|   सिंहभूम लोस सीट के लिए 69.08प्रतिशत मतदान   | |   लोस चुनाव को लेकर चुनाव प्रचार अंतिम चरण में   | |   सपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष पार्टी से निष्कासित   | |   तीन युवकों की गोली मार कर हत्या,सड़क जाम   | |   आग से झुलसने से दो बच्चों की मौत   |

सिंहभूम लोस सीट के लिए 69.08प्रतिशत मतदान

खूंटी में 66.61 व गिरिडीह सीट के लिए 64.24प्रतिशत वोट
imagesरांची,19अप्रैल।राज्य में दूसरे चरण में 17 अप्रैल को संपन्न सिंहभूम लोकसभा सीट के लिए मतदान का अंतिम रिकॉर्ड चुनाव आयोग को प्राप्त हो चुका है। इस चुनाव में सिंहभूम लोकसभा सीट के लिए 69.08 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया।
आयोग से मिली जानकारी के अनुसार सिंहभूम लोकसभा सीट के सरायकेला विधानसभा सीट के लिए 69.96 प्रतिशत मतदान हुआ,वहीं चाईबासा में 70.62 प्रतिशत, मंझगांव में 69.59, जगन्नाथपुर विधानसभा में 68.69, मनोहरपुर में 65.67 और चक्रधरपुर विधानसभा क्षेत्र में 69.45 प्रतिशत मतदान की खबर है।
इधर,गिरिडीह लोकसभा सीट के लिए 64.24 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया,जिसमें गिरिडीह विधानसभा में 64.35 प्रतिशत, डुमरी में 65.64 प्रतिशत, गोमिया में 63.88 प्रतिशत, बेरमो में 63.06 प्रतिशत, टुंडी में 67.91 व बाघमारा विधानसभा क्षेत्र के लिए 60.89 प्रतिशत मतदान की खबर है।
खूंटी लोकसभा सीट के लिए 66.61प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया, जिसमें खरसावां विधानसभा क्षेत्र में 75.96प्रतिशत, तमाड़ में 67.64, तोरपा में 61.95, खूंटी में 64.07, सिमडेगा में 64.94 व कोलेबिरा विधानसभा क्षेत्र में 64.31 प्रतिशत वोट पड़े।

लोस चुनाव को लेकर चुनाव प्रचार अंतिम चरण में

प्रशासनिक तैयारियां भी पूरी
रांची,19अप्रैल। राज्य में तीसरे और अंतिम चरण में चौबीस अप्रैल को होनेवाले लोकसभा चुनाव के लिए तैयारियां अंतिम चरण में हैं। तीसरे चरण में राजमहल, गोड्डा, दुमका और धनबाद संसदीय सीट के लिए चुनाव कराए जाएंगे। इस चरण में दुमका सीट पर सबों की निगाहें लगी हुई है, क्योंकि इस सीट से झामुमो प्रमुख शिबू सोरेन, झाविमो प्रमुख बाबूलाल मरांडी और भाजपा के सुनील सोरेन अपना भाग्य आजमा रहे हैं। इधर, तीसरे और अंतिम चरण के लिए सभी राजनीतिक दलों ने प्रचार कार्य तेज कर दिया है। इस सिलसिले में आज भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष रवींद्र राय ने धनबाद लोकसभा क्षेत्र में पार्टी प्रत्याशी के पक्ष में प्रचार किया। बाद में पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा कि भाजपा ही क्षेत्र का विकास कर सकती है। श्री राय ने कहा कि केन्द्र में भाजपा के नेतृत्व में सरकार बनने से यहां के लोगों को लाभ मिलेगा। उन्होंने क्षेत्रीय पार्टियों पर जनता की भावनाओं को भड़काने का आरोप लगाया।
उधर, कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष और राज्यसभा सासंद प्रदीप बलमुचू ने भरोसा जताया है कि झारखंड में हुए पहले दो चरण के चुनाव में यूपीए गठबंधन को आठ सीटें मिलेंगी। देवधर में आज पत्र्ाकारों से बातचीत में श्री बलमुचू ने कहा कि राज्य में आगामी चौबीस अप्रैल को होने वाले तीसरे चरण के चुनाव में यूपीए तीन सीटों पर जीत हासिल करेगी। वहीं, झारखंड सरकार के दो मंत्री अन्नपूर्णा देवी और सुरेश पासवान ने संथाल क्षेत्र्ा की तीनों सीटों पर यूपीए प्रत्याशी की जीत का भरोसा जताया है।
इस बीच राज्य में आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन के अब तक 253 मामले दर्ज किए गए हैं। सबसे अधिक 62 मामले भाजपा के खिलाफ दर्ज किए हैं। वहीं दर्ज मामलों में झाविमो के खिलाफ 40, आजसू के खिलाफ 38, झामूमो के खिलाफ 28 और कांग्रेस के खिलाफ 23 मामले शामिल है।

सपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष पार्टी से निष्कासित

रांची,19अप्रैल। समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष मनोहर कुमार यादव ने पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष मो. मेराज खान समेत तीन अन्य नेताओं को सपा से छह वर्षां के लिए निष्कासित कर दिया है।
सपा के प्रदेश अध्यक्ष मनोहर यादव ने आज यहां बताया कि पूर्व प्रदेश अध्यक्ष मेराज खान, इशाक सोनी, अभिमन्यु सिंह व मंजूल सेठी को अनुशासनहीनता और पार्टी विरोधी कार्यां के लिए संगठन से छह वर्षां के लिए निष्कासित कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि दल विरोधी काम करने के आरोप में पार्टी की प्राथमिक सदस्यता रद्द करते हुए इन सभी को निष्कासित करने का निर्णय लिया गया है।
उन्होंने बताया कि मो.मेराज खान से सपा के कुछ नेताओं को स्वयं बहुजन समाज पार्टी में ले गये, वहीं कुछ और को ले जाने के लिए प्रेरित कर रहे हैं। इसके अलावा उनके खिलाफ तरह-तरह के बेबुनियाद आरोप लगा रहे है,इससे पार्टी की छवि धूमिल हो रही है। उन्होंने कहा कि संगठन में अनुशासनहीनता बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

तीन युवकों की गोली मार कर हत्या,सड़क जाम

रांची,19अप्रैल। रांची के बेड़ो थाना क्षेत्र के मासू गांव में अज्ञात अपराधियों ने कल रात तीन युवकों की गोली मार कर हत्या कर दी। घटना से नाराज लोगों ने आज सुबह से ही रांची-बेड़ो रोड पर शव को रखकर सड़क जाम कर दिया। इस घटना में नक्सली संगठन पीपुल्स लिबरेशन फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएलएफआई) के उग्रवादियों का हाथ होने की आशंका जमातयी जा रही है।

आग से झुलसने से दो बच्चों की मौत

बचाने के क्रम में महिला भी झुलसी
रांची,19अप्रैल। झारखंड के गढ़वा जिले के रमकंडा थाना के दाहो गांव में कल शाम एक घर में आग लग जाने से दो बच्चों की झुलसने से मौत हो गयी। इस घटना में एक महिला अपने बच्चों को बचाने के क्रम में
झुलसकर जख्मी हो गई है। घायल महिला का इलाज एक निजी अस्पताल में कराया जा रहा है। प्राप्त जानकारी के अनुसार एक घर में रखे पुआल में आग लग जाने की वजह से यह घटना हुई। घटना के वक्त बच्चों के माता-पिता घर में नहीं थे।

सड़क हादसे में आठ बारातियों की मौत

रांची,19अप्रैल। झारखंड के धनबाद जिले के निरसा थाना क्षेत्र के कंचनडीह के पास जीटी रोड पर कल देर रात बारात लेकर पैदल जा रहे बारातियों को एक ट्रक ने रौंद दिया। इस घटना में सात बारातियों की मौत घटनास्थल पर ही हो गयी, जबकि इस घटना में घायल दूल्हे के पिता की आज सुबह इलाज के क्रम में अस्पताल में मौत हो गयी। वहीं दस अन्य घायलों का इलाज पीएमसीएच धनबाद में चल रहा है। इस हादसे से गुस्साई भीड़ ने ट्रक को आग लगा दी। घटना की जानकारी मिलने पर निरसा थाना प्रभारी ने मामले की जानकारी ली। बारात जमशेदपुर से धनबाद आई थी। हालांकि घटना के बावजूद देर रात गम के माहौल में शादी संपन्न हुई।

लेवी की राशि के साथ एक गिरफ्तार

रांची,19अप्रैल। गढ़वा जिले में पुलिस ने कल रंका थाना के विश्रामपुर गांव से नक्सलियों को दिए जाने वाले लेवी के साठ हजार रुपये के साथ एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। जिले के पुलिस अधीक्षक सुधीर कुमार झा ने बताया कि गिरफ्तार युवक ने कबूल किया है कि बरामद रुपये रंका थाना क्षेत्र के गोदरमाना के एक संवेदक ने नक्सलियों के जोनल कमांडर तक पहुंचाने के लिए उसे दिये थे। पुलिस ने बताया कि गिरफ्तार युवक के बयान के आधार पर संबंधित संवेदक के खिलाफ कार्रवाई की जायेगी। उन्होंने यह भी बताया कि पुलिस ऐसे सभी संवेदकों की सूची बना रही है जो नक्सलियों को आर्थिक सहयोग करते हैं।

मैट्रिक का रिजल्ट 9 मई को

रांची,19अप्रैल। जैक नौ मई को मैट्रिक का रिजल्ट जारी करने की तैयारी में जुटा है। रांची जिले के प्लस टू स्कूलों में ग्यारहवीं कक्षा में नामांकन के लिए फॉर्म मई महीने के दूसरे सप्ताह से मिलेंगे। विद्य्नार्थी साइंस, आर्टस और कॉमर्स तीनो संकाय में नामांकन करा सकते हैं। जिले के बीस सरकारी प्लस टू स्कूलों में एक सौ अट्ठाइस सीटों पर नामांकन लिया जाएगा।

सांसद निशिकांत का दो पूर्व सांसदों से मुकाबला

गोड्डा लोकसभा क्षेत्र

nishikantdubey-godda
रांची,19अप्रैल। झारखंड के गोड्डा लोकसभा क्षेत्र के भाजपा सांसद निशिकांत दूबे का इस बार पुनः दो पूर्व सांसदों फुरकान अंसारी (कांग्रेस)और प्रदीप यादव(झाविमो) से मुकाबला है। चुनाव प्रचार समाप्त होने में अब महज कुछ घंटे ही बच गये और भाजपा, कांग्रेस झाविमो के तीनों दिग्गजों ने रणभूमि में अपनी पूरी ताकत झोंक दी है।
गोड्डा संसदीय सीट के चुनावी जंग की बिसात बिछ गयी है, यहां मुकाबला त्र्ािकोणीय माना जा रहा है और तीनों ही दल के प्रत्याशियों को अपनी जीत का पूरा भरोसा है। देवों के देव महादेव की नगरी बाबा वैद्य्ननाथ धाम और बाबा बासुकीनाथ भी इसी क्षेत्र में अवस्थित है जो देश-विदेश के लाखों श्रद्धालुओ के आस्था का केन्द्र माना जाता है। पिछले चुनाव मंं मैदान में उतरे 23 प्रत्याशियों में मुख्य रुप से भाजपा,कांग्रेस और झाविमो के बीच त्रिकोणीय मुकाबला हुआ था,जिसमें भाजपा के निशिकांत दूबे 6407 मतों से कांग्रेस के फुरकान अंसारी को हराने कर भाजपा का परचम लहराने में सफल हुए थे। वहीं तीसरे स्थान पर रहे झाविमो के प्रदीप यादव 12,600 मतों के अंतर से पीछे रह गये थे। इस बार भी भाजपा के निशिकांत दूबे,कांग्रेस के फुरकान अंसारी,झाविमो से प्रदीप यादव चुनाव मैदान में हैं। इसके अलावा इस क्षेत्र में जदयू से राजवर्द्धन, बसपा से मनराज, आजसू से सुबोध प्रसाद ,तृणमूल कांग्रेस से दामोदर सिंह मेलर, भाकपा माले से गीता मंडल, आम आदमी पार्टी से जयशंकर झा,बहुजन मुक्ति मोर्चा से मो.जेनुल,झाविद से महेन्द्र मुर्मू,निर्दलीय नवीन चन्द्र झा,मनोज कुमार राय,सुनील कुमार गुप्ता सहित कुल 16 प्रत्याशी मैदान में हैं। गोड्डा लोकसभा क्षेत्र तीन जिलों गोड्डा, देवघर और दुमका जिले के छह विधानसभा क्षेत्रों तक फैला है। इसमें मधुपुर पर झामुमो के हाजी हुसैन अंसारी, महगामा पर कांग्रेस के राजेश रंजन, गोड्डा पर राजद के संजय यादव और देवघर पर सुरेश पासवान, पोडैयाहाट पर झाविमो के प्रदीप यादव और जरमुंडी विधानसभा सीट पर निर्दलीय हरिनारायण राय का कब्जा है। गोड्डा लोकसभा क्षेत्र्ा में मतदाताओं की कुल संख्या 16,98,851 है और 24अप्रैल को होने वाले मतदान के लिए 2123 मतदान केन्द्र बनाये गये हैं। furkan ansri-godda
वर्ष 2009 के लोकसभा चुनाव में परचम लहराने वाले निशिकांत दूबे को टिकट मिलने के बाद स्थानीय स्तर पर विरोध का भी सामना करना पड़ा था, लेकिन इसके बावजूद वे पार्टी के सभी नेताओं-कार्यकर्त्ताओं को एकजुट करने में सफल रहे। इस बार उनका स्थानीय स्तर पर कोई खास विरोध नहीं है, बल्कि विभिन्न दलों के कार्यकर्त्ता भी बड़ी संख्या में भाजपा में शामिल हुए है और नरेंद्र मोदी समेत अन्य भाजपा नेताओं की जनसभा में अच्छी भीड़ उमड़ रही है,जिससे निशिकांत दूबे की स्थिति अच्छी बतायी जा रही है। वहीं पिछले लोकसभा चुनाव में महज कुछ हजार वोट से हारने वाले फुरकान अंसारी इस बार कोई कमी नहीं रहने देना चाहते है। इस बार के लोकसभा चुनाव में जहां झामुमो का पूरा समर्थन उन्हें मिल रहा है, जबकि राजद का भी समर्थन प्राप्त है। फुरकान अंसारी के पक्ष में कांग्रेस के राहुल गांधी भी एक चुनावी जनसभा को संबोधित कर चुके है। जबकि झामुमो प्रमुख शिबू सोरेन, हेमंत सोरेन समेत अन्य नेता भी उनके लिए वोट मांग रहे है। दूसरी तरफ मुकाबले में शामिल झाविमो के प्रदीप यादव के पक्ष में पार्टी प्रमुख बाबूलाल मरांडी कई चुनावी जनसभाओं को संबोधित कर चुके है। इस के अलावा अन्य दलों व निर्दलीय प्रत्याशियों की ओर से पूरे दमखम के साथ चुनाव प्रचार अभियान चलाया जा रहा है।

गोड्डा संसदीय क्षेत्र का इतिहास

आजादी के बाद 1952 में प्रथम लोकसभा चुनाव में संतालपरगना दो विस्तृत क्षेत्रों में बंटा था। जिसे संतालपरगना-सह हजारीबाग और पूर्णिया सह संतालपरगना संसदीय सीट Pradeep-ansari-goodaके नाम से जाना जाता था। जहां से दो सामान्य और दो अजजा सहित चार संासद चुने जाते थे। इस चुनाव में गोड्ड पूर्णिया-सह-संतालपरगना संसदीय क्षेत्र से जुड़ा था। प्रथम चुनाव में दो सदस्यीय इस क्षेत्र के सामान्य सीट से कांग्रेस के भागवत झा आजाद एवं झारखंड पार्टी से पॉल जुझार सोरेन सांसद चुने गये थे। 1957 में द्वितीय लोकसभा के चुनाव में
गोड्डा को दुमका संसदीय क्षेत्र से जोड़ दिया गया। जहां से सामान्य और अजजा से दो सदस्यों के निर्वाचन का प्रावधान किया गया था। इस चुनाव मंे दोनों सीट पर जयपाल िसंह मुंडा के नेतृत्व में संचालित झारखंड पार्टी के सुरेश चौधरी और देवी सोरेन निर्वाचित हुए। 1962 में गोड्डा लोकसभा क्षेत्र स्वतंत्र रुप से अस्तित्व में आया, जहां से सामान्य जाति के प्रत्याशी के मैदान मंे उतरने का प्रावधान किया गया। 1962 मंे कांग्रेस के प्रभुदयाल हिम्मतंिसहका ने झापा प्रत्याी मोहन सिंह ओबेराय को हराकर कांग्रेस का झंडा फहरा दिया। 1967 में भी कांग्रेस के प्रभुदयाल हिम्मतंिसंहका ही यहां से विजयी हुए। 1971 में हिम्मतसिंहका संगठन कांग्रेस में शामिल हो गये। इस कारण कांग्रेस ने जगदीश नारायण मंडल को मैदान में उतारा जो भारी मतों के अंतर संे निर्वाचित हुए। 1977 में आपातकाल के बाद हुए चुनाव में जनता पार्टी के टिकट पर जनसंघ घटक के जगदम्बी प्रसाद यादव जीते और केन्द्र में स्वास्थ्य राज्य मंत्री बने। 1980 के मध्यावधि चुनाव में कांग्रेस के शमीमुद्दीन ने इस क्षेत्र पर फिर कांग्रेस का परचम फहराया दिया। 1984 में भी कांग्रेस के शमीमुद्दीन का ही कब्जा रहा। इस बीच 1985 में शमीमुद्दीन के निधन के बाद हुए उपचुनाव में यहां से कांग्रेस के सलाउद्दीन अंसारी विजयी हुए। 1989 में भाजपा के जनार्धन यादव निर्वाचित हुए। 1991 में झामुमो के टिकट पर सूरज मंडल चुनाव जीने में सफल हुए। 1996 में सूरज मंडल भाजपा के जगदम्बी प्रसाद यादव से पराजित हो गये। 1998 और 1999 में भी भाजपा के जगदम्बी यादव का ही कब्जा बरकरार रहा। 2002 में जगदम्बी यादव के निधन से रिक्त हुए इस सीट पर हुए उपचनाव में भाजपा के टिकट पर राज्य सरकार में ग्रामीण विकास मंत्री का पद छोड़ मैदान में उतरे प्रदीप यादव ने भी पार्टी का कब्जा बरकरार रखा,लेकिन 2004 में हुए चुनाव में यूपीए के साझा प्रत्याशी के रुप मंे पिछला दो चुनाव हार चुके कांग्रेस के फुरकान अंसारी लगभग 29,734 मतों से भाजपा के प्रदीप यादव को पराजित कर लम्बे अर्से के बाद इस क्षेत्र पर कांग्रेस का परचम लहराने में सफल हुए। इस चुनाव में कांग्रेस को 3,73,138 मत प्राप्त हुए । एक दो अपवादों को छोड़ कर इस क्षेत्र में अभी तक विभिन्न चुनावों में कांग्रेस और गैर कांग्रेसी दलों का लगभग समान रुप से कब्जा रहा है। 2009 में सम्पन्न लोकसभा चुनाव में यूपीए गठबंधन में शामिल रहने के बावजूद बगावत कर झामुमो के टिकट पर मैदान में उतरे शिबू सोरेन के पुत्र दुर्गा सोरेन ने कांग्रेस के फुरकान अंसारी की जीत के मार्ग में रोढ़ा अटका दिया । 2009 में भाजपा के निशिकांत दूबे त्रिकोणीय संघर्ष में परचम लहराने में सफल हुए। इस चुनाव में मैदान में उतरे 23 प्रत्याशियां में से निर्वाचित निशिकांत दूबे को 1,89,526, द्वितीय स्थान पर रहे कांग्रेस के फुरकांन अंसारी को 1,83,119, तीसरे स्थान पर रहे झाविमो के प्रदीप यादव को 1,76,926 और चौथे स्थान पर रहे झामुमो के दुर्गा सोरेन को 79,153 मत मिले थे।

नक्सलियों ने पंचायत भवन में आग लगायी

रांची,19अप्रैल। कोडरमा जिले के सतगामा थाना क्षेत्र स्थित राजाभर पंचायत भवन में कल देर रात नक्सलियों ने हमला कर आग लगा दी। आगजनी के इस घटना में पचास हजार रुपए की संपत्ति नष्ट होने का अनुमान है। जिले के अपर पुलिस उपाधीक्षक नौशाद आलम ने घटना की जानकारी देते हुए बताया कि चुनाव को देखते हुए पंचायत भवन में पुलिस के जवानों के ठहरने की व्यवस्था की गयी है। उन्होंने बताया कि लगभग चालीस की संख्या में आए नक्सलियों ने पंचायत भवन में दो बम विस्फोट किए और गोलीबारी भी की। श्री आलम ने बताया कि इस संबंध में प्राथमिकी दर्ज कर छानबीन की जा रही है।

Powered by Horizon Softech