May 30, 2024

view point Jharkhand

View Point Jharkhand

झामुमो विधायक लोबिन के आक्रोश रैली में उमड़ी भीड़

Spread the love



कहा-शिबू सोरेन ने पार्टी में रहकर गलत का विरोध करना सिखाया है
साहिबगंज। खतियान आधारित स्थानीय नीति, एसपीटी (संताल काश्तकारी अधिनियम) और सीएनटी (छोटानागपुर काश्तकारी अधिनियम को कड़ाई पूर्वक लागू करने, पेशा एक्ट 1996 को सख्ती से लागू कराने सहित मांझी परगना व्यवस्था को कड़ाई पूर्वक लागू कराने के लिए आज बोरियो के झारखंड मुक्ति मोर्चा विधायक लोबिन हेम्ब्रम ने जनसभा सह आक्रोश रैली की है। हालांकि, ये कार्यक्रम में पूर्व में बोरियो प्रखंड मैदान में आयोजित किया जाना था लेकिन जिला प्रशासन की स्वीकृति नहीं मिलने की वजह से कार्यक्रम शिबू सोरेन कालेज मैदान में हुआ।
झामुमो के पदाधिकारियों समेत अन्य नेताओं ने इस कार्यक्रम से अपने को किनारा किया है। बावजूद शनिवार की रात से ही कार्यक्रम स्थल पर लोगों के पहुंचने का सिलसिला जारी रहा। पुलिस जांच की वजह से काफी लोग रास्ते में ही रोक दिए गए। कार्यक्रम में हिस्सा लेने आ रहे लोगों को अलग-अलग जगह रोककर पुलिस जांच कर रही है। बावजूद उनका उत्साह कम होने का नाम नहीं देखा गया। कार्यक्रम स्थल पर सिदो कान्हो के वंशज मंडल मुर्मू भी मौजूद रहे। उन्होंने इस दौरान कहा कि जो 1932 का खतियान लागू करेगा हमलोग उसी के साथ हैं। झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कह दिया है कि किसी भी हाल में 1932 का खतियान लागू नहीं हो सकता है। यही नहीं लोबिन हेम्ब्रम ने खतियान आधारित स्थानीय नीति की मांग उठाई तो उन्हें प्रताड़ित किया जा रहा है। इस दौरान उन्होंने बरहेट विधायक हेमंत सोरेन के विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा को भी आड़े हाथे लेते हुए कहा कि कुछ लोग इस इलाके को बदनाम करने में जुटे हैं। कार्यक्रम स्थल पर पहुंचे लोगों ने कहा कि वे लोग लोबिन के साथ है। अगर लोबिन पर पार्टी किसी तरह की कार्रवाई करती है तो वे लोग सामूहिक रूप से पार्टी से इस्तीफा दे देंगे। वहीं लोबिन हेम्ब्रम ने स्टीफन मरांडी पर जमकर हमला बोला और कहा कि शिबू सोरेन ने पार्टी में रहकर गलत का विरोध करना सिखाया है।

About Post Author