थापना को लेकर काम चल रहा है, वहीं आज कोडरमा और चाईबासा में मेडिकल कॉलेज की आधारशिला रखी गयी है। जल्द ही इनसी शुरूआत भी हो जाएगी। उन्होंने बताया कि प्रत्येक मेडिकल कॉलेज की स्थापना के लिए केंद्र सरकार की ओर से 250 करोड़ रुपये की सहायता उपलब्ध करायी जा रही है। देवघर में एम्स की स्थापना भी की जा रही है, इसके अलावा वेलनेंस सेंटर की भी स्थापना की जा रही है। आने वाले समय में 30वर्ष पूरे होने पर लोग कई बीमारियों का अपने निकट के सेंटर में ही निःशुल्क स्क्रीनिंग करा पाएंगे।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *