प्रेम-प्रसंग में हुई हत्याकांड में नया खुलासा, कब्रिस्तान से युवती का शव बरामद

रांची,14जनवरी। रांची के सुखदेवनगर थाना क्षेत्र में प्रेम प्रसंग मामले में अनुराग विश्वकर्मा नामक युवक का शव बरामद होने के दो दिन बाद पुलिस ने एक नया खुलासा करते हुए एक युवती का भी शव उसी कब्रिस्तान से बरामद किया है। युवती की हत्या कर शव को रातु रोड कब्रिस्तान में ही दूसरे के कब्र में दफन कर दिया गया।
रांची के रातु रोड कब्रिस्तान से अनुराग विश्वकर्मा का शव बरामद होने की सूचना पर पुलिस ने हत्याकांड के मुख्य आरोपी अनमोल वर्मा उर्फ कांटी समेत दो आरोपियों को रविवार को गिरफ्तार कर लिया गया था, उसी की निशानदेही पर पुलिस ने सोमवार की सुबह आरोपियों की निशानदेही पर पुलिस ने 17 वर्षीय नाबालिग युवती की लाश बरामद की। युवती की हत्या सुखदेव नगर के धोबी मुहल्ला में रहने वाले अनुराग वर्मा उर्फ कांटी ने 28 दिसंबर को की थी। मृतका आरोपी की गर्लफ्रेंड की सहेली थी। इस घटना के 14 दिन बाद कांटी ने पार्टी के बहाने कुछ साथियों के साथ मिलकर अपने एक अन्य दोस्त अनमोल की भी हत्या कर दी थी। अनमोल हत्याकांड में गिरफ्तारी के बाद आरोपियों ने पुलिस को युवती की हत्या की जानकारी दी। घटना को अंजाम देने के बाद कांटी ने दोनों लाश को कब्रिस्तान में दफना दिया था। 12 जनवरी को पुलिस ने अनमोल का शव बरामद किया था। मृतका नाबालिग युवती की पहचान महिला कांस्टेबल की बेटी के रूप में की गई है।
बताया गया है कि अनुराग विश्वकर्मा का शव पाये जाने के बाद सिटी एसपी व कोतवाली डीएसपी अजीत कुमार विमल की मौजूदगी में जांच के लिये पहुंची एफएसएल की टीम व डॉग स्क्वायड की टीम शनिवार को कब्रिस्तान के जिम्मेदारों व अंजुमन के पदाधिकारियों को हुई आशंका पर उस कब्र का निरीक्षण किया था। शनिवार को भी उस कब्र के उपर रखी झाड़ियों को हटा कर जांच की थी, लेकिन पुलिस की जांच टीम को कुछ भी ऐसा नहीं मिला था। जिससे उस कब्र को नहीं खोदा गया था। बाद में गिरµतार आरोपियों ने कबूला कि युवती को मार कर उसी कब्र में दफनाया गया है। उसके बाद पुलिस बीती रात में ही कब्रिस्तान के गेट की चाबी ले ली थी। उसके बाद आज सुबह कब्र खोद कर युवती के शव को बाहर निकाला गया। ज्ञात हो कि अक्सर रातु रोड कब्रिस्तान में असामाजिक तत्व घुस कर शराब का सेवन व अय्याशी करते रहे हैं। लेकिन स्थानीय होने के कारण वहां का गार्ड किसी को डर से किसी से शिकायत नहीं करता था।
सूत्रों के अनुसार नाबालिग युवती की हत्या में अनमोल उर्फ कांटी, आकाश व एक अन्य शामिल रहा है। वहीं अनुराग की हत्या में अनमोल उर्फ कांटी के साथ अमर व एक नाबालिग का अहम रोल रहा। पूछताछ में मुख्य आरोपी कांटी ने पुलिस को बताया कि मृतका उसके और उसकी गर्लफ्रेंड के बीच दरार डालने का काम कर रही थी। इस वजह से वो परेशान रहने लगा था। 28 दिसंबर की रात रातू रोड के पास स्थित दुर्गा
मंदिर में अनमोल और युवती की मुलाकात हुई थी। इसके बाद अनमोल पार्टी का बहाना कर युवती को कब्रिस्तान ले गया और अपने दो साथियों के साथ मिलकर उसकी गला रेत कर हत्या कर दी। पूछताछ में अनमोल ने पुलिस को बताया कि अनुराग उसका जिगरी दोस्त था। तीन साल पहले सुखदेवनगर थाना क्षेत्र में ही रहने वाली एक लड़की से अनमोल की दोस्ती हुई थी। देखते ही देखते दोस्ती प्यार में बदल गई। शादी तक करने की ठान ली थी। लेकिन इसी बीच मृतका की वजह से उसका दोस्त अनुराग भी बीच में आ गया। नाबालिग युवती उसकी गर्लफ्रेंड पर अनुराग से बातचीत के लिए दवाब डालती थी। इस दौरान कांटी की गर्लफ्रेंड ने उससे बात कराना भी छोड़ दिया था। इसी बात से नाराज अनुराग ने 11 जनवरी को अनमोल ने पार्टी करने के बहाने अनुराग को भी कब्रिस्तान बुलाया और दोस्तों के साथ मिलकर उसकी भी हत्या कर दी। पुलिस की तहकीकात टीम ने मृतक अनुराग विश्वकर्मा के साथी अनमोल वर्मा उर्फ कांटी व एक नाबालिग को शनिवार की
रात में ही गिरµतार कर लिया। दोनों से कड़ाई से पूछताछ करने के पुलिस को जानकारी मिली की अनमोल जिस लड़की से प्रेम करता था। उसे अनुराग अपने प्रेम जाल में फ़ंसा कर उसके साथ रंगरेली मनाने लगा था। जिससे अनुराग गुस्से में था और इसीलिये अनुराग अपने दोस्तों के
साथ मिल कर 28 दिसंबर को पुलिस लाइन की रहने वाली पुलिस पुत्री को मिलने के लिए बुलाया उसके बाद रातू रोड कब्रिस्तान में गला दबा कर हत्या कर एक कब्र में दफना दिया। उसके बाद शुक्रवार की रात में अनुराग को भी कब्रिस्तान बुला कर उसकी भी हत्या कर
शव को एक पुराने क ब्र में डाल हत्या के मामले को दबाने की कोशिश की ,लेकिन कब्रिस्तान में खून अधिक गिर जाने के कारण शनिवार को वहां के जिम्मेदारों को जानकारी हो गयी। उसके बाद पुलिस ने शव को बरामद कर लिया।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *