|   ईद की धूम,राज्यपाल ने जाफरिया मस्जिद में नमाज अदा की   | |   आजसू विधायक बिजली को लेकर आमरण अनशन पर बैठे   | |   आजसू विधायकों की एकजुटता को कोई दरका नहीं सकताःकमल किशोर भगत   | |   ईडी ने एनोस एक्का की संपत्ति जब्त की   | |   चांद दिखा,ईद आज   |

ईद की धूम,राज्यपाल ने जाफरिया मस्जिद में नमाज अदा की

DSC_7720
DSC_7606
रांची,29जुलाई।मुस्लिम धर्मावलंबियों का सबसे बड़ा पर्व ईद आज राजधानी रांची समेज राज्य भर के विभिन्न जिलों में हर्षाेल्लास और धूमधाम से मनाया से मनाया गया। ईद के मौके पर आज मुस्लिम धर्मावलंबियों ने विभिन्न मस्जिदों व ईदगाहों में नमाज अदा की। राज्यपाल डॉ. सैयद अहमद ने भी राजधानी स्थित जाफरिया मस्जिद में ईद की नमाज अदा की और लोगों को ईद की बधाईयां दी।
ईद के मौके पर राज्यपाल को बधाई देने के लिए मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन आज राजभवन पहुंचे और राज्यपाल डॉ. सैयद अहमद से मुलाकात कर उन्हें बधाई दी। इस मौके पर विभिन्न विश्वविद्य्नालयों के कुलपति और वरीय पुलिस-प्रशासनिक अधिकारी भी राजभवन पहुंचे और राज्यपाल को ईद की बधाई दी। ईद के मौके पर मंत्री राजेंद्र प्रसाद सिंह, सुरेश पासवान, अन्नपूर्णा देवी, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सुखदेव भगत, नेता प्रतिपक्ष अर्जुन मुंडा, झामुमो प्रमुख बाबूलाल मरांडी, राजद के प्रदेश अध्यक्ष गिरिनाथ सिंह, पूर्व केंद्रीय मंत्री सुबोधकांत सहाय और सांसद प्रदीप कुमार बलमुचू ने भी ईद की बधाई दी।
इससे पहले आज विभिन्न ईदगाहों और मस्जिदों में सुबह से ही नमाजियों का आना शुरु हो गया। नजाम अदा करने के बाद मुस्लिम भाईयों, बच्चों व बुजुर्गाें ने एक-दूसरे को बधाईयां दी। दिन भर एक-दूसरे के घर जाकर ईद की बधाई देने का सिलसिला जारी रहा। राजधानी के डोरंडा ईदगाह में ईद के मौके पर हजारों नमाजियों ने नमाज अदा की और इस दौरान उन्होंने पूरे जहां में अल्लाह से शांति की दुआ की, सब पर रहमत बरसें,इसकी कामना की।
ईद को लेकर राजधानी में पुलिस-प्रशासन की ओर से विशेष इंतजाम किये गये थे। मस्जिदों व ईदगाहों के बाहर नमाजियों की उमड़ने वाली भीड़ को लेकर कई क्षेत्रों में सुबह में प्रशासन द्वारा यातायात व्यवस्था भी परिवर्त्तन किये गये थे। वहीं ईदगाहों में पुलिस अधिकारियों के नेतृत्व में बड़ी संख्या में पुलिस बलों की भी तैनाती की गयी थी।
राजधानी रांची के अलावा राज्य भर के विभिन्न जिलों में भी ईद का त्योहार धूमधाम से मनाया गया। जमशेदपुर, हजारीबाग,धनबाद, बोकारो, गिरिडीह, कोडरमा, चतरा, लोहरदगा, पलामू,लातेहार, गढ़वा समेत विभिन्न जिलों में हर्षाेल्लास यह पर्व मनाये जाने की खबर है

आजसू विधायक बिजली को लेकर आमरण अनशन पर बैठे

आज भी राज्य की अधिकांश आबादी ढ़िबरी युग में- उमाकांत
रांची,29जुलाई। आजसू पार्टी के प्रधान महासचिव सह विधायक उमाकांत रजक चंदनक्यारी विधानसभा क्षेत्र तथा राज्य में बिजली के लचर व्यवस्था को लेकर आज से अपने विधानसभा क्षेत्र चंदनक्यारी में अनिश्चितकालीन अनशण पर हैं।
चन्दनकियारी विधानसभा के गांवों के विद्य्नुतीकरण के लिए टेन्डर होने के बाद भी काम चालू नहीं होना, जला ट्रान्सफॉर्मर बदला नहीं जाना, विधानसभा क्षेत्र में दो सब स्टेशन,जर्जर पोल और तारों को नहीं बदलना और सड़क-तालाबों के उपर से गुजरने वाले तारों के नीचे जाली लगाने की मांग को लेकर उमाकांत रजक आज से आमरण अनशन पर बैठ गये है। उमाकांत रजक ने बताया कि सामूहिक ध्यानाकर्षण के लिए आजसू पार्टी ने 16 जून भी को सभी जिला मुख्यालयों पर जुझारु प्रदर्शन कर अपनी मांगी रखी थी। लेकिन एक माह से अधिक समय गुजरने के बाद विद्य्नुत विभाग की शिथिलता के कारण अनशन पर बैठने को बाध्य होना पड़ा।
उमाकांत रजक ने आज अनशन के क्रम में बिजली की स्थिति बयां करते हुए कहा कि लगभग राज्य में 40 साल से अधिक पूराने ट्रांसमिशन लाईन पर निर्भर है। लगभग 9500 ट्रांसफर्मर की कमी है। अभी वर्त्तमान में लगभग 400 ट्रांसफर्मर जले हुए हैं। राज्य में 236 पावर स्टेशन को अपग्रेड करने की आवश्यकता है। इनके अपग्रेड नहीं होने से लो वोल्टेज की समस्या बनी रहती है।उन्होंने कहा कि राज्य के सभी ट्रांसफार्मरों की की स्थिति दयनीय है। विभाग के पास लगभग 5000 कर्मचारियों की कमी है। राज्य में प्रचुर खनिज सम्पदा होने के बावजूद 520 मेगावाट बिजली का ही उत्पादन होता है। उन्होंने कहा कि ये बात समझ से परे है कि पीजीसीआईएल झारखण्ड में काम छोड कर क्यों चली गई? आज भी राज्य की अधिकांश आबादी ढ़िबरी युग में रहने को बाध्य है। यहां के कोयले से दूसरे राज्य रौशन होते हैं। बिजली व्यवस्था ध्वस्त है। उन्होंने कहा कि जनता बेहाल है और सरकार मदमस्त। सरकार नींद से जागे, नहीं तो जनता जगाने में सक्षम है।

आजसू विधायकों की एकजुटता को कोई दरका नहीं सकताःकमल किशोर भगत

रांची,29जुलाई।आजसू पार्टी विधायक कमल किशोर भगत ने चुनौति भरे लहजे में कहा कि कोई दल इस भ्रम में न रहे कि आजसू विधायकों की एकजुटता को कोई दरका सकता है। हमने खून-पसीने से आजसू को सिंचा है और तमाम विरोधी ताकतो से टकराने के लिए भी तैयार है। विधानसभा चुनाव पार्टी पूरी मजबूती से लड़ेगी और सबसे बेहतर परिणाम देगी। अलग राज्य आंदोलन के उद्देश्य य को पूरा करने का काम पार्टी करेगी। उन्होंने कहा कि आजसू पार्टी झारखण्ड के नवनिर्माण के लिए संघर्ष और तेज करेगी। राज्य को एक स ाक्त नेतृत्व की जरुरत है।
कमल किशोर भगत ने कहा कि झारखण्ड ’चिराग तले अंधेरा’ के कहावत को चरितार्थ करता है। राज्य के लगभग 2 लाख हेक्टेयर भूमि पर सीआईएल का कब्जा हैै। झारखण्ड के इतने बडे भूखण्ड पर कोयले का खनन कर यह कम्पनी भारत के सबसे धनी लोक उपक्रमों में शूमार हो रही है। लेकिन जिस धरती के सीने को चीर कर यह धन निकाल रही है, समृद्ध हो रही है, उसके पदाधिकारी गण विशेष विमान से उडाने भर रहें हैं, पांच सितारे होटलों में पाटिंयां आयोजित कर रहें है, उस क्षेत्र की आम आबादी भूख, गरीबी, कुपोषण का मार झेल रही है।उन्होंने झारखंड के भाग्य की विडम्बना है कि यहां एक ओर धरती के सीने से निकली खनिज-धन से बडे शहरों में विलासिता नंगी होकर नाचती है, वही दूसरी ओर इस क्षेत्र के धरती पुत्र एवं मूलवासी के बीच गरीबी का तांडव नृत्य हो रहा है। यह एक अनैतिक स्थिति है। यह एक शर्मनाक परिस्थिति है। यह एक ऐतिहासिक अपराध है। यह जुल्म है।
उन्होंने कहा कि आखिर क्यों हमारे भाई-बहन रोजगार की तलाश में पलायन कर अन्य राज्यों में अपमान जनक जीवन जी रहें हैं? और हमारे राज्य में विधुत एवं सड़क निर्माण के क्षेत्र्ा में भारी निवेश कर रोजगार के अवसरों का श्रृजन नहीं किया जा रहा है? आखिर क्यों विद्य्नालयों एवं अस्पतालों के निर्माण के लिए अतिरिक्त धनराशि हमें उपलब्ध नही कराई जा रही है? इन सवालो का जवाब सरकार को देना होगा और इन्ही सवालों के जवाब के लिए हमारी पार्टी विशेष राज्य की लडाई लड़ रही है और इस लड़ाई को पार्टी अंजाम तक पहुंचाकर ही दम लेगी।

ईडी ने एनोस एक्का की संपत्ति जब्त की

रांची,28जुलाई। वर्तन निदेशालय (ईडी) ने आज पूर्व मंत्री एनोस एक्का की करीब 100 करोड रुपए की संपत्ति कुर्क कर ली. आय से अधिक संपत्ति की एक शिकायत पर आधारित धनशोधन मामले की जांच के सिलसिले में एक्का की संपत्ति कुर्क की गई है. एक्का पिछले तीन साल से ईडी की जांच के दायरे में हैं. कोडा और उनके कैबिनेट सहकर्मियों के खिलाफ विभिन्न एजेंसियों द्वारा जांच शुरु किए जाने के बाद एक्का ईडी की तफ्तीश के घेरे में आए थे.
ईडी सूत्रों ने बताया कि एजेंसी ने नई दिल्ली में बताया कि दिल्ली स्थित एक फार्म हाउस की संपत्ति कुर्क की। बताया जाता है कि दिल्ली के हौजखास इलाके में यह फार्म हाउस एक्का ने खरीदा था। इसके अलावा, वसंत विहार में एक इमारत की फ्लोर, गुडगांव के सुशांत लोक इलाके में एक संपत्ति और रांची में एक फ्लैट कुर्क किया गया. ईडी के आदेश में कहा गया है कि धनशोधन रोकथाम कानून (पीएमएलए) के प्रावधानों के तहत जब्त संपत्तियों का अनुमानित मूल्य सालों पहले हुई खरीद के समय 3.66 करोड रुपए से ज्यादा रहा होगा पर अब एजेंसी ने इन संपत्तियों का बाजार मूल्य 100 करोड रुपए आंका है. एजेंसी ने इसी मामले में पहले एक्का और उनके सहयोगियों की आठ करोड रुपए की संपत्ति कुर्क की थी.
पहले सीबीआई ने एक्का, उनकी पत्नी और अन्य पर आय से 17 करोड रुपए अधिक की संपत्ति रखने का आरोप लगाया था. जांच एजेंसी का आरोप था कि एक्का ने 2006 और 2008 के बीच कोडा सरकार में मंत्री रहते हुए कथित तौर पर यह संपत्ति अर्जित की. इस बीच, ईडी ने झारखंड के चाईबासा के एक लौह अयस्क निर्यातक के खिलाफ धनशोधन का मामला दर्ज किया है. जिस व्यापारी के खिलाफ यह मामला दर्ज किया गया है वह आयकर विभाग सहित विभिन्न जांच एजेंसियों की तफ्तीश के दायरे में रहा है. आयकर विभाग ने 2012 में उसके ठिकानों पर छापेमारी भी की थी. एक अलग मामले में एजेंसी ने उत्तर प्रदेश श्रम एवं निर्माण सहकारी संघ लिमिटेड (लैकफेड) घोटाले के सिलसिले में आज संस्था के तत्कालीन अध्यक्ष सुशील के कटियार के नाम से 8.55 करोड रुपए से ज्यादा की संपत्ति जब्त की.

चांद दिखा,ईद आज

रांची,28जुलाई। एदार-ए-शरिया ने आज ईद के चांद को देखे जाने की घोषणा की। चंाद देखे जाने के साथ ही कल राज्यभर में ईद मनायी जाएगी।
राज्यपाल डॉ. सैयद अहमद ने ईद के मौके पर राज्यवासियों को हार्दिक शुभकामनाएं दी है। ईद का चांद देखे जाने के साथ ही मुस्लिम धर्मावलंबियों में खुशी का माहौल है। ईद को लेकर आज देर रात तक बाजार में रौनक देखी गयी।

पूर्व विधायक राधाकृष्ण व रामचंद्र भाजपा में होंगे शामिल

झाविमो में रहे अमित महतो, आईपीएस नंदू प्रसाद व मनोज मिश्रा भी भाजपा दामन थामेंगे
रांची,28जुलाई। झारखंड विधानसभा चुनाव की तिथि नजदीक आने के साथ ही विभिन्न दलों के नेताओं और सेवानिवृत्त अधिकारियों तथा सामाजिक कार्यकर्त्ताओं के भाजपा में शामिल होने का सिलसिला शुरु हो चुका है।
पार्टी सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार राजद के पूर्व विधायक रामचंद्र चंद्रवंशी और पूर्व मंत्री व कांग्रेस नेता राधाकृष्ण किशोर मंगलवार को औपचारिक रुप से भाजपा में शामिल हो जाएंगे। वहीं झाविमो के वरिष्ठ नेता रहे अमित महतो, सेवानिवृत्त आईपीएस नंदू प्रसाद और मनोज मिश्रा भी भाजपा का दामन थामेंगे। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार प्रदेश भाजपा कार्यालय में आयोजित एक सादे समारोह में ये नेता भाजपा की सदस्यता ग्रहण करेंगे। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. रवींद्र कुमार राय इन नेताओं को सदस्यता दिलांगे। इस मौके पर बड़ी संख्या में कांग्रेस,राजद, झाविमो समेत विभिन्न दलों के नेता-कार्यकर्त्ता भी भाजपा में शामिल होंगे।
गौरतलब है कि राधाकृष्ण किशोर ने पूर्व में ही कांग्रेस पार्टी छोड़ने का ऐलान कर दिया था, जबकि रामचंद्र चंद्रवंशी के संबंध में भी कयास लगाया जा रहा था कि वे भाजपा में शामिल हो जाएंगे। इसके अलावा भी विभिन्न दलों के कई नेताओं-कार्यकर्त्ताओं के भाजपा में शामिल होने की चर्चा है।

कोल्हान की सभी 14सीटों पर चुनाव लड़ेंगे

रांची,28जुलाई। जय भारत समानता पार्टी ने झारखंड के कोल्हान प्रमंडल की सभी चौदह सीटों पर चुनाव लड़ने की घोषणा की। पार्टी विधायक गीता कोड़ा ने इस आशय की घोषणा की। उन्होंने कहा कि समान विचार वाली पार्टियों के साथ गंठबंधन का विकल्प खुला हुआ है। वह आज जमशेदपुर में पत्रकारों को संबोधित कर रही थीं।

स्पीकर ने मॉनसून सत्र को लेकर बैठक बुलाई

मानसून सत्र में सीएम के विभागों का जवाब राजेंद्र प्रसाद सिंह देंगे
रांची,28जुलाई। विधानसभा अध्यक्ष शशांक शेखर भोक्ता ने गुरुवार को राजनीतिक पार्टियों की बैठक बुलायी है। बैठक में मानसून सत्र को सुचारु रुप से चलाने को लेकर स्पीकर सत्तापक्ष और विपक्षी दलों के साथ बैठक करेंगे। बैठक में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन, संसदीय कार्यमंत्री राजेंद्र प्रसाद सिंह व नेता प्रतिपक्ष अर्जुन मुंडा समेत सभी दलों के विधायक दल के नेताओं को बुलाया गया है।
इधर, 1 अगस्त से शुरु हो रहे मानसून सत्र को लेकर मुख्यमंत्री के प्रभाराधीन विभागों से संबंधित प्रश्नों, ध्यानाकर्षणों, निवेदनों, याचिका विधेयक, संकल्प आदि सभी सूचनाओं का उत्तर देने के लिए संसदीय कार्यमंत्री राजेंद्र प्रसाद सिंह को प्राधिकृत किया गया है। यह अधिसूचना मंत्रिमंडल सचिवालय एवं समन्वय विभाग द्वारा जारी की गयी।

डायरिया नियंत्रण व स्तनपान पखवाड़ा की शुरुआत

1रांची,28जुलाई। राज्य भर में आज से डायरिया नियंत्रण और स्तनपान पखवाड़ा की शुरुआत हो गयी। स्वास्थ्य मंत्री राजेंद्र प्रसाद सिंह आज रांची के राजकीय औषधालय में डायरिया नियंत्र्ाण पखवाड़ा का विधिवत उद्घाटन किया।
स्वास्थ्य मंत्री ने उदघाटन समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि राज्य में गर्भवती महिलाओं को प्रसव के बाद पौष्टिक भोजन की व्यवस्था की जाएगी। इसके लिए वे केंद्र सरकार व मुख्यमंत्री से बातचीत करेंगे। उन्होंने इस बात पर प्रसन्नता जतायी कि राज्य में शिशु मृत्यु दर में कमी आयी है। उन्होंने घोषणा की कि जिले की बेस्ट सहिया को स्कूटी दिया जाएगा और 10 हजार सहिया बहनों को साईकिल दी जाएगी।
स्वास्थ्य विभाग, समाज कल्याण विभाग और यूनिसेफ की ओर से संयुक्त रुप से चलाये जा रहे इस पखवाड़े में लोगों को साफ-सफाई बरतने के साथ स्वच्छ पानी का उपयोग करने की जानकारी दी जायेगी। इस मौके पर एनआरएचएम के अभियान निदेशक आशीष सिंहमार, यूनिसेफ के राज्य प्रतिनिधि जॉब जकारिया, निदेशक डॉ. बीएस प्रसाद, डॉ. अजीत प्रसाद, रांची के सिविल सर्जन गोपाल प्रसाद समेत अन्य गणमान्य लोग उपस्थित थे।

सावन की तीसरी सोमवारी शिवालयों में उमड़ी भीड़

रांची,28जुलाई। सावन की तीसरी सोमवारी को रांची समेत राज्य भर के शिवालयों में जलाभिषेक के लिए भक्तों की भारी भीड़ उमड़ी।
रांची के पहाड़ी मंदिर में भी जलार्पण के लिए अहले सुबह से भक्तों की भीड़ उमड़नी शुरु हो गयी। भीड़ को देखते हुए जिला प्रशासन ने महिलाओं और पुरुषों के लिए अलग-अलग कतार की व्यवस्था की थी। पहाड़ी मंदिर विकास समिति की ओर से महाआरती और भव्य शृंगार में कई गणमान्य श्रद्धालुओं ने हिस्सा लिया। इससे पहले छप्पन भोग व 1151 लड्डू का भेग लगाया गया और इसका वितरण किया गया। शहर के अन्य शिव मंदिरों में भी भगवान शिव की पूजा-अर्चना के लिए भीड़ देखी गयी।
देवघर स्थित बाबाधाम में सोमवारी पर पूजा अर्चना के लिए कल रात से ही 13किलोमीटर लंबी लाइन लगी हुई थी। महिलाएं भी बड़ी संख्या में जलार्पण के लिए कतार में लगी हुई हैं। दोपहर तक करीब एक लाख श्रद्धालुओं द्वारा जलाभिषेक किया जा चुका है, वहीं खूंटी के आम्रेश्वर धाम में भी देर रात से जलाभिषेक के लिए भक्त उमड़ने लगे थे और आज दोपहर तक हजारों श्रद्धालुओं ने जलाभिषेक में हिस्सा लिया। दुमका स्थित बाबा बासुकीनाथ मंदिर में भी शिव भक्तों की लंबी कतार देखी गयी।
सावन की सोमवारी का विशेष धार्मिक महत्व बतलाया गया है। ऐसी मान्यता है कि आज भोलेनाथ को गंगाजल अर्पित कर पूजा करने से मनोवांछित फल की प्राप्त होती है। आरोग्य, धनधान्य और सुख समृद्धि की प्राप्ति के लिए भक्त बड़ी संख्या में सोमवारी का वर्त रखते है।

Powered by Horizon Softech