August 12, 2022

view point Jharkhand

View Point Jharkhand

पूर्व सांसद फुरकान अंसारी ने कहा- अनूप सिंह की बात नहीं बनी, तो साजिश रच कांग्रेस विधायकों को गिरफ्तार करवा दिया

Spread the love



रांची। झारखंड कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व सांसद फुरकान अंसारी ने रांची के अरगोड़ा थाने में शिकायत दर्ज कराने वाले कांग्रेस विधायक अनूप सिंह उर्फ जयमंगल सिंह पर कटाक्ष करते हुए कहा कि वे खुद झारखं डमें सरकार को अस्थिर करने की कोशिश करने में जुटे थे, लेकिन बात नहीं बनी, तो साजिश रचकर कांग्रेस के विधायकों को ही पश्चिम बंगाल की पुलिस से गिरफ्तार करवा दिया।
विधायक इरफान अंसारी के पिता और प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ नेता फुरकान अंसारी ने मंगलवार को रांची में संवाददाता सम्मेलन में कहा कि तीन विधायकों से सरकार नहीं गिर सकती। उन्होंने कहा कि झारखं डमें कांग्रेस की स्थिति खराब हो गयी है, इससे पहले लोकसभा चुनाव के दौरान भी एक साजिश के तहत उन्हें चुनाव लड़ने से रोकने के लिए गोड्डा संसदीय सीट सहयोगी दल जेवीएम के लिए छोड़ने का काम किया गया, जिसका फायदा बीजेपी को मिला। अब एक बार फिर से झारखंड में संगठन को नुकसान पहुंचाने की कोशिश की जा रही है।
फुरकान अंसारी ने पार्टी आलाकमान से यह आग्रह किया कि झारखंड कांग्रेस में बढ़ रहे अंतर्कलक को समाप्त करें, ताकि झारखंड में कांग्रेस को मजबूत करें। उन्होंने कहा कि झारखंड में भाजपा से हेमंत सरकार को खतरा नहीं है, बल्कि कांग्रेस अंतर्कलह में फंसी है। पार्टी में किसी विधायक से कोई मतभेद या नाराजगी है, तो झारखंड कांग्रेस आपस में बातचीत कर पार्टी के अंदर को कलह को सुलझा लेना चाहिए। लेकिन प्रदेश नेतृत्व के कारण कलह सुलझाने के बदले विवाद को बढ़ाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जिस तरह प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है, इससे जाहिर होता है कि साजिश के तहत तीन कांग्रेसी विधायकों पर प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है।
उन्होंने विधायक अनूप सिंह पर सवाल उठाते हुए कहा कि मीडिया में जो तस्वीरें वायरल हो रही है, उसमें अनूप सिंह असम के सीएम के साथ बैठे है और इस तस्वीर में केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी भी है।
फुरकान अंसारी ने कहा कि बेरमो विधायक अनूप सिंह ने थाने में दर्ज करायी गयी प्राथमिकी में तारीख भी ठीक से नहीं लिखी है, इससे साफ होता है कि वे खुद साजिशकर्ता है और दूसरे को फंसाने का काम किया है।

About Post Author