|   एक जैसी फंडिंग सिस्टम लागू करना पिछड़े राज्यों के हित में नहींःरघुवर दास   | |   मैट्रिक व इंटर विज्ञान-वाणिज्य का परीक्षाफल जारी   | |   निजी स्कूलों की मनमानी के खिलाफ बंद का मिलाजुला असर   | |   सरलीकरण व पारदर्शिता से अवैध उत्खनन पर अंकुश लगेगाःसीएम   | |   एकाउंटेंट का पानी कनेक्शन काटने का आदेश   |

एक जैसी फंडिंग सिस्टम लागू करना पिछड़े राज्यों के हित में नहींःरघुवर दास

सीएम ने नीति आयोग में सुझाव रखा
रांची,27अप्रैल। मुख्यमंत्री रघुवर दास ने आज दिल्ली मंे आयोजित नीति1 आयोग की बैठक में राज्य का पक्ष रखते हुए कहा कि 24 योजनाओं में केन्द्र एवं राज्य सरकारों की हिस्सेदारी में संशोधन प्रस्तावित है। इस बिन्दु पर हमारा सुझाव है कि सभी राज्यों के लिए एक जैसी फंडिंग सिस्टम लागू करना पिछड़े राज्यों के हित में नहीं होगा। शुरु से ही परिपाटी रही है कि पिछड़े राज्यों में जहां आबादी का ज्यादा प्रतिशत गरीबी रेखा से नीचे है के लिए विशेष प्रावधान किया जा रहा है। उसी के अनुरुप झारखंड जैसे राज्यों के लिए 75ः25 का अनुपात रखना उपयुक्त होगा।
उन्होंने फंडिंग सिस्टम पर अपना दूसरा सुझाव रखते हुए कहा कि वैसी योजनाएं जिनका सीधा संबंध शिक्षा,स्वास्थ्य,कुपोषण इत्यादि जो मानव विकास से जुड़े हैं या राष्ट्रीय प्राथमिकता है,जैसे कि स्वच्छ भारत मिशन,में केन्द्र सरकार की हिस्सेदारी कम से कम 75 प्रतिशत रखी जाय। इससे कम केन्द्र सरकार की हिस्सेदारी होने पर राज्य के गरीबों के विकास पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ेगा।
श्री दास ने कहा कि बारहो मास विकास की प्रगति निर्बाध चलती रहे,के इसके लिए आवश्यक है कि केन्द्र सरकार से राशि की विमुक्ति की प्रक्रिया को सरल एवं आसान बनाया जाय। विशेषकर केन्द्रांश का 50 प्रतिशत साल के प्रारंभ में ही बिना श्शर्त विमुक्त कर दिया जाय। हमने अपने राज्य में राज्यांश के लिए ऐसी व्यवस्था लागू कर दी है। राज्यांश का 50 प्रतिशत ऐसी सभी योजनाओं के लिए मुक्त कर दिया है। केन्द्रांश की द्वितीय किस्त अक्टूबर माह में विमुक्त कर दिया जाय तथा इसके लिए पूर्व के वित्तीय वर्ष की उपयोगिता प्रमाण-पत्र के अलावा और कोई शर्त नहीं रखी जाय।
बैठक में मुख्यमंत्री ने कहा कि 8 योजनाओं को केन्द्रीय सहायता से कर दिया गया है। इनमें से कई योजनायें झारखण्ड जैसी पिछड़े एवं उग्रवाद प्रभावित राज्य के लिए अहम है जैस बीआरजीएफ जो राज्य के 24 में से 23 जिले में चलाया जा रहा है। इसे चालू रखना हमारी बाध्यता है। उसी प्रकार पुलिस का आधुनिकीकरण तथा नेशनल ई-गर्वनेंस प्लान इन योजनाओं को राज्य अपने स्त्रोतों से चलाएगा जिस पर लगभग 850 करोड़ रुपये का सालाना भार राज्य पर पडे़गा। पहला विकल्प होगा कि इन योजनाओं को पूर्ववत जारी रखा जाय या झारखण्ड जैसे राज्य के लिए विशेष प्रावधान किया जाय।

मैट्रिक व इंटर विज्ञान-वाणिज्य का परीक्षाफल जारी

मैट्रिक में 71.20 और इंटर विज्ञान में 63.88 व वाणिज्य में 73.99 प्रतिशत परीक्षार्थी सफल
3रांची,27अप्रैल। विधानसभा अध्यक्ष डॉ. दिनेश उरांव और मानव संसाधन विकास मंत्री नीरा यादव ने झारखंड अधिविद्य्न परिषद(जैक) द्वारा संचालिक मैट्रिक और इंटर विज्ञान तथा वाणिज्य का परीक्षाफल आज जारी कर दिया।
जैक द्वारा आयोजित मैट्रिक परीक्षा मंे जहां 71.20प्रतिशत परीक्षार्थी सफल घोषित हुए, वहीं इंटर इंटर में 63.88 प्रतिशत और इंटर वाणिज्य में 73.99 प्रतिशत परीक्षार्थी सफल रहे। मैट्रिक परीक्षा में जहां छात्रों ने बाजी मारी,वहीं इंटर विज्ञान एवं वाणिज्य संकाय में छात्राओं ने छात्रों को पीछे छोड़ दिया।
मैट्रिक 2015 परीक्षा में कुल 455829 परीक्षार्थी परीक्षा में सम्मिलित हुए थे, जिसमें से 324580 परीक्षार्थी सफल रहे। इस परीक्षा में 229616 छात्रों में 169716 छात्र और 226213 छात्राओं में 154864 छात्राएं उत्तीर्ण रही। सफल रहने वाले छात्रों का प्रतिशत 73.91 रहा, जबकि सफल छात्राओं का प्रतिशत 68.46 प्रतिशत छात्राएं सफल रही। सामान्य जाति के 77.86 प्रतिशत परीक्षार्थी सफल रहे,जबकि अनुसूचित जाति के 63.86, अनुसूचित जनजाति के 65.30 और अन्य पिछड़ी जाति के 74.54 प्रतिशत परीक्षार्थी सफल हुए। पिछले दो वर्षां की तुलना में इस वर्ष सफल होने वाले परीक्षार्थियों का प्रतिशत कम रहा। वर्ष 2013 में 73.15 प्रतिशत और वर्ष 2014 में 75.30प्रतिशत परीक्षार्थी सफल रहे थ। मैट्रिक में सबसे चतरा जिला ने बाजी मारी, यहां 82.72 प्रतिशत परीक्षार्थी सफल हुए, जबकि सबसे फिसड्डी गढ़वा रहा, जहां मात्र 53.10 प्रतिशत परीक्षार्थी सफल हुए। रांची तीसरे स्थान (77.70) प्रतिशत, देवघर छठे नंबर 73.20, पूर्वी सिंहभूम आठवें नंबर (72.50) और धनबाद 13वें नंबर (70.83) रहा।
इंटर विज्ञान संकाय में 79385 परीक्षार्थी परीक्षा में सफल रहे थे, जिसमें से 15722 ने प्रथम श्रेणी में 31802 ने द्वितीय श्रेणी और 3180 तृतीय श्रेणी और 14 परीक्षार्थी पास घोषित किये। इस तरह कुल 50718 परीक्षार्थी सफल रहे। वाणिज्य संकाय में 49072 परीक्षार्थी परीक्षा में सम्मिलित हुए, जिसमें 6578 प्रथम, 25106 द्वितीय और 4625 तृतीय श्रेणी में सफल रहे और इस तरह कुल 36309 परीक्षार्थी सफल रहे। इंटर विज्ञान में सफल रहने वाली छात्राओं का प्रतिशत 65.84 रहा, जबकि सफल छात्रों का प्रतिशत 63.20 रहा। वहीं वाणिज्य संकाय में 81.80 प्रतिशत छात्राएं और 69.49 प्रतिशत छात्र सफल रहे। इंटर विज्ञान और वाणिज्य संकाय में भी चतरा जिला ही अव्वल रहा।

निजी स्कूलों की मनमानी के खिलाफ बंद का मिलाजुला असर

रांची,27फरवरी।फेडरेशन ऑफ झारखंड अभिभावक संघ ने निजी विद्य्नालयों की मनमानी के खिलाफ आज राज्यभर में छह घंटे का बंद बुलाया। राजधानी रांची में बंद के दौरान कोकर चौक, कांटाटोली चौक, बूटी मोड, हरमू रोड, किशोरगंज सहित कई इलाकों में कार्यकर्ताओं द्वारा जाम रखा गया। कार्यकर्ताओं ने सुबह बच्चों को लाने जा रही बसों को किशोरगंज और कोकर में रोक दिया। इधर कार्यकर्ताओं के एक दल ने जिला स्क ूल से रतन सिनेमा तक रैली निकाली जो बाद में फिरायालाल चौक पर समाप्त हुई। इस दौरान पुलिस ने पचीस बंद समर्थकों को गिरफ्तार किया जिन्हें बाद में छोड़ दिया गया। मेन रोड की ज्यादातर दुकानें दिन के बारह बजे तक बंद देखी गयीं।
संघ ने निजी स्कूलों की मनमानी के खिलाफ सुबह छह से दोपहर 12 बजे तक बंद का आहवान किया गया था। सुबह से ही बंद समर्थक सड़क पर उतर गए थे। कोकर चौक, कांटाटोली चौक, बूटी मोड़, हरमू रोड और किशोरगंज के पास समर्थकों ने सड़क जाम रखा। फिरायालाल से 25 बंद समर्थकों ने अपनी गिरफ्तारी पुलिस को दी। सभी को गिरफ्तार कर कोतवाली थाना लाया गया। इसके बाद 12 बजे उन्हें छोड़ दिया गया। फिरायालाल चौक के समीप बंद समर्थकों ने कोई उत्पात नहीं मचाया। सभी एक साथ जिला स्कूल से रैली निकाल कर रतन हॉल तक गए और वहां से वापस फिरायालाल चौक पहुंचकर अपनी गिरफ्तारी दी। दोपहर 12 बजे तक मेन रोड की अधिकतर दुकानें बंद रही।
उधर हजारीबाग में बंद का व्यापक असर देखा गया। राष्ट्रीय उच्च पथ संख्या 33 और 100 पर अभिभावकों ने जाम लगा दिया। बंद के कारण निजी विद्य्नालयों में उपस्थिति कम रही।उपायुक्त के आश्वासन के बाद जाम हटा लिया गया। ।

सरलीकरण व पारदर्शिता से अवैध उत्खनन पर अंकुश लगेगाःसीएम

रांची,27अप्रैल। मुख्यमंत्री रघुवर दास ने राज्य में हो रहे अवैध खनन की रोक थाम के लिए खान एवं भूतत्व विभाग को राज्य में खनन प्रक्रियायों के सरलीकरण एवं पारदर्शिता के लिए झारखंड इंटीग्रेटेड माइन्स एंड मिनरल्स मैनेजमेंट सिस्टम को विकसित करने का आदेश दिया तथा कहा कि सूचना पर आधारित इस व्यवस्था को लागू करने से खनन प्रक्रिया पर निगरानी रखना सरल हो जायेगा साथ ही राजस्व संग्रहण में सुविधा तथा अवैध खनन पर रोक लगाना आसान होगा। उन्होंने कहा कि इस सिस्टम के लागू करने से खनन पट्टेधारियों के द्वारा सभी सूचनाओं को कम्प्युटीकृत किया जा सकेगा तथा खनन से संबंधित सभी सूचनाओं को कम्प्युटरीकृत करने के उपरांत खनन पट्टेधारीगण इ-परमिट एवं ई-परिवहन चालान का उपयोग कर सकेंगें तथा परिवहन में होने वाली गड़बड़ी को भी इस सिस्टम से रोकने में आसानी होगी।

एकाउंटेंट का पानी कनेक्शन काटने का आदेश

मंत्री ने इंजीनियरों को लगायी फटकार
रांची,27अप्रैल। राज्य के पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री चन्द्र प्रकाश चौधरी ने आज नेपाल हाउस सचिवालय में विभागीय योजनाओं का हाल जानने के उद्देश्य से सभी अधीक्षण अभियंता के साथ लंबी समीक्षा बैठक की। इसमें मंत्री ने योजनाओं का हाल जानने के क्रम में विभागीय कर्मियों के असहयोगात्मक रवैये को भी जाना। अधीक्षण अभियंताओं ने उच्चाधिकारियों के सामने ही अपनी विवशता का जहॉ रोना रोया वहीं कर्मियों का सहयोग नहीं मिलने का भी दुख सुनाया। हजारीबाग के अधीक्षण अभियंता ने जब यह बताया कि एकाउंटंेट कार्यपालक अभियंता को सहयोग नहीं करते हैं। एकाउंटेंट नियंत्र्ाण से बाहर हो चुका है। इसपर मंत्री ने एकाउंटेंट के आवास का पानी कनेक्शन काटने का फरमान सुनाया। इस पर यह बताया गया कि एकाउंटेंट हजारीबाग में नहीं रहकर रांची में रहता है। तो मंत्री ने स्पष्ट रुप से कहा कि रांची में भी पानी का कनेक्शन काटा जाय। हजारीबाग एकाउंटेंट की कारस्तानी की बात सामने आने के बाद अन्य अधीक्षण अभियंताओं ने भी कमोवेश यही स्थिति का रोना रोया।

4 मई को बंद की तैयारी को लेकर बैठक

रांची,27अप्रैल। भूमि अधिग्रहण अध्यादेश और केंद्र सरकार की नीतियों के खिलाफ झाविमो समेत अन्य दलों द्वारा संयुक्त रुप से आहूत झारखंड बंद को लेकर तैयारियां शुरु कर दी गयी है।
झाविमो केंद्रीय कार्यालय में तैयारी को लेकर आहूत बैठक में झाविमो के प्रधान महासचिव प्रदीप यादव, जनाधिकार मंच के बंधु तिर्की, भाकपा के केडी सिंह, सीपीएम के सुखनाथ लोहरा, राजद के हाजी जुबैर भाई, जदयू के कृष्णा नंद मिश्र, सपा के मनोहर यादव, आरएसपी के राधाकांत झा, मासस के सुशांतो मुखर्जी, सामाजिक कार्यकर्त्ता दयामनी बारला, फैसला अनुराग, एसयूसीआई के सीधेश्वर सिंह, झामुमो के श्रीधर महतो, बालू घाट एसोसिएशन के अध्यक्ष दिलीप साहू ने बैठक को संबोधित किया।
बैठक में सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि 4 मई को ऐतिहासिक झारखंछ बंद के लिए आम जनता से आग्रह किया जाएगा, इसके लिए 2 व 3 मई को प्रचार वाहन से प्रचार किये जाएंगे और बंद के समर्थन में विभिन्न स्थानों पर नुक्कड़ सभाएं की जाएगी। वहीं 3 मई की शाम को मशाल जुलूस निकाला जाएगा। इसके अलावा 4 मई को रांची महानगर के चारों तरफ अलग-अलग स्थानों पर भारी संख्या में सभी दल के नेता एवं कार्यकर्त्ता सुबह 7 बजे से ही बंद के समर्थन में उतरेंगे।

इंद्रधनुष की सफल क्रियान्वयन को लेकर बैठक

4
रांची,27अप्रैल। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के अंतर्गत राज्य टॉस्क फोर्स की बैठक का आयोजन आज आरसीएच सभागार नामकुमर में किया गया। इस बैठक की अध्यक्षता विभाग के प्रधान सचिव के.विद्य्नासागर के द्वारा किया गया। बैठक में निदेशक डॉ. सुमंत मिश्रा ने भी इस बैठक में भाग लिया। इस बैठक में मिशन इंद्रधनुष्ज्ञ की सफल क्रियान्वयन को लेकर चर्चा गयी। मिशन इंद्रधनुष सार्वभौमिक टीकाकरण कार्यक्रम के अंतर्गत छूटे हुए बच्चों को टीका लगाने पर चर्चा हुई। मिशन इंद्रधनुष का उद्देश्य दूर-दराज के क्षेत्रों में रहने वाले गरीब तबके के परिवारों के बच्चों एवं गर्भवती महिलाओं को टीकाकरण का लाभ तथा टीकों से बचाव की जानकारी, बीमारियों की रोकथाम के बारे में बताया गया। मिशन इंद्रधनुष का पहला चक्र 7 अप्रैल को संपन्न हुआ। दूसरा चक्र 7 मई को आयोजित किया जाएगा। अब तक इस मिशन के तहत कुल 61914 बच्चों को टीका लगाया और 15215 गर्भवती माताओं का टीकाकरण किया गया।
के.विद्य्नासागर द्वारा निर्देश दिया गया है कि प्रथम चक्र में जो कमियां रह गयी थी,दूसरे चरण में इन कमियों को दूर किया जाएगा। प्रचार-प्रसार, जागरुकता के कार्यक्रमों में तीव्रता लाने का निर्देश दिया।

भैरवा जलाशय योजना को लेकर की समीक्षा बैठक

भू-अर्जन एवं पुर्नवास की समस्या का शीघ्र समाधान का दिया निर्देश
2रांची 27 अप्रैल। जल संसाधन, मंत्री चन्द्र प्रकाश चौधरी ने भैरवा जलाशय योजना के निर्माण में आ रही कठिनाईयों को दूर करने की दिशा में आज नेपाल हाउस सचिवालय के सभागार में संबंधित जिले के पदाधिकारी, पुलिस पदाधिकारी व अभियंताओं के साथ बैठक की। इसमें मंत्री ने बारी बारी से योजना के क्रियान्वयन में कठिनाईयों को जानने के बाद भू-अर्जन एवं पुर्नवास की समस्या का समाधान शीघ्र करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि इस योजना के निर्माण में अबतक 93 करोड़ खर्च हो चुका है। इसके पूरा हो जाने से 12 हजार एकड़ भूमि में सिंचाई हो सकेगा। इसका लाभ खेती व किसान को प्राप्त होगा। उन्होंने कहा कि कुछ लोग बेवजह इस योजना को जमीन एवं भुगतान संबंधी विवाद उत्पन्न कर लटकाये रखने की मंशा रखे हुए हैं। इन सब बातों को भी ध्यान में रखने तथा लगातार मोनेटरिंग करते हुए इस योजना को हर हाल में पूरा किये जाने की आवश्यकता है। समीक्षा के दौरान बताया गया कि इस योजना से विस्थापित 206 परिवारो को पुर्नवास मुआवजा के रुप में 15 डीसमिल जमीन व मुआवजा राशि दे दी गई है। अन्य मुआवजा भी दिया जा चुका है। मात्र 14

निकाय चुनाव को लेकर भाजपा ने कमर कसी

कार्यकर्त्ताओं के साथ बैठक
रांची,27अप्रैल।झारखंड में आठ स्थानीय निकायों के लिए होने वाले चुनाव को लेकर भारतीय जनता पार्टी ने तैयारियां शुरु कर दी है।
पार्टी के प्रदेश महामंत्री बालमुकुंद सहाय ने कहा कि इस चुनाव की तैयारी और समीक्षा के लिए नगर-निगम, नगर पार्षद, नगर पंचायत स्तर पर वहां के प्रमुख कार्यकर्त्ताओं की बैठक आज से ही आरंभ हो गयी है। उन्होंने बताया कि बैठक का सिलसिला अगले दो दिनों तक जारी रहेगा।
बालमुकुंद सहाय ने बताया कि बैठक में प्रदेश पदाधिकारी भी मौजूद रहेंगे। धनबाद नगर निगम के लिए प्रदेश उपाध्यक्ष राकेश प्रसाद, मुख्यालय प्रभारी गामा सिंह, देवघर नगर-निगम के लिए उपाध्यक्ष दीपक प्रकाश, मंत्री प्रदीप कुमार वर्मा, चास नगर-निगम के लिए उपाध्यक्ष सीमा शर्मा, महामंत्री बालमुकुंद सहाय, बेरमो निकाय के लिए प्रदेश उपाध्यक्ष अनंत ओझा, किसान मोर्चा के अध्यक्ष ओम प्रकाश सिंह,कोडरमा नगर पंचायत तथा झुमरी तिलैया नगर पर्षद के लिए उपाध्यक्ष विरंची नारायण, अशोक भगत, मनोज कुमार सिंह, विश्रामपुर नगर पंचायत के लिए उपाध्यक्ष मंजू रानी, मंत्री शैलेंद्र सिंह और चक्रधरपुर नगर पंचायत के लिए प्रदेश अध्यक्ष अनुसूचित जनजाति मोर्चा समीर उरांव को जिम्मेवारी सौंपी गयी है।
पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता प्रेम मित्तल ने बताया कि बैठक में सांसद, विधायक समेत भाजपा जिला पदाधिकारी, पूर्व अध्यक्ष, नगर मंउल, संबंधित निकाय में रहने वाले प्रदेश कार्यसमिति के सदस्य हिस्सा ले सकेंगे।

सड़क हादसे में एक की मौत

एक अन्य घायल
रांची,27अप्रैल। झारखंड के देवघर के मोहनपुर थाना क्षेत्र के घोरमारा मोड़ के समीप दुमका से आ रहे एक ट्रक ने बाईक सवार को कुचल दिया। घटना में बाईक सवार बुरी तरह जख्मी हो गया। बाद में चिकित्सा के दौरान उसकी मृत्यु हो गयी। जबकि बाईक पर सवार दूसरा व्यक्ति मामूली रुप से जख्मी हुआ। घटना के बाद ट्रक चालक फरार हो गया। इस संबंध में मोहनपुर थाना में प्राथमिकी दर्ज की गयी है।

Powered by Horizon Softech