December 4, 2021

view point Jharkhand

View Point Jharkhand

झारखंड विधानसभा स्थापना दिवस, रामचंद्र चंद्रवंशी उत्कृष्ट विधायक के रूप में सम्मानित

Spread the love


शहीद पुलिसकर्मियों को मरणोपरांत सम्मान, शिक्षक, खिलाड़ी भी सम्मानित
रांची। झारखंड विधानसभा के स्थापना दिवस (Jharkhand Assembly Foundation Day) के मौके पर सोमवार को बीजेपी विधायक रामचंद्र चंद्रवंशी को उत्कृष्ट विधायक के रूप में सम्मानित किया गया। इस मौके पर विधानसभा के पांच पदाधिकारी-कर्मी को भी उत्कृष्ट कर्मी के रूप में सम्मानित किया गया। समारोह के दौरान राष्ट्रपति पुरस्कार प्राप्त 53 शिक्षकों के अलावा शहीद जवानों के आश्रितों और उत्कृष्ट खिलाड़ियों को सम्मानित किया गया।
इस मौके पर राज्यपाल रमेश बैस ने कहा कि विधानसभा की कार्यवाही से आम जनता को काफी अपेक्षायें रहती हैं। उन्होंने कहा कि सदन में वाद-विवाद हो, उच्च स्तर का हो, उसमें गंभीरता हो और सुचारू रूप से हो, इसका भी ध्यान रखने की आवश्यकता है। जनता न केवल अपने क्षेत्र के विधायक द्वारा किये गये प्रश्न को गंभीरतापूर्वक सुनती है, बल्कि सरकार का उस पर क्या विचार है, ये भी जानने को जिज्ञाशु रहती है। इसे सदैव ध्यान में रखने की जरूरत है। इसलिए सदस्यों को बेहतर तरीके से प्रश्न करना चाहिये ताकि सरकार से उचित जबाब मिले। यह सदन प्रजातन्त्र का सर्वोच्च मंदिर है। इसकी गरिमा का सदैव ध्यान रखना चाहिये। और इसकी मर्यादा को हमारे किसी आचरण से ठेस न पहुॅचे, इसका भी ख्याल रखना होगा।

विस के माध्यम से राज्य को दिशा देने का प्रयास

विधानसभा अध्यक्ष रवींद्रनाथ महतो ने कहा कि सभी सत्ता पक्ष और विपक्ष की भूमिका में विधानसभा में रहते हैं और एक ही परिसर के अंदर पूरे राज्य के विषय में चिंतन- मंथन करते हैं। खट्टे-मीठे नोक-झोंक के साथ नीति निर्धारण होता है। विधानसभा ऐसा आईना है, जहां राज्य भर का चेहरा दिखाई देता है। विधानसभा के माध्यम से राज्य को दिशा देने का प्रयास होता है। संवैधानिक व्यवस्था के तहत पक्ष और विपक्ष की भूमिका में हम कार्य करते हैं, जिसका परम लक्ष्य विकास और राज्य की जनता को अधिकार देना है।

दो वर्ष पूर्ण होने तक सभी को योजना से जोड़ने का लक्ष्य

मुख्यमंत्री ने कहा कि झारखण्ड राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर विभिन्न योजनाओं को लागू किया गया है। आपके अधिकार- आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम के जरिए जरूरतमंदों को योजनाओं से जोड़ने का काम हो रहा है। झारखण्ड के सभी वृद्धजनों, दिव्यांगजनों परित्यक्त महिलाओं को सर्वजन पेंशन योजना से जोड़ा जाएगा। यह कार्य सरकार के दो वर्ष पूर्ण होने तक पूरा करने का प्रयास हो रहा है। पेंशन योजना के तहत अब किसी तरह का लक्ष्य निर्धारित नहीं होगा। सभी जरूरतमंदों को इसका लाभ मिलेगा। सरकार घर-घर जाकर समस्याओं का समाधान करने में जुटी है।

शहीदों के बच्चों की प्राइमरी से इंजीनियरिंग तक की शिक्षा फ्री
इस अवसर पर उत्कृष्ट विधायक के रूप में सम्मानित विधायक रामचंद्र चंद्रवंशी ने ऐलान किया है कि वे शहीद के बच्चों की पढ़ाई का जिम्मा उठाएंगे। वे उन्हें प्राइमरी से लेकर इंजीनियरिंग तक की शिक्षा फ्री में कराएंगे। वे अपने ट्रस्ट के माध्यम से उन्हें शिक्षित बनाएंगे। शिक्षा से लेकर भोजन तक की व्यवस्था वो खुद कराएंगे।