August 12, 2022

view point Jharkhand

View Point Jharkhand

ईडी की दबीश, सीएम के प्रेस सलाहकार की पत्थर खदान की भी हो रही है जांच

Spread the love

ड्रोन कैमरे से ली गयी तस्वीर,
साहिबगंज। प्रवर्त्तन निदेशालय (ईडी) की टीम साहिबगंज में अवैध पत्थर खनन और परिवहन की जांच में जुटी है। टीम के सदस्यों ने गुरुवार को भी सीएम के प्रेस सलाहकार अभिषेक प्रसाद उर्फ पिंटू के साहिबगंज जिले में पकड़िया मौजा स्थित शिव शक्ति इंटरप्राइजेज पत्थर खदान की भी जांच की। ईडी की टीम ने पत्थर खदान की मापी के साथ ही ड्रोन कैमरे से कई तस्वीरें भी ली।
ईडी की टीम मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा के गिलमारी मौजा स्थित महाकाल स्टोन वर्क्स पत्थर खदान की भी मापी और जांच की। टीम ने मिर्जाचौकी,  दामिनभिट्ठा व सुंदरे मौजा की तस्वीर ड्रोन से ले रही है।
ईडी के अधिकारी पैदल ही इन पहाड़ों की खाक छानते नजर आये। वहीं ईडी की ओर से जांच और कार्रवाई के बाद जिले के अलग-अलग स्थानों पर लगभग 45 करोड़ रुपयों की अवैध पत्थरों की खान पकड़ी गई है। पिछले तीन दिनों से ईडी टीम की जांच जारी है और आज चौथे दिन भी माइंस की जांच में जुटी रही। ईडी की जांच के साथ जिले में अवैध पत्थर खनन का दायरा बढ़ता ही जा रहा है। अनुमान लगाया जा रहा है कि अवैध पत्थर खनन का मामला 1000 करोड़ तक पहुंच सकता है।
 

वन क्षेत्र में भी हुआ पत्थर उत्खनन
कई जगह वन क्षेत्र या उससे सटे इलाकों में भी पत्थर उत्खनन की बात ईडी के सामने आई है। सूत्रों ने बताया कि ईडी के पदाधिकारी अवैध माइंस को देख अब हैरत में पड़ गए हैं। सिर्फ दो दिनों की जांच में ईडी को 37.5 मिलियन क्यूबिक फीट पत्थर अवैध तरीके से खनन करने का मामला उनके सामने आये है।

ईडी अवैध खनन, टेंडर मैनेज कर कमाई और मनी लॉन्ड्रिंग की लगातार जांच कर रही है। ईडी की दो टीमें अलग-अलग जांच कर रही हैं।
 
उल्लेखनीय है कि ईडी ने मुख्यमंत्री के प्रेस सलाहकार अभिषेक प्रसाद उर्फ पिंटू को समन भेजा है। ईडी ने अभिषेक प्रसाद को एक अगस्त को उपस्थित होने को कहा है। इससे पहले 19 जुलाई को ईडी ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा को पूछताछ के लिए बुलाया था। पूछताछ के बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया था। पंकज मिश्रा अभी ईडी की रिमांड पर हैं। उनसे पूछताछ की जा रही है। ईडी की टीम साहिबगंज में खनन विभाग और वन विभाग के कार्यालयों के अधिकारियों एवं कर्मचारियों से भी लगातार पूछताछ कर रही है।

About Post Author