December 4, 2021

view point Jharkhand

View Point Jharkhand

JPSC चेयरमैन और SSP को राज्यपाल ने किया तलब

Spread the love

जेपीएससी अभ्यर्थियों और पुलिस लाठीचार्ज पर मांगी जानकारी
रांची। झारखंड के राज्यपाल (Governor))रमेश बैस (ramesh bais) ने बुधवार को झारखंड लोक सेवा आयोग (जेपीएससी) के अध्यक्ष अमिताभ चौधरी और रांची के वरीय पुलिस अधीक्षक सुरेन्द्र कुमार झा को राज भवन तलब किया।
राजभवन के आधिकारिक प्रवक्ता ने बताया कि झारखंड लोक सेवा आयोग द्वारा विगत दिनों जारी प्रारम्भिक परीक्षा परिणाम का विरोध तथा आंदोलनों की परिस्थिति के संदर्भ में जानकारी प्राप्त की। उन्होंने रांची के वरीय पुलिस अधीक्षक से कल विरोध प्रदर्शन कर रहे तथा आंदोलनरत अभ्यर्थियों और अन्य व्यक्तियों पर पुलिस द्वारा की गई कार्रवाई की जानकारी प्राप्त की। इस संबंध में प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष दीपक प्रकाश के नेतृत्व में पार्टी नेताओं के एक शिष्टमंडल ने राज्यपाल से मुलाकात कर यह जानकारी दी थी कि जेपीएससी अभ्यर्थियों के साथ पुलिस ने भाजपा विधायकों पर भी लाठीचार्ज किया।

जेपीएससी चेयरमैन ने कहा-निशि्ंचत रहिये, वेबसाइट देख लिजियेगा
इधर,राजभवन से निकलने के बाद जेपीएससी अध्यक्ष अमिताभ चौधरी मीडिया के सवालों से बचते नजर आये, हालांकि इशारों ही इशारों में उन्होंने कई बात कह दी। इस दौरान उन्होंने कहा कि उनके चेहरे में जो खुशी झलक रही है, इससे जवाब आपको मिल रहा होगा। उनसे मीडियाकर्मियों ने कई तरह के सवाल पूछे-‘क्या परीक्षा में कोई धांधली हुई है,’ क्या पीटी परीक्षा रद्द हो जाएगा। इन सब सवालों के जवाब देने से अमिताभ चौधरी बचते रहे। उन्होंने केवल यह कहा कि आप लोग निश्चिंत रहिये, कल वेबसाइट पर देख लिजिएगा। माना जा रहा है कि आयोग सातवीं से दसवीं प्रारंभिक परीक्षा के रिजल्ट का कट ऑफ मॉर्क्स जारी कर सकता हैं।

पीटी परीक्षा रद्द करने की मांग
जेपीएससी के अभियर्थियों द्वारा पिछले कई दिनों से मोरहाबादी मैदान के गांधी प्रतिमा के पास सातवीं जेपीएससी पीटी परीक्षा को रद्द करने की मांग की जा रही है।  उनके द्वारा जेपीएससी में अनियमितता का आरोप लगाया गया है। असफल अभ्यर्थियों का आरोप है कि कई परीक्षा सेंटर के क्रमवार अभ्यर्थियों को पास किया गया है,  जबकि मेघावी छात्र फेल कर दिये गए। इसको लेकर मंगलवार को जेपीएससी अध्यक्ष से मुलाकात करने के लिए न्याय मार्च निकालने पर अभ्यर्थियों पर पुलिस ने लाठीचार्ज किया, जिससे अभ्यर्थियों में खासा आक्रोश है।