छह साइबर अपराधी गिरफ्तार, कार्ड क्लोनिंग मशीन बरामद

लैपटॉप, मोबाइल, दर्जनों एटीएम, स्कैनर समेत अन्य सामान बरामद
रांची, 11अक्टूबर। झारखंड पुलिस को साइबर अपराधियों के खिलाफ आज बड़ी सफलता मिली है। पुलिस ने एटीएम बदल कर फर्जी तरीक ेसे निकासी करने वाले गैंग के छह सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया है, वहीं उनके पास से पहली बार पुलिस को कार्ड क्लोनिंग मशीन मिला है।
पुलिस अधीक्षक साइबर सुनिल भास्कर को लगातार यह सूचनाएं मिल रही है कि एटीएम बदल कर उसका क्लोन तैयार कर लोगों के बैंक खातों से बड़ी निकासी करने वाला एक गिरोह रांची और हजारीबाग जिले में सक्रिय है। इस सूचना पर एसपी साइबर द्वारा एक विशेष टीम साइबर डीएसपी सुमित प्रसाद के नेतृत्व में किया गया। इस टीम ने अलग-अलग स्थानों से गिरोह के छह सदस्यों को गिरफ्तार किया। पकड़े गये साइबर अपराधी विभिन्न राज्यों बिहार , ओडिशा के विभिन्न जिलों में एटीएम कार्ड क्लोनिंग तथा एटीएम कार्ड की बदली कर एटीएम स्कमिंग डिवाईस तथा क्लोनर खरीद कर विभिन्न राज्यों में सप्लाई भी करते थे। इनमें से कुछ अपराधी साइबर अपराध मामले में पहले भी जेल जा चुका है। इस गिरोह के सदस्यों द्वार अभी तक करोड़ों रुपयेकी अवैध निकासी गयी।
गिरफ्तार अपराधियों की पहचान फुलेश सिंह-चतरा, राजन कुमार फतेहपुर, गया बिहार, मनीष कुमार-हजारीबाग, रत्नेश कुमार गया जिला और अमन चंद्र उर्फ सूरज-हजारीबाग को गिरफ्तार किया गया है। इनके पास से एक कार्डक्लोनिंग मशीन, एक लैपटॉप क्लोनर सॉफ्टवेयर के साथ, 9 मोबाइल, 13 ब्लैंक एटीएम, 47 बदला हुआ एटीएम कार्ड, 2 एटीएम कज्ञर्ड स्कीमर, 1 एटीएम कार्ड क्लोनर व राइटर, दो चार पहिया वाहन और 21 हजार रुपये नकद बरामद किये गयेहै।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *