April 24, 2024

view point Jharkhand

View Point Jharkhand

पेंशन विजय सह अभिनंदन समारोह में राज्यकर्मियों ने सीएम से मिलकर जताया आभार

Spread the love


रिटायरमेंट के बाद जीवन सुखमय तरीके से व्यतीत हो, इसके लिए पेंशन बड़ा सहारा-हेमंत सोरेन
रांची। मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने कहा कि राज्य के सभी वर्ग-समुदाय के लोगों को इस सरकार से काफी अपेक्षाएं हैं। हरेक वर्ग-सामुदाय की समस्याओं का निदान करने का कार्य सरकार कर रही है। प्रत्येक राज्यवासी के चेहरे पर मुस्कान हो इस उद्देश्य के साथ राज्य सरकार योजनाबद्ध तरीके से झारखंड को आगे बढ़ाने का काम रही है। वर्तमान सरकार ने राज्य सरकार के कर्मियों को पुरानी पेंशन योजना की सौगात दी है। उन्होंने कहा कि रिटायरमेंट के बाद राज्यकर्मियों का जीवन सुखमय तरीके से व्यतीत हो, इसके लिए पेंशन बड़ा सहारा है, बुढ़ापे का सहारा, बेटे-बेटी से ज्यादा पेंशन जरूरी है। सभी कर्मी सरकार के अभिन्न अंग हैं। आप अपने भविष्य की चिंता न करें बल्कि राज्य की सवा तीन करोड़ जनता की चिंता करें। आपके भविष्य की चिंता राज्य सरकार कर रही है। आप सभी सरकार के कर्मी राज्य के सर्वांगीण विकास में अपना पूरा योगदान समर्पित तथा निस्वार्थ भाव से दें। जब आप राज्य सरकार के साथ कदम से कदम मिलाकर जनहित का कार्य करेंगे तब एक समय ऐसा भी आएगा जब अन्य संस्थाओं की तरह राज्य सरकार भी आप को पर्व-त्योहारों में बोनस देने का काम करेगी। उक्त बातें मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने आज कांके रोड रांची स्थित मुख्यमंत्री आवासीय परिसर में नेशनल मूवमेंट फॉर ओल्ड पेंशन स्किम, झारखंड के बैनर तले सरकारी कर्मचारी संघ द्वारा आयोजित आभार एवं पेंशन विजय यात्रा-सह-अभिनंदन समारोह को संबोधित करते हुए कहीं।

मैं बोलने पर नहीं बल्कि काम करने पर विश्वास रखता हूं

मुख्यमंत्री ने कहा कि आप सभी लोग पेंशन के महत्व को समझते हैं। रिटायरमेंट के बाद आपका जीवन सुखमय तरीके से कटे इसका ख्याल रखने का कार्य राज्य सरकार ने किया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि आप सभी लोग देख रहे हैं कि पूरे देश में सरकारी कर्मी पुरानी पेंशन योजना को बहाल करने के लिए आंदोलनरत हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि एक समय था जब आप लोग आंदोलन कर रहे थे और एक राजनीतिक संगठन का प्रतिनिधि होने के नाते मैं आप लोगों से मिलने गया था और आपकी बातों को सुना था। आपके प्रति मेरी भावना को आप लोग जानना चाहते थे और मैंने उसी समय आपसे कहा था कि मैं बोलने पर नहीं बल्कि काम करने पर विश्वास रखता हूं। आपने देखा कि मेरे नेतृत्व में राज्य में सरकार गठन हुआ तब से ही आप लोगों की मांगों पर राज्य सरकार ने संज्ञान लेना शुरू कर दिया था। आज सभी के प्रयास से राज्य सरकार आप सभी विभिन्न संवर्गों के कर्मियों को पुरानी पेंशन योजना से जोड़ने का काम कर दिखाया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं आपको व्यापारी के हाथों में नहीं सौंप सकता। हम एक-एक झारखंड वासियों के हक-अधिकार के लिए लड़ाई लड़ते रहेंगे।

यूनिवर्सल पेंशन लागू करने वाला झारखंड पहला राज्य

मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने कहा कि राज्य में सामाजिक सुरक्षा के तहत पेंशन योजना से जुड़ने वाले पात्र लोगों के लिए यूनिवर्सल पेंशन योजना लागू करने का काम हमारी सरकार ने किया है। झारखंड देश का पहला राज्य है जहां सर्वजन पेंशन योजना लागू की गई है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य की अर्थव्यवस्था वर्तमान में कैसी है यह हम सभी लोग देख रहे हैं। राज्य में कर्मचारी, आम जनता, किसान, मजदूर, चाहे व्यापारी सभी वर्ग के भविष्य की चिंता हमारी सरकार कर रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में सरकार गठन के बाद ही वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण ने सभी को काफी डराया। सीमित संसाधनों के बावजूद हमारी सरकार ने कोरोना काल में जो कार्य कर दिखाया वो पूरे देश के लिए मिसाल रहा। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना संक्रमण काल में सरकार ने जो काम किया उसका श्रेय सिर्फ सरकार को ही नहीं बल्कि आप सभी कर्मियों को भी जाता है। आप ही के बदौलत राज्य सरकार ने संक्रमण काल में भी दृढ़ निश्चय के साथ लोगों को राहत पहुंचाई। मुख्यमंत्री ने कहा कि अगर मार्गदर्शक सही हो तो राज्य का हर एक व्यक्ति सकुशल अपने मंजिल तक पहुंच सकता है।

नियुक्ति में आयी तेजी, प्रमोशन की रुकावटों को दूर किया

मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने कहा कि राज्य में अब सरकारी नियुक्ति में तेजी आयी है। सभी प्रकार के नियुक्ति पारदर्शी तरीके से की जा रही है। नियुक्ति प्रक्रिया में किसी भी प्रकार से भ्रष्टाचार का कोई जगह नहीं है। कई प्रतियोगिता-परीक्षाओं में देखा जा रहा है कि राज्य के बीपीएल परिवार के बच्चों ने भी नियुक्ति पायी है और बड़े अफसर बनने के सपने को पूरा किया है। हमारी सरकार ने सरकारी कर्मियों के प्रमोशन पर लगे रोक के पेंच को सुलझाने का काम किया है और अब कर्मियों को प्रमोशन दी जा रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि कितने दुरूख की बात है कि लोग अपने हक-अधिकार मांगते-मांगते सरकार की उदासीनता का शिकार हुए थे। पूर्ववर्ती सरकारों की नाकामी की वजह से कई आंदोलनकारी कर्मियों की जान भी चली गई थी। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार ने पारा शिक्षक, आंगनबाड़ी कर्मी सहित कई वर्गों के समस्याओं को सुलझाने का काम कर दिखाया है।

झारखंड को देश का अग्रणी राज्य बनाना लक्ष्य

हेमन्त सोरेन ने कहा कि कुछ साल और बीतने दीजिए, वह दिन दूर नहीं जब हम सभी लोग मिलकर झारखंड को देश के अग्रणी राज्यों में लाकर खड़ा कर दिखाएंगे। आप सभी लोगों के ईमानदारी और कर्तव्यनिष्ठा के बदौलत राज्य सरकार यहां संसाधनों की उपलब्धता बढ़ाने पर बल दे रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि आदरणीय गुरुजी के आशीर्वाद से हमारी सरकार जनहित के लिए मजबूती के साथ काम कर रही है।

मुख्यमंत्री का हुआ हार्दिक अभिनंदन..

मौके पर नेशनल मूवमेंट ऑफ पेंशन स्कीम, झारखंड के बैनर तले सरकारी कर्मचारी संघ के लोगों ने मुख्यमंत्री को माला पहनाकर उनका हार्दिक अभिनंदन किया तथा मुख्यमंत्री के प्रति आभार जताया। मुख्यमंत्री ने सभी को धन्यवाद दिया। मुख्यमंत्री ने कहा कि आपका बेटा हेमन्त सोरेन आपके हर दुरूख-तकलीफ में आपके साथ खड़ा है। आपकी समस्याओं का समाधान के लिए पूरी राज्य सरकार खड़ी है। आप सभी का प्यार और आशीर्वाद से मुझे काम करने की ताकत मिलती है। राज्य सरकार द्वारा आप सभी कर्मियों को पुरानी पेंशन योजना बहाल की गई है।  
मौके पर मंत्री सत्यानंद भोक्ता, मंत्री मिथिलेश ठाकुर, सांसद विजय हांसदा, नेशनल मूवमेंट ऑफ पेंशन स्कीम, झारखंड के प्रांतीय अध्यक्ष विक्रांत कुमार सिंह, कोषाध्यक्ष नितिन कुमार, महिला प्रकोष्ठ की सुधा शर्मा, प्रांतीय मीडिया प्रभारी राजेंद्र प्रसाद सहित सभी सरकारी कर्मचारी संघ के लोग बड़ी संख्या में उपस्थित थे।

About Post Author