डबल मर्डर कांड में बड़ा खुलासा, गिरफ्तार बॉडीगार्ड ने खोले कई राज


रांची,15मार्च। रांची के बहुचर्चित अग्रवाल बंधु हत्याकांड मामले में आरोपी निजी टीवी चैनल के फ्रेंजाइजी लेने वाले लोकेश चौधरी के बॉडीगार्ड को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार बॉडीगार्ड ने पुलिस के सामने कई खुलासे किये है।
रांची के वरीय पुलिस अधीक्षक अनीश गुप्ता ने शुक्रवार को रांची में पत्रकारों को बताया कि अरगोड़ा थाना में दर्ज कांड संख्या 84/19 मामले में प्राथमिकी अभियुक्त सुनील सिंह उर्फ सुनील कुमार को 14 मार्च को बोकारो से गिरफ्तार किया गया। इसकी गिरफ्तारी के बाद हत्याकांड में प्रयुक्त 32बोर के लाईसेंसी रिवॉल्वर, 19 चक्र गोली और घटनास्थल का सीसीटीवी का डीबीआर, मृतक हेमंत सोरेन और महेंद्र अग्रवाल के मोबाइल का जला अवशेष, सुनील कुमार का टी शर्ट, धर्मेन्द्र कुमार तिवारी का शर्ट, जो घटना के समय पहने था, का जला अवशेष भी बरामद किया गया। उन्होंने बताया कि घटना को अंजाम देने के बाद धुर्वा डैम जाने वाले रास्ते में सिराज अनवर गैरेज के पास इन कपड़ों और मोबाइल को जलाया गया। सुनील मूल रूप से रोहतास का रहने वाला है और अभी वह बोकारो में रहता है। पुलिस ने सुनील की निशानदेही पर 32 बोर का रेगुलर रिवॉल्वर, अभियुक्त द्वारा प्रयोग में लाये जाने वाले दो मोबाइल को सिम समेत, अभियुक्त का लाईेसेंस जम्मू कश्मीर के रियासी जिला से निर्गत है, घटनास्थल से सीसीटीवी का डीबीआर का जला अवशेष, मृतक महेंद्र अग्रवाल और हेमंत अग्रवाल का तीन मोबाइल का जला अवशेष और अभियुक्त सुनील कुमार और धर्मेन्द्र कुमार तिवारी के घटना के समय पहले पीले रंग का टी-शर्ट और शर्ट का जला अवशेष भी बरामद किया गया है।
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पुलिसिया पूछताछ में गिरफ्तार बॉडीगार्ड ने बताया कि कि प्री प्लान तरीके से अग्रवाल बंधुओं को अरगोड़ा स्थित टीवी चैनल के दफ्तर में बुलाया गया था । सोची-समझी साजिश के तहत अग्रवाल बंधु को बुलाया गया जिसके बाद कमरे में बातचीत के दौरान मारपीट शुरू हो गई। इसके बाद एक अग्रवाल बंधु को गोली मार दी गई, जिसका विरोध करने पर दूसरे भाई को भी गोली मार दी गई। जिससे दोनों भाईयों की मौके पर ही मौत हो गई। इस पूरे मामले में एनके सिंह नाम के व्यक्ति का भी बड़ा रोल सामने आ रहा है। बॉडीगार्ड की मानें तो एन के सिंह ने उनकी रिवॉल्वर से गोली चलायी।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *