भाजपा कार्यकर्त्ताओं को मिलेगा पहचान पत्र, अधिकारी नहीं सुनेंगे बात,तो होगी कार्रवाई-मुख्यमंत्री


रांची,12फरवरी। मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा है कि भारतीय जनता पार्टी कार्यकर्त्ताओं को पहचान पत्र मिलेगा,जिससे वे जनसमस्याओं को लेकर सरकारी अधिकारियों के समक्ष अपनी बात रख पाएंगे, वहीं जो अधिकारी बात नहीं सुनेंगे, उनपर कार्रवाई होगी। मुख्यमंत्री मंगलवार को रांची में आयोजित शक्ति केंद्र सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। इस सम्मेलन में रांची, खूंटी और हजारीबाग संसदीय क्षेत्र के पार्टी कार्यकर्त्ताओं ने हिस्सा लिया।
मुख्यमंत्री ने कहा कि पार्टी कार्यकर्त्ताओं के सम्मान की रक्षा करना उनका दायित्व है,इसी कारण हर कार्यकर्त्ता को पहचान पत्र दिया जाएगा, जिसके माध्यम से पार्टी कार्यकर्त्ता प्रखंड विकास पदाधिकारी और अंचल अधिकारी कार्यालय में प्रवेश कर सकेंगे और यदि इन कार्यकर्त्ताओं को अधिकारी सहयोग नहीं करेंगे, तो उनपर कार्रवाई होगी। उन्होंने यह भी कहा कि पार्टी के सभी नेताओं को गांव जाना होगा, बड़े नेता हों या छोटे नेता, प्रदेश के अधिकारी हों या मंत्री, सभी को गांव-गांव जाना होगा। अब प्रदेश कार्यालय या जिला कार्यालयों में बैठकर नेतागिरी नहीं चलेगी।
मुख्यमंत्री ने विपक्षी दलों को लक्ष्य कर कहा कि चोर चिल्ला रहे हैं कि मोदी हटाओ। पर, अब इनकी लूट की राजनीति नहीं चलनेवाली। इनकी दुकानें बंद करानी हैं। मुख्यमंत्री ने एक बार पुर जेएमएम नेता हेमंत सोरेन पर आदिवासियों की जमीन हड़पने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि रांची, बोकारो, साहेबगंज, धनबाद आदि कई शहरों में हेमंत ने गलत तरीके से जमीन खरीदी है। उन्होंने कहा कि संथाल के आदिवासी अब सजग हो चुके हैं। उनकी नई पीढ़ी अब विकास चाहती है। मुख्यमंत्री ने आरोप लगाया कि चिरुडीह कांड में बाबूलाल मरांडी ने जेएमएम अध्यक्ष शिबू सोरेन को जेल भिजवाया था। इस मौके पर पूर्व मुख्यमंत्री अर्जुन मुंडा समेत अन्य पार्टी नेताओं ने भी सम्मेलन को संबोधित किय

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *