December 4, 2021

view point Jharkhand

View Point Jharkhand

भारत-न्यूजीलैंड के बीच टी-20 मैच आज रांची के जेएससीए स्टेडियम में

Featured Video Play Icon
Spread the love


दोनों की टीमों के रांची पहुंचने पर खेल प्रेमियों ने ताली बजाकर किया स्वागत
रांची। झारखंड की राजधानी रांची के जेएससीए इंटरनेशनल स्टेडियम में कल 19 नवंबर को भारत और न्यूजीलैंड (India-New Zealand) के बीच T20 match खेला जाना हैं। दोनों की टीम आज रांची पहुंच गयी। रांची पहुंचने पर एयररपोर्ट पर पहुंचे खेल प्रेमियों ने दोनों की टीम का ताली बजाकर उत्साह के साथ स्वागत किया।
रांची स्थित बिरसा मुंडा हवाई अड्डे से दोनों टीमों के खिलाड़ियों को एसी बस से होटल रेडिसन ब्ल्यू के लिए रवाना किया गया। होटल से लेकर एयरपोर्ट तक की सड़कों को सील कर रखा गया था। टीम के होटल पहुंचने तक आवाजाही में प्रतिबंध लगा दिया गया था। वहीं भारत-न्यूजीलैंड टी-20 मैच को लेकर होटल रेडिसन ब्लू के बाहर भारी संख्या में सुरक्षाबलों की तैनाती की गई है। कोविड 19 को लेकर खिलाड़ी बायोबबल में रहेंगे। इसके लिए होटल के आसपास बैरिकेडिंग की गई है।
इधर,एयरपोर्ट पर बड़ी संख्या मे पुलिस बल को तैनात किए गए थे। एयरपोर्ट से बस में बैठकर सभी खिलाड़ी सीधे होटल के लिए निकल गए. जिस बस से खिलाड़ियों को होटल ले जाया गया, उसकी डॉग स्कॉयड टीम ने विशेष चेकिंग की थी। एयरपोर्ट पर भी बायो बबल सिस्टम तैयार किया गया था। एयरपोर्ट कैंपस से खेल प्रेमियों को दूर रखा गया।
सुबह से ही एयरपोर्ट पर क्रिकेट प्रेमियों की भीड़ लगी हुई थी और लोग अपने पसंदीदा खिलाड़ी का बेसब्री से इंतजार कर रहे थे ।जैसे ही टीम के सदस्य एयरपोर्ट से बाहर निकले दर्शकों ने तालियों के साथ उनका स्वागत किया। बीसीसीआई और रांची जिला प्रशासन की ओर से खिलाड़ियों के लिए बायो बबल की व्यवस्था बनाए रखने के लिए सभी आवश्यक इंतजाम किए गए थे। सोशल डिस्टेंसिंग को बनाए रखने के लिए एयरपोर्ट पर बैरिकेडिंग की व्यवस्था की गई थी बड़ी संख्या में महिला पुलिस के साथ जवानों की तैनाती की गई थी। भारत और न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम के सदस्य पदाधिकारी दो एसी बसों में बैठकर रांची स्थित फाइव स्टार होटल रेडिसन ब्लू के लिए रवाना हुए होटल में दोनों ही टीम के खिलाड़ियों के लिए फाइव स्टार सुविधा उपलब्ध कराई गई है।
जेएससीए के उपाध्यक्ष अजय नाथ शाहदेव ने बताया कि कल होने वाले मैच में कोविड्ड प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन किया जाएगा। उन्होंने बताया कि स्टेडियम में पूर्ण क्षमता के अनुसार दर्शकों के बैठने की अनुमति सरकार की ओर से मिल गई है।