April 24, 2024

view point Jharkhand

View Point Jharkhand

सीता सोरेन की शिकायत पर राष्ट्रपति ने लिया संज्ञान

Spread the love


वन-पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्त्तन मंत्रालय को आम्रपाली परियोजना में गड़बड़ी की जांच का दिया आदेश
रांची। झारखंड मुक्ति मोर्चा विधायक सीता सोरेन द्वारा चतरा जिले के टंडवा स्थित आम्रपाली परियोजना में बरती जा रही अनियमितता की शिकायत पर राष्ट्रपति भवन ने संज्ञान लिया है और इस मसले पर केंद्रीय वन एवं पर्यावरण तथा जलवायु परिवर्तन मंत्रालय को संज्ञान लेते हुए आवश्यक कार्यवाही का दिशा निर्देश दिया है।
राष्ट्रपति भवन की ओर से इस संबंध में विधायक सीता सोरेन को भी ईमेल कर सूचना दी गई है। राष्ट्रपति भवन की ओर से केंद्रीय पर्यावरण और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय के सचिव को मामले में जांच कर आवश्यक कार्रवाई का निर्देश दिया गया है और जांच के बाद हुई कार्रवाई से शिकायतकर्ता को भी अवगत कराने का निर्देश दिया गया है।
विधायक सीता सोरेन ने इस मसले को लेकर पिछले दिनों राजभवन जाकर राज्यपाल रमेश बैस को भी एक ज्ञापन सौंपा था और राष्ट्रपति तथा केंद्रीय मंत्री समेत अन्य के नाम ज्ञापन पत्र के माध्यम से भेजा था।
झारखंड मुक्ति मोर्चा विधायक सीता सोरेन की ओर से इस मामले को उठाते हुए कहा गया है कि आम्रपाली परियोजना से कोयला उत्खनन के बाद वन भूमि का अतिक्रमण कर कोयले का अवैध परिवहन किया जा रहा है। उन्होंने यह भी कोयला के अवैध परिवहन के लिए वन भूमि की भी कटाई की गई है और।यह अवैध रूप से बिना अनुमति लिए हुए जंगल कटाई का मामला है ।इसके बावजूद राज्य सरकार और कोयला कंपनियों की ओर से अब तक दोषी पदाधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं की जा रही है। विधायक सीता सोरेन ने इस मसले को विधानसभा में भी विभिन्न माध्यमों से लगातार उठाते आ रही है लेकिन राज्य सरकार के अधिकारियों की ओर से इस मामले में कोई कार्यवाही नहीं की गई है।

About Post Author